Deendayal Antyodaya Yojana: अब हर हाथ रोजगार का सपना होगा साकार, जानें क्या है दीनदयाल अंत्योदय योजना? कैसे मिलेगा लाभ

Deendayal Antyodaya Yojana: दीनदयाल अंत्योदय योजना की शुरुआत 25 सितंबर 2014 से की गई। इस योजना का उद्देश्य ग्रामीण व शहरी क्षेत्रों में गरीबी रेखा से नीचे अपना गुजर बसर करने वाले परिवारों को रोजगार तथा उन्हें कुशल मजदूरी के योग्य बनाना है।

आदित्य सिंह

Updated Nov 24, 2022 | 12:26 PM IST

Deendayal antyodaya yojana

अब हर हाथ रोजगार का सपना होगा साकार

मुख्य बातें
  • 25 सितंबर 2014 से की गई दीनदयाल अंत्योदय योजना की शुरुआत।
  • शहरी व ग्रामीण क्षेत्र के गरीब परिवार उठा सकते हैं इस योजना का लाभ।
  • इस योजना का उद्देश्य गरीब परिवारों व युवाओं को आजीविका सुनिश्चित करना व उन्हें आत्मनिर्भर बनाना है
Deendayal Antyodaya Yojana Application Form: बेरोजगारी शिक्षित युवाओं को दीमक की तरह चाटती जा रही है। प्राइवेट कंपनियों में काम कर रहे लोगों को अपनी आजीविका से हांथ धोना पड़ रहा है। हालांकि केंद्र व राज्य सरकार युवाओं को रोजगार मुहैया कराने के लिए लगातार प्रयास कर रही है। साथ ही गांव व शहरों के गरीब मजदूरों की आजीविका सुनिश्चित करने के लिए योजनाएं चलाई जा रही हैं। इन्हीं योजनाओं में से एक है दीनदयाल अंत्योदय योजना। यह योजना राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन और राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन को एक करके बनाई (Deendayal Antyodaya Yojana) गई है। इस योजना का उद्देश्य गरीबों की आजीविका सुनिश्चित करना व उन्हें आत्मनिर्भर बनाना है। उन्हें स्वरोजगार और कुशल मजदूरी के योग्य बनाना है। तथा आजीविका प्रदान करने वाले ग्रामीण व शहरी संस्थाओं को मजबूती प्रदान करना है।
इस योजना के तहत ग्रामीण युवाओं के कौशल पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है ताकि देश के युवा अपनी आकांक्षा के अनुरूप आगे बढ़ सकें और देश के विकास में अपनी भागीदारी सुनिश्चित कर सकें। इस योजना की खास बात यह है कि, ट्रेनिंग के लिए प्रशिक्षण केंद्र गांव के ब्लाक में बनाए गए हैं ताकि युवाओं को इसके लिए दूर ना जाना पड़े। इस योजना के तहत गरीबी रेखा से नीचे अपना गुजर बसर करने वाले परिवार के सदस्यों को स्वरोजगार के लिए प्रशिक्षित किया जाएगा। साथ ही उन्हें उनकी काबिलियत के अनुसार रोजगार उपलब्ध करवाया जाएगा।
इसके अलावा स्वरोजगार के लिए बिना ब्याज के लोन उपलब्ध करवाया जाएगा। हालांकि जागरूकता की कमी के कारण आज भी लोग इस योजना से अनजान हैं। ऐसे में इस लेख के माध्यम से हम आपको बताएंगे क्या है पंडिय दीन दयाल अंत्योदय योजना, कैसे करें अप्लाई, नियम व शर्तों से लेकर संपूर्ण जानकारी।

क्या है दीनदयाल अंत्योदय योजना

इस योजना की शुरुआत भारत सरकार द्वारा ग्रामीण व शहरी क्षेत्रों में गरीबी रेखा से नीचे अपना गुजर बसर करने वाले परिवारों को रोजगार तथा उन्हें कुशल मजदूरी के योग्य बनाने के लिए की गई है। दीनदयाल अंत्योदय योजना के तहत स्वयं सहायता समूह की सहायता से देश के 600 जिलों, 6000 ब्लाकों, ढ़ाई लाख ग्राम पंचायतों और 6 लाख सात करोड़ ग्रामीण परिवारों को शामिल किया गया है। इस योजना के तहत ग्रामीण व शहरी युवाओं को उनकी योग्यता के अनुसार प्रशिक्षित किया जाता है तथा उन्हें अपने क्षेत्र में नौकरी के योग्य बनाया जाता है इसके लिए उन्हें किसी प्रकार का कोई भुगतान नहीं करना होता।
दीनदयाल अंत्योदय योजना के तहत कंप्यूटर कोर्स के लिए भी युवाओं को ट्रेनिंग दी जाती है। इसके तहत सड़क किनारे ठेला, रेड़ी लगाने वालों को वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है और ग्रामीण व शहरी क्षेत्रों में बेघर लोगों को आश्रय दिया जाता है। यह योजना भारत सरकार ग्रामीण विकास मंत्रालय के अंतर्गत आती है।

क्या है नियम व शर्तें, Deendayal Antyodaya Yojana Eligibility

  • दीनदयाल अंत्योदय योजने का लाभ उठाने के लिए, आवेदक भारत का मूल निवासी होना चाहिए।
  • शहरी व ग्रामीण क्षेत्र के गरीब परिवार ही इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।
  • इसके अलावा आवेदन के पास राशन कार्ड/बीपीएल कार्ड व अन्य सभी दस्तावेज होने चाहिए।
जरूरी दस्तावेज
  1. आवेदन के पास आधार कार्ड, पैन कार्ड, पहचान पत्र होना चाहिए।
  2. मूल निवास प्रमाण पत्र सबमिट करना अनिवार्य होगा।
  3. साथ ही पिछले 6 महीने के भीतर बना हुआ आय प्रमाण पत्र होना चाहिए।
  4. पासपोर्ट साइज फोजो आवेदन फॉर्म के साथ सबमिट करना होगा।
इस योजना का लाभ उठाने के लिए आप ऑनलाइन व ऑफलाइन आवेदन कर सकते हैं। नीचे दिए आसान स्टेप के माध्यम से आप अपना नाम इस योजना के अंतर्गत पंजीकृत करवा सकते हैं।

कैसे करें आवेदन, Deendayal Antyodaya Yojana Apply

  1. सबसे पहले दीनदयाल अंत्योदय योजना NRLM की आधिकारिक वेबसाइट aajeevika.gov.in पर जाएं।
  2. होमपेज पर जाकर लॉगिन पर क्लिक कर अपना रजिस्ट्रेशन करें, पंजीकरण संख्या व पासवर्ड एसएमएस के माध्यम से फोन पर आ जाएगा।
  3. इसके बाद एप्लीकेशन फॉर्म पूरा भरें।
  4. मांगे गए सभी जरूरी दस्तावेज स्कैन कर अपलोड करें।
  5. अपने ब्लाक या ग्राम पंचायत का नाम चुनें।
  6. आपका आवेदन स्वीकार कर लिया जाएगा।
  7. भविष्य में संदर्भों के लिए आवेदन फॉर्म की एक छायाप्रति अवश्य निकाल लें।
यहां अपना पंजीकरण करने के बाद आप पोर्टल पर जाकर अपनी आवश्यकतानुसार योजना के तहत आवेदन कर सकेंगे तथा इसका लाभ उठा सकेंगे। अधिक जानकारी के लिए एक बार आधिकारिक वेबसाइट पर अवश्य विजिट करें।
लेटेस्ट न्यूज

आज की ताजा खबर, 2 दिसंबर, 2022: देश और दुनिया की बड़ी खबरें

    2  2022

Gyanvapi Case: 'हिंदुओं को सौंपा जाए ज्ञानवापी परिसर, मुस्लिमों के प्रवेश पर लगे रोक' आज कोर्ट में होगी अहम सुनवाई

Gyanvapi Case

लुधियाना कोर्ट ब्लास्ट के आरोपी हरप्रीत सिंह को NIA ने किया अरेस्ट, पाकिस्तान से भी कनेक्शन

         NIA

जब नार्को को नहीं माना जाता सबूत तो आफताब के टेस्ट के पीछे क्या है वजह

JNU की दीवारों पर ये कैसे नारे? लिखा- रक्तपात होगा..ब्राह्मणों और बनिया, हम तुम्हारे पास बदला लेने आ रहे हैं, होगी जांच

JNU       -

FIFA WC: एशियाई शेर जापान ने किया कमाल, स्पेन के साथ राउंड ऑफ 16 में पहुंचे, चार बार की चैंपियन जर्मनी बाहर

FIFA WC            16

आज का मेष राशिफल, 02 दिसंबर 2022: समय भाग्यशाली है, पर काम और कारोबार में रह सकता है उतार-चढ़ाव

    02  2022            -

आज का मकर राशिफल, 02 दिसंबर 2022: आज ट्रिप पर जाने का बन रहा है संयोग, जानें क्या होगा आपका विचार

    02  2022
आर्टिकल की समाप्ति

© 2022 Bennett, Coleman & Company Limited