Aaj Ka Vichar In Hindi: छात्रों के लिए गजब के सुविचार, अध्यापक से लेकर प्रधानाचार्य सब हो उठेंगे आपके मुरीद

​​Aaj Ka Vichar In Hindi: यहां हम आपके लिए कुछ नामचीन हस्तियों के सुविचार लेकर आए हैं, प्रार्थना स्थल पर इसका उल्लेख करते ही स्टेडियम तालियों की गड़गड़ाहट से गूंज उठेगा। छात्र आपके लिए ताली बजाते नहीं थकेंगे, अध्यापक से लेकर प्रधानाचार्य तक सभी लोग कुर्सी से खड़े होकर ताली बजाने के लिए मजबूर हो जाएंगे।

टाइम्स नाउ नवभारत

Updated Nov 19, 2022 | 07:53 AM IST

Aaj ka Vichar In Hindi

आज का विचार, सविचार हिंदी में

Aaj Ka Vichar In Hindi: प्राइवेट स्कूलों की बात की जाए या सरकारी स्कूलों की, शिक्षा के प्रति बच्चों के उत्साह को बढ़ाने के लिए शैक्षणिक प्रणाली में कई तरह के बदलाव किए गए हैं। छात्रों को देश दुनिया की जानकारी व सामान्य ज्ञान (General Knowledge) के लिए रोजाना एसेंबली में न्यूज पेपर का वाचन किया (Aaj Ka Vichar For Students In Hindi) जाता है। वहीं छात्रों को मोटिवेट करने व लक्ष्य के प्रति उनके इरादों को मजबूत करने के लिए मोटिवेशनल कोट्स व आज का सुविचार स्टेज से बोला जाता है।
छात्र स्कूल में सुविचार बोलने के लिए काफी उत्साहित रहते हैं, इसके लिए वह अगले दिन सुबह स्कूल जाने से पहले बेहतरीन सुविचार के लिए गूगल पर सर्च (Aaj Ka Vichar for School Assembly) करते हैं। ऐसे में यहां हम आपके लिए कुछ नामचीन हस्तियों के सुविचार लेकर आए हैं, प्रार्थना स्थल पर इसका उल्लेख करते ही स्टेडियम तालियों के गड़गड़ाहट से गूंज उठेगा। छात्र आपके लिए ताली बजाते नहीं थकेंगे, अध्यापक से लेकर प्रधानाचार्य तक सभी लोग कुर्सी से खड़े होकर ताली बजाने के लिए मजबूर हो जाएंगे। आइए जानते हैं।
आधुनिकता कपड़ों से नहीं विचारों से आती है
- रवीन्द्रनाथ टैगोर
दो सबसे शक्तिशाली योद्धा धैर्य और समय हैं
- लियो टॉल्स्टॉय
पवित्रता, धैर्य और दृढ़ता ये तीनों सफलता के लिए आवश्यक हैं।
- स्वामी विवेकानंद
Aaj Ka Vichar For Students
सोच भले ही नई रखो, मगर संस्कार हमेशा पुराने होने चाहिए
- स्वामी विवेकानंद
जितना कठिन समय होगा, जीत उतनी ही शानदार होगी
- स्वामी विवेकानंद
उठो, जागो और तब तक नहीं रुको जब तक लक्ष्य प्राप्त ना हो जाए।
- स्वामी विवेकानंद
Aaj ka Vichar In Hindi Motivational
- शिक्षक वह व्यक्ति होता है
जो अज्ञानता के अंधेरे से
ज्ञान की रोशनी में छात्रों को लाता है।
- समय राजा से रंक बना सकता है, रंक से राजा बना सकता है।
-सफलता का कोई मंत्र नहीं है, यह तो सिर्फ परिश्रम का फल है।
करें इस कविता का उल्लेख, तालियों की गड़गड़ाहट से गूंज उठेगा सभागार....
इसके साथ आप किसी कविता का उल्लेख भी कर सकते हैं। बता दें जिस प्रकार खाने के साथ सलाद भोजन को कई गुना स्वादिष्ट बना देता है, ठीक उसी प्रकार यदि हम मंच से आज का विचार बोलने के साथ मोटिवेटिड कविता का उल्लेख करें, तो सभा में बैठे छात्र व अध्यापक आपकी तारीफ करते नहीं थकेंगे। साथ ही आज का विचार बोलने के लिए अध्यापक रोजाना आपको ही मंच पर देखना चाहेंगे।
- हाथों की लकीरें तू बदल दे धीरे-धीरे
मेहनत से ही निकलते चमकते हीरे।
बहुत हो गया अब तो कई राह बनानी होगी,
इस जग को तुझे भी अपनी राह सुनानी होगी।
- बस तोड़ दे अब तू सारी मजबूरी की जंजीरें,
मेहनत से ही निकले धरती से चमकते हीरे।
छात्र कुछ इस तरह स्कूल की एसेंबली में शिक्षकों के बीच आज का सुविचार प्रस्तुत कर सकते हैं।
लेटेस्ट न्यूज

अपने बच्चों के स्किन की कैसे करती हैं देखभाल, करीन कपूर ने किया पूरे रुटीन का खुलासा

Bigg Boss 16: बिग बॉस के सामने फूट-फूटकर रोने लगीं प्रियंका चौधरी, कहा- 'पता नहीं काम मिलेगा या नहीं'

Bigg Boss 16     -     -

IND vs BAN 1st Odi Live Score: भारत बनाम बांग्‍लादेश पहले वनडे के लाइव अपडेट्स जानें यहां

IND vs BAN 1st Odi Live Score

Video: नागिन को इंप्रेस करने के लिए भिड़े दो किंग कोबरा, Live लड़ाई देखकर उड़ जाएगी रातों की नींद

Video           Live

SBI PO Admit Card 2022: एसबीआई पीओ प्रीलिम्स एग्जाम का एडमिट कार्ड, sbi.co.in से ऐसे कर सकते हैं डाउनलोड

SBI PO Admit Card 2022        sbicoin

मात्र 2 रुपये के निवेश में सालाना 36000 रुपये, मालामाल बना देगी आपको यह योजना

 2      36000

An Action Hero Box Office Collection Day 2: बॉक्स ऑफिस पर फिसड्डी निकली आयुष्मान खुराना की An Action Hero!

An Action Hero Box Office Collection Day 2         An Action Hero

OMG: बेटे को पहले खींच ले गया पानी में फिर जिंदा चबा गया मगरमच्छ, रोता-बिलखता रह गया बेचारा पिता

OMG              -
आर्टिकल की समाप्ति

© 2022 Bennett, Coleman & Company Limited