Times now Summit 2022 : टाइम्स नाउ समिट में अमित शाह बोले-अब जो विकास की राजनीति करेगा वही शासन करेगा

Times now Summit 2022 : भारतीय अर्थव्यवस्था की उपलब्धियों का जिक्र करते हुए गृह मंत्री ने कहा कि मोदी सरकार ने 2025 तक अर्थव्यवस्था को 5 ट्रिलियन तक ले जाने का लक्ष्य रखा है। 2014 तक हम दुनिया में 11वीं नंबर की अर्थव्यवस्था थे लेकिन मोदी सरकार की कुशल अर्थनीतियों की वजह से हम आज 5वीं अर्थव्यवस्था बन गए हैं।

टाइम्स नाउ नवभारत

Updated Nov 24, 2022 | 12:26 PM IST

Amit shah

टाइम्स नाउ समिट 2022 में गृह मंत्री अमित शाह।

तस्वीर साभार : BCCL
Times now Summit 2022 : बीते आठ सालों की मोदी सरकार की उपलब्धियों का जिक्र करते हुए गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि 2047 में भारत के शताब्दी वर्ष में देश को संपूर्ण रूप से एक विकसित राष्ट्र बनाना है। उन्होंने कहा कि भारत के लिए यह समय संकल्पों के साथ आगे बढ़ने का है। टाइम्स नाउ समिट-2022 के तीसरे संस्करण में लोगों को संबोधित करते हुए गृह मंत्री ने कहा कि दुनिया यह महसूस करने लगी है कि आने वाले समय में भारत ही विश्व का नेतृत्व करेगा।

लोकतंत्र की सबसे पहले स्थापना भारत में हुई-शाह

गृह मंत्री ने कहा, 'समय आ गया है कि भारत के लोकतांत्रित मूल्यों की पहचान दुनिया को हो। लोकतंत्र की सबसे पहले स्थापना भारत में हुई। अब तक कई उतार-चढ़ावों से गुजरते हुए हमारी सभ्यता यहां तक पहुंची है। यह नए संकल्पों के साथ आगे बढ़ने का समय है। यह संकल्प लेने का समय है कि भारत की शताब्दी जब पूरी होगी तो देश कहां पर होगा। बीते आठ सालों में देश ने एक लंबा सफर तय किया है। मोदी सरकार ने देश में एक शांतिपूर्ण माहौल दिया है।'

भारत आज 5वीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था

भारतीय अर्थव्यवस्था की उपलब्धियों का जिक्र करते हुए गृह मंत्री ने कहा कि मोदी सरकार ने 2025 तक अर्थव्यवस्था को 5 ट्रिलियन तक ले जाने का लक्ष्य रखा है। 2014 तक हम दुनिया में 11वीं नंबर की अर्थव्यवस्था थे लेकिन मोदी सरकार की कुशल अर्थनीतियों की वजह से हम आज 5वीं अर्थव्यवस्था बन गए हैं। उन्होंने कहा कि निवेश के लिए आज दुनिया भारत की तरफ देख रही है। ऐसा मोदी सरकार की कुशल अर्थ नीतियों की वजह से हुआ है। कोरोना संकट के समय भारत की अर्थव्यवस्था सबसे तेज गति से आगे बढ़ी। इसे दुनिया ने महसूस किया। दुनिया महसूस कर रही है कि भारत आने वाले समय में वैश्विक अर्थव्यवस्था का नेतृत्व करेगा। निर्यात के क्षेत्र में भारत नए-नए कीर्तिमान स्थापित कर रहा है। 2014 में हमारे पास केवल 4 यूनिकॉर्न स्टार्टअप थे लेकिन इसकी संख्या अब 100 से ज्यादा हो गई है।

आज भारत की राय मायने रखती है-शाह

विश्व में भारत के बढ़े रुतबे के बारे में अमित शाह ने कहा कि विश्व शांति की पहल करनी हो, जलवायु परिवर्तन की बात हो तो आज इन सभी मुद्दों पर भारत की राय मायने रखती है। आज भारत का नजरिया दुनिया के लिए अहम हो गया है। जी-20 की अध्यक्षता भारत के पास आ गई है। इस सम्मेलन के जरिए हम भारतीयता की पहचान मुखरता से आगे बढ़ा सकते हैं।

'पीएम गतिशक्ति में है अर्थव्यवस्था बदलने की ताकत'

शाह ने कहा कि पीएम गतिशक्ति योजना में ही इतनी ताकत है कि वह देश की अर्थव्यवस्था बदल सकती है। पीएम गतिशक्ति में निवेश के बहुआयामी फायदे हैं। बुनियादी संरचना में निवेश के बगैर किसी देश का विकास संभव नहीं है। देश की आधी आबादी से ज्यादा जनसंख्या को प्रधानमंत्री ने जीवन स्तर सुधारकर उन्हें अर्थतंत्र से जोड़ने का काम किया है। 10 करोड़ से ज्यादा घरों में शौचालय, साढ़े तीन करोड़ से ज्यादा घरों में बिजली पहुंचाई गई है। गरीब लोगों को पांच लाख तक की स्वास्थ्य बीमा देकर उन्हें बड़ी राहत पहुंचाई गई है। आज 130 करोड़ की आबादी देश के अर्थतंत्र में योगदान दे रही है। 130 करोड़ लोग बाजार से जुड़े हैं। मोदी सरकार ने 60 करोड़ लोगों के मन में जिजीविषा एवं आकांक्षा जगाने का काम किया है।

विकास की राजनीति करने वाला ही शासन करेगा-शाह

गृह मंत्री ने आगे कहा कि देश में शांति न हो तो कोई भी देश विकास नहीं कर सकता। किसी भी देश का सम्मान इस बात से जुड़ा होता है कि आप अपनी सीमा की सुरक्षा कैसे करते हैं। मोदी जी ने सर्जिकल स्ट्राइक के जरिए दुनिया को दृढ़ता से इसका संदेश दिया। मोदी सरकार ने कृषि अर्थव्यवस्था को आगे बढ़ाया है। पांच साल के बाद कृषि को भी जीडीपी में प्रमुख योगदानकर्ता माना जाएगा। ढेर सारे राज्य फसलों की विविधता बढ़ाकर अनाज का निर्यात तीन गुना कर चुके हैं। 2014 से पहले तीन नासूर जातिवाद, परिवारवाद और तुष्टिकरण भारतीय राजनीति में हावी थे। प्रधानमंत्री मोदी ने राजनीति को इन बुराइयों से मुक्त कर दिया है। अब जो विकास की राजनीति करेगा वही शासन करेगा। भारत को एक बार फिर से महान बनाने का काम मोदी सरकार कर रही है। इसे देखने के लिए 2047 में हममें से ज्यादा लोग शायद नहीं होंगे लेकिन यह देश रहेगा।
लेटेस्ट न्यूज

बदकिस्मत गेंदबाजः जानिए किन पाकिस्तानी गेंदबाजों की सबसे ज्यादा धुनाई हुई, इंग्लैंड ने बनाया 506 रन का वर्ल्ड रिकॉर्ड

              506

Mokshada Ekadashi 2022 Date, Muhurat: मोक्षदा एकादशी 2022 की डेट और मुहूर्त, जानें कब करना है व्रत का पारण

Mokshada Ekadashi 2022 Date Muhurat   2022

Hindi Samachar 1 दिसंबर: भारत के पास G-20 की अध्यक्षता, गुजरात में पहले चरण का मतदान खत्म

Hindi Samachar 1     G-20

AUS vs WI 1st Test Day-2: स्मिथ और लाबुशेन के तूफान में उड़ा वेस्टइंडीज, ऑस्ट्रेलिया ने 598 रन बनाकर पारी घोषित की

AUS vs WI 1st Test Day-2           598

FIFA World Cup 2022: फीफा फैन फेस्ट में नोरा फतेही से हुईं बड़ी गलती, तिरंगे का अपमान करने पर यूजर्स बोले- ये नेशनल फ्लैग है कोई दुपट्टा नहीं...

FIFA World Cup 2022                 -

PAK vs ENG, 1st Test: इंग्लैंड ने टेस्ट को बनाया टी20, पहले दिन चार शतक सहित कायम किया वर्ल्ड रिकॉर्ड

PAK vs ENG 1st Test      20

पाकिस्तान में आर्मी और सरकार में फिर ठनी, इस बार बांग्लादेश बना वजह; जानिए पूरा मामला

NBK108: सोनाक्षी सिन्हा ने मांगी मोटी फीस !! निर्माताओं ने एक्ट्रेस को फिल्म से किया बाहर?

NBK108
आर्टिकल की समाप्ति

© 2022 Bennett, Coleman & Company Limited