Thyroid : कम उम्र में भी युवतियों को घेर रहा है थाइराइड, शरीर में हो रहे इन बदलावों को पहचानें

Thyroid : आजकल अधिकतर युवतियों में थायराइड की समस्या देखी जा रही है, जिसके कुछ संकेत नजर आ सकते हैं। जैसे- शरीर में थकावट, अत्यधिक पसीना आना, अनियमित मासिक धर्म चक्र और बार बार भूख का अनुभव होना इत्यादि। ऐसे लक्षणों के नजर आने पर डॉक्टर से संपर्क करें।

Updated Nov 30, 2022 | 06:09 AM IST

Thyroid

ये लक्षण हो सकते हैं थाइरॉइड का संकेत ( प्रतीकात्मक तस्वीर)

मुख्य बातें
  • महिलाओं में देखे जाते हैं ये थायराइड के लक्षण
  • इन लक्षओं से पहचानें कहीं आपको भी तो थायराइड नहीं है
  • जानिए आखिर क्यों महिलाओं में अधिक होती है थायराइड की समस्या
Thyroid : थायराइड ग्लैंड विशेष ग्रंथियों में से एक है, जो उन हार्मोंस को ऑर्गनाइज करती है, जिनसे हड्डियों के विकास और मेटाबॉलिज्म को बेहतर बनाने में मदद मिलती है। वैज्ञानिकों के अनुसार, महिलाओं के पीरियड्स साइकिल में उतार-चढ़ाव और हार्मोन में असंतुलन बने रहना और थायराइड विकारों के लिए भी यह जिम्मेदार होते हैं। वहीं कुछ स्टडी से पता चलता है कि पुरुषों की तुलना में महिलाओं को थायराइड की समस्या जल्दी शिकार बना सकती है और इन अध्ययनों के मुताबिक, किसी भी उम्र की महिला में थायराइड की परेशानी होने का खतरा समान रूप से रहता है।
थायरॉइड के प्रकार-
हाइपरथायराइडिज्म - (Hyperthyroidism)
हाइपोथायराइडिज्म- ( Hypothyroidism)
हाइपरथायरॉइड के लक्षण
ज्यादातर थायराइड के लक्षण किशोर युवतियों में देखे जाने वाले लक्षणों के समान हैं। इनके अलावा भी कुछ लक्षण दिखाई दे सकते हैं, जिसमें ओव्यूलेशन के साथ भी समस्याएं हो सकती हैं और इसमें प्रेगनेंसी के दौरान अत्यधिक मॉर्निंग सिकनेस देखने को मिलती है। जिन महिलाओं को हाइपरथायरायडिज्म होता है। उनको गर्भावस्था के दौरान गंभीर मॉर्निंग सिकनेस हो सकती है। वहीं, जो महिलाएं हाइपरथायरायडिज्म का शिकार बनती हैं। उनमें ज्यादा पसीना आने के लक्षण नजर आ सकते हैं।
हाइपोथायरॉइड के लक्षण-
हाइपो थायराइड होने पर असामान्य मासिक धर्म चक्र, गर्भावस्था में दिक्कत, ड्राई स्किन, पुरानी कब्ज, अत्यधिक ठंड लगना, ज्यादा नींद महसूस होना, आलस और सुस्ती फील होना और बालों का झड़ना या पतला होना भी इसके लक्षणों में शामिल होता है। इसके साथ ही इनएक्टिव थायरॉयड ग्लैंड ओव्यूलेशन में अनियमितता और एमेनोरिया सहित स्तन से असामान्य दूध उत्पादन की वजह भी बन सकता है।
थायराइड के लेवल का असर आपके पूरे मेटाबॉलिज्म पर अधिक प्रभाव डालता है और आपकी वजन को कंट्रोल रखने में भी सहायता करता है। वैसे तो लोगों के वजन में उतार-चढ़ाव आता ही रहता है, लेकिन अगर अचानक वजन में बदलाव नजर आने लगे तो सबसे पहले थायराइड की जांच कराएं क्योंकि थायराइड हार्मोन के लेवल कम होने पर भी ऐसा हो सकता है। कुछ महिलाओं में थायराइड होने पर अत्यधिक थकान और सुस्ती महसूस होने लगती है।
डिस्क्लेमर: प्रस्तुत लेख में सुझाए गए टिप्स और सलाह केवल आम जानकारी के लिए हैं और इसे पेशेवर चिकित्सा सलाह के रूप में नहीं लिया जा सकता। किसी भी तरह का फिटनेस प्रोग्राम शुरू करने अथवा अपनी डाइट में किसी तरह का बदलाव करने से पहले अपने डॉक्टर से परामर्श जरूर लें।
देश और दुनिया की ताजा ख़बरें (Hindi News) अब हिंदी में पढ़ें | हेल्थ (health News) की खबरों के लिए जुड़े रहे Timesnowhindi.com से | आज की ताजा खबरों (Latest Hindi News) के लिए Subscribe करें टाइम्स नाउ नवभारत YouTube चैनल
लेटेस्ट न्यूज

चीन का 'जासूसी' गुब्बारा दिखने के बाद अमेरिकी विदेश मंत्री ने बीजिंग यात्रा की रद्द

टीम इंडिया के क्रिकेटर की पत्नी को मिली जान से मारने की धमकी! जानिए क्या है पूरा मामला

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व सहायक कोच एस श्रीराम ने कहा, इस खिलाड़ी की कंगारुओं को खलेगी कमी

IndiGo Flight: पटना के लिए इंडिगो फ्लाइट में चढ़ा था शख्स, प्लेन ने पहुंचा दिया उदयपुर

IndiGo Flight

Chandigarh: जेईई और नीट की तैयारी में विद्यार्थियों का मददगार बनेगा शिक्षा विभाग, मिलेंगे इतने रुपये

Chandigarh

Chandigarh: आयुष्मान योजना से लाभार्थियों को जोड़ने के लिए अनोखी पहल, लाउडस्पीकर बजाकर पंजीकरण के लिए जगाएगा विभाग

Chandigarh

गुरुग्राम: अच्छी खबर! अब गुरुग्राम से जयपुर का सफर होगा सुगम, एनएच का निर्माण शुरू, ये है पूरी डिटेल

ISL Final Date: आईएसएल फाइनल की तारीख का हुआ ऐलान

ISL Final Date
आर्टिकल की समाप्ति

© 2023 Bennett, Coleman & Company Limited