Delhi: पकड़ में आए दिल्ली के कबूतरबाज, सैकड़ों फर्जी पासपोर्ट के साथ ही मिला ये सब

Delhi: दिल्ली क्राइम ब्रांच ने राजधानी में फर्जी पासपोर्ट और वीजा रैकेट का पर्दाफाश किया है। पुलिस ने गिरोह के मास्टरमाइंड समेत कुल 8 आरोपियों को गिरफ्तार कर उनके पास से 300 नकली पासपोर्ट और अन्‍य सामान जब्‍त किया है। यह गिरोह लंबे समय से यह फर्जीवाड़ा कर रहा था। पुलिस सभी आरोपियों से पूछताछ करने में जुटी है।

Updated Nov 30, 2022 | 06:21 PM IST

fake passport and visa racket in Delhi

दिल्‍ली पुलिस के गिरफ्त में सभी आरोपी

तस्वीर साभार : ANI
मुख्य बातें
  • गिरोह टूर एंड ट्रैवल व्यवसाय की आड़ में करता था फर्जीवाड़ा
  • मास्टरमाइंड समेत दबोचे गए गिरोह के आठ आरोपी सदस्‍य
  • गिरोह फर्जी तरीके से विदेश भेजने के बदले लेता था लाखों रुपये
Delhi: दिल्ली की क्राइम ब्रांच ने राजधानी में फर्जी पासपोर्ट और वीजा के एक बड़े रैकेट का पर्दाफाश किया है। इस गिरोह के मास्टरमाइंड समेत कुल 8 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। क्राइम ब्रांच इस गिरोह के पीछे लंबे समय से पड़ी थी। गिरोह के कुछ सदस्यों को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका था। बुधवार को रैकेट के सभी सदस्यों को गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस ने इनके कब्जे से 300 नकली पासपोर्ट और अन्य सामान बरामद किए हैं। क्राइम ब्रांच की टीम अभी इन आरोपियों से पूछताछ करने में जुटी है। आरोपियों से पुलिस को कई अहम जानकारियां भी मिली हैं।
दिल्‍ली पुलिस के अनुसार इस गिरोह का पूरे देश में नेटवर्क है। यह लोगों को फर्जी तरीके से विदेश भेजने का काम करता था। गिरोह के सदस्य जाली दस्तावेजों के आधार पर विभिन्न देशों के टूरिस्ट वीजा के लिए अप्‍लाई करते थे। जो लोग इस गिरोह द्वारा पर्यटक वीजा पर विदेश भेजे जाते थे, वे वहां रहने की अवधि समाप्त होने के बाद गायब हो जाते थे। वे लोग अपने पहचान दस्तावेजों को नष्ट कर देते थे और वहां अवैध रूप से रहने लगते थे। फिर किसी न किसी बहाने उन देशों में शरण प्राप्त कर लेते थे। इन आरोपियों के खिलाफ पीएस क्राइम ब्रांच में एफआईआर दर्ज किया गया है।

कनॉट प्लेस में बना रखा था ऑफिस

क्राइम ब्रांच के अनुसार यह गिरोह लंबे समय से लोगों को फर्जी तरीके से विदेश भेजने का काम कर रहा था। इसके बदले आरोपी लाखों रुपये वसूल करते थे। पुलिस के अनुसार आरोपियों ने फर्जी वीजा बनाने के लिए गिरोह ने कनॉट प्लेस में टूर एंड ट्रैवल व्यवसाय का एक ऑफिस खोल रखा था, जिसकी आड़ में यह धंधा चल रहा था। यहीं से पूरा फर्जीवाड़ा किया जाता था। लोगों का विश्वास जीतने और कारोबार को आगे बढ़ाने के लिए इन आरोपित व्यक्तियों में एक आध्यात्मिक शख्सियत (सत्संगी) भी शामिल था। इस पर लोगों की आस्था थी। जिसका फायदा उठाकर यह बड़ी संख्या में ग्राहक जुटाता था। इन आरोपियों के पास से क्राइम ब्रांच ने विभिन्न देशों के 300 पासपोर्ट के अलावा बड़ी संख्या में जाली दस्तावेज, स्टाम्प, लैपटॉप और टैबलेट बरामद किए हैं। आरोपियों से अभी पूछताछ कर जानकारी जुटाई जा रही है।
देश और दुनिया की ताजा ख़बरें (Hindi News) अब हिंदी में पढ़ें | दिल्ली (cities News) की खबरों के लिए जुड़े रहे Timesnowhindi.com से | आज की ताजा खबरों (Latest Hindi News) के लिए Subscribe करें टाइम्स नाउ नवभारत YouTube चैनल
लेटेस्ट न्यूज

Turkey Earthquake: इस शख्स ने 72 घंटे पहले बता दिया था कि तुर्की-सीरिया में आएगा शक्तिशाली भूकंप

Turkey Earthquake    72       -

शराबी पति ने पहले गला रेतकर पत्नी और बच्चों की हत्या की, नशे में करता रहा मरहम-पट्‌टी फिर खुद को लगा ली आग

                -

HAL के नाम पर हमारी सरकार पर झूठे आरोप लगाए गए- कर्नाटक में कांग्रेस पर बरसे PM मोदी, कारखाने का किया उद्घाटन

HAL          -      PM

Dipika Kakar ने फ्लॉन्ट किया बेबी बंप, चेहरे पर दिखा प्रेग्नेंसी ग्लो

Dipika Kakar

तुर्की भूकंपः दिग्गज चेल्सी फुटबॉल टीम के पूर्व खिलाड़ी क्रिस्टियन अत्सु मलबे में फंसे- रिपोर्ट

             -

BSEB Bihar Board 2023: बिहार बोर्ड ने जारी की परीक्षार्थियों के लिए जरूरी सूचना, देखें वीडियो

BSEB Bihar Board 2023

Suhani Shah ने किया Anchor का Mind Read, माइंड रीडिंग पर किया ये अहम खुलासा-VIDEO

Suhani Shah   Anchor  Mind Read       -VIDEO

राखी सावंत ने रिवील किया अदिल की गर्लफ्रेंड का चेहरा, वायरल हुआ रोमांटिक वीडियो

आर्टिकल की समाप्ति

© 2023 Bennett, Coleman & Company Limited