राजस्थान संकट पर पायलट ने तोड़ी चुप्पी, बोले-एमएलए को एकजुट रखना गहलोत की जिम्मेदारी

Rajasthan Congress crisis : राजस्थान में गहलोत गुट के विधायकों के इस्तीफे के बाद कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे और अजय माकन जयपुर गए थे। जयपुर से लौटने के बाद दोनों नेताओं ने कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात की और उन्हें स्थिति से अवगत कराया।

Updated Sep 27, 2022 | 02:58 PM IST

sachin pilot

राजस्थान कांग्रेस में संकट गहरा गया है।

तस्वीर साभार : ANI
मुख्य बातें
  • राजस्थान में सीएम अशोक गहलोत गुट के विधायकों ने इस्तीफा दे दिया है
  • विधायकों के इस्तीफे के बाद राजस्थान कांग्रेस में संकट गहरा गया है
  • सचिन पायलट ने कहा है कि विधायकों को एकजुट रखना गहलोत की जिम्मेदारी है
राजस्थान (Rajasthan) में जारी कांग्रेस संकट (Congress Crisis) पर सचिन पायलट (Sachin Pilot) ने पहली बार बयान दिया है। सूत्रों का कहना है कि सचिन पायलट ने हाई कमान को बता दिया है कि अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) यदि कांग्रेस अध्यक्ष (Congress President)पद का चुनाव लड़ते हैं तो उन्हें मुख्यमंत्री का पद छोड़ना होगा। यही नहीं, कांगेस विधायकों को एकजुट रखने की जिम्मेदारी भी उन्हीं की बनती है। सूत्रों का कहना है कि सचिन पायलट अपने गुट के विधायकों के अलावा अन्य पार्टी के अन्य एमएलए के साथ लगातार संपर्क में हैं। पायलट ने अपने गुट के विधायकों से पार्टी हाई कमान के फैसले का इंतजार करने के लिए कहा है।
गिरिजा व्यास बोलीं-सबकुछ जल्द ठीक हो जाएगा
इस बीच राजस्थान संकट पर कांग्रेस नेता गिरिजा व्यास ने कहा है कि सभी को पार्टी हाई कमान के निर्देशों का पालन करना चाहिए। व्यास ने कहा, 'मुझे बस यही कहना है कि हाई कमान जो भी निर्देश देता है पार्टी के लोगों को उसका पालन करना चाहिए।' व्यास ने आगे कहा कि पार्टी में सबकुछ जल्द ही ठीक हो जाएगा।

खड़गे और माकन जयपुर गए थे
राजस्थान में गहलोत गुट के विधायकों के इस्तीफे के बाद कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे और अजय माकन जयपुर गए थे। जयपुर से लौटने के बाद दोनों नेताओं ने कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात की और उन्हें स्थिति से अवगत कराया। सोनिया गांधी ने दोनों नेताओं को राजस्थान का पर्यवेक्षक नियुक्त किया था। उन्होंने दोनों नेताओं से अपनी रिपोर्ट सौंपने के लिए कहा। अशोक गहलोत कांग्रेस अध्यक्ष पद का चुनाव लड़ने जा रहे हैं लेकिन वह चाहते हैं कि सीएम पद की कमान उनकी पसंद के व्यक्ति को मिले। वहीं, सूत्रों का कहना है कि कांगेस इस मामले में अभी कोई बड़ा फैसला नहीं करने जा रही। पार्टी नेताओं से अध्यक्ष पद के नामांकन तक यथास्थिति बनाए रखने के लिए कहा है।
कुछ नेताओं के खिलाफ कार्रवाई हो सकती है
दोनों पर्यवेक्षक अपनी रिपोर्ट कांग्रेस अध्यक्ष को सौंपेंगे। यह पूछे जाने पर कि क्या गहलोत समर्थक कुछ नेताओं के खिलाफ कार्रवाई हो सकती है तो कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता ने कहा, ‘अगर पार्टी ने रविवार के घटनाक्रम को अनुशासनहीनता माना है तो फिर ऐसे में कार्रवाई होना संभव है।’ गहलोत के वफादारों ने रविवार शाम को विधानसभा अध्यक्ष सी पी जोशी को इस्तीफा पत्र सौंप दिया था और मुख्यमंत्री के पार्टी अध्यक्ष चुने जाने की स्थिति में केंद्रीय नेतृत्व पर गहलोत खेमे से किसी को मुख्यमंत्री के रूप में चुनने के लिए दबाव बनाया था।
लेटेस्ट न्यूज

राहत की खबर! दिल्ली AIIMS का सर्वर हुआ बहाल, लेकिन अभी मैनुअल मोड पर चलेंगी सभी सेवाएं

    AIIMS

Drishyam 2 BO Early Estimate Day 12: अजय देवगन स्टारर ने 12 दिनों में किया 150 करोड़ का आंकड़ा पार, जानें फिल्म की पूरी कमाई

Drishyam 2 BO Early Estimate Day 12     12    150

Raveena Tandon: जंगल सफारी करना रवीना टंडन को पड़ा भारी! 'टाइगर' के साथ वीडियो पर अब होगी जांच?

Raveena Tandon

BPSC 67वीं PT रिजल्ट पर बवाल, धरने पर बैठे अभ्यर्थी, प्रतिपक्ष नेता विजय कुमार सिन्हा की CBI जांच की मांग

BPSC 67 PT              CBI

Gujarat assembly election: सूरत की 16 विधानसभाएं BJP के लिए क्यों हैं अहम

Gujarat assembly election   16  BJP

Prabhas के साथ रिश्तों पर कृति सेनन ने तोड़ी चुप्पी, कहा- शादी की डेट फिक्स हो..'

Prabhas          -

Bigg Boss 16: इस हफ्ते एक नहीं दो कंटेस्टेंट होंगे घर से बेघर? नाम जानकर होगी हैरानी!

Bigg Boss 16

अब गौतम अडानी का NDTV, प्रणय रॉय और राधिका रॉय ने छोड़ी कुर्सी

    NDTV
आर्टिकल की समाप्ति

© 2022 Bennett, Coleman & Company Limited