Gujarat चुनाव के लिए AAP का दांव? Punjab में मान सरकार का बड़ा फैसला, लागू होगी Old Pension Scheme

Old Pension Scheme in AAP led Punjab: पुरानी पेंशन योजना एक अप्रैल 2004 को बंद कर दी गई थी। उसके तहत सरकार पेंशन की पूरी राशि का भुगतान करती थी। करीब एक महीने पहले हुई कैबिनेट की बैठक में पंजाब सरकार ने अपने कर्मचारियों के लिए इस योजना को बहाल करने का फैसला किया था।

अभिषेक गुप्ता

Updated Nov 19, 2022 | 03:48 PM IST

bhagwant mann

पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान एक रेली के दौरान। (फाइल)

तस्वीर साभार : IANS
Old Pension Scheme in AAP led Punjab: पंजाब में मुख्यमंत्री भगवंत मान के नेतृत्व वाली आम आदमी पार्टी (आप) की सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। सीएम ने कहा है कि राज्य के मंत्रिमंडल ने 2004 में बंद की गई पुरानी पेंशन योजना के दोबारा कार्यान्वयन को मंजूरी दे दी। शुक्रवार (18 नवंबर, 2022) को मंत्रिमंडल की बैठक के बाद प्रेस वार्ता में मान से पुरानी पेंशन योजना के बारे में पूछा गया था। उन्होंने जवाब दिया, “मंत्रिमंडल ने पुरानी पेंशन योजना को मंजूरी दे दी है। विस्तृत जानकारी दी जाएगी। पुरानी पेंशन योजना से अनेक कर्मचारियों को फायदा होगा। अधिसूचना जारी कर दी गई है।”
आधिकारिक बयान में कहा गया है कि इस फैसले से 1.75 लाख से अधिक सरकारी कर्मचारियों को प्रत्यक्ष रूप से लाभ होगा। भविष्य में भी इस योजना को वित्तीय परेशानियों का सामना न करने पड़े, यह सुनिश्चित करने के लिए राज्य सरकार एक पेंशन कोष बनाने में सक्रिय रूप से योगदान देगी। इस कोष से पेंशनभोगियों को लाभ मिलता रहेगा। पेंशन कोष में शुरुआत में योगदान 1,000 करोड़ रुपये प्रति वर्ष होगा और धीरे-धीरे इसे बढ़ाया जाएगा।

पुरानी पेंशन योजना एक अप्रैल 2004 को बंद कर दी गई थी। उसके तहत सरकार पेंशन की पूरी राशि का भुगतान करती थी। करीब एक महीने पहले हुई कैबिनेट की बैठक में पंजाब सरकार ने अपने कर्मचारियों के लिए इस योजना को बहाल करने का फैसला किया था। पुरानी पेंशन योजना को दोबारा लागू करना कर्मचारियों की प्रमुख मांग थी। राज्य के वित्त मंत्री हरपाल सिंह चीमा ने पिछले महीने कहा था कि कर्मचारियों को पुरानी पेंशन योजना चुनने का विकल्प दिया जाएगा।
वैसे, आप की ओर से यह कदम तब उठाया गया है, जब गुजरात में विधानसभा चुनाव होने हैं। राजनीतिक जानकार और चुनावी पंडित इसे उसी सियासी चश्मे से देख रहे हैं, जिसके तहत आप पंजाब के रास्ते गुजरात के वोटर्स को साधने का प्रयास कर रही है। समझा जा सकता है कि यह आप का एक संदेश है कि अगर गुजरात में उसकी सरकार आती है तब वहां भी पुरानी पेंशन स्कीम की बहाली कर दी जाएगी। पंजाब से पहले राजस्थान, छत्तीसगढ़ और झारखंड भी पुरानी पेंशन योजना को वापस ले चुके हैं और उन्होंने इसके साथ ही नई पेंशन योजना को खत्म कर दिया था। (पीटाई-भाषा इनपुट्स के साथ)
लेटेस्ट न्यूज

PAK vs ENG 1st Test Live Streaming: जानिए कब और कहां देखें पाकिस्तान-इंग्लैंड पहले टेस्ट मैच का प्रसारण

PAK vs ENG 1st Test Live Streaming      -

होश उड़ा देंगे ये स्कूल बैग! बच्चों के बस्तों से मिले कंडोम, गर्भ निरोधक गोलियां और पानी की बोतलों में शराब भी

ऋषभ पंत या संजू सैमसन: कप्तान शिखर धवन ने दिया दो टूक जवाब

Hindi Samachar 30 November 2022: उधर गुजरात में कल पहले चरण का मतदान, इधर अर्थव्यवस्था को शॉक, गिरी GDP ग्रोथ रेट; पढ़ें, आज की बड़ी खबरें

Hindi Samachar 30 November 2022              GDP

विजय देवरकोंडा पर कसा ED का शिकंजा, Liger की फंडिंग को लेकर हुई एक्टर से पूछताछ

    ED   Liger

Aaj Ka Panchang, 01 December 2022: राहुकाल में न करें कोई शुभ कार्य, जान लें आज का पूरा पंचांग

Aaj Ka Panchang 01 December 2022

पहले काम फिर शादी...रस्मों के दौरान लैपटॉप पर बिजी था दूल्हा, फोटो वायरल

स्टार बल्लेबाज पर भड़के सांसद: शशि थरूर बोले- '66 का औसत लेकर भी ये खिलाड़ी बाहर क्यों'

       - 66
आर्टिकल की समाप्ति

© 2022 Bennett, Coleman & Company Limited