Bageshwar Maharaj के दरबार में मुस्लिम महिला ने अपनाया हिंदू धर्म, बोलीं- सभ्यता और संस्कार वाला है हिंदू धर्म

Bageshwar Maharaj: बागेश्वर धाम सरकार वाले धीरेंद्र शास्त्री इन दिनों सुर्खियों में बने हुए हैं और उनकी कथा इन दिनों छत्तीसगढ़ के रायपुर में चल रही है। यहां उनके दरबार में एक मुस्लिम महिला भी पहुंची थी और उसने मंच से ही हिन्दू धर्म अपनाने की घोषणा कर दी।

Updated Jan 22, 2023 | 07:44 AM IST

मुख्य बातें
  • धीरेंद्र शास्त्री के सामने मंच पर मुस्लिम महिला ने अपनाया हिंदू धर्म
  • मंच पर महिला ने हिंदू धर्म की तारीफ कर कहा-हिंदू धर्म से अच्छा कोई धर्म नहीं
  • हिंदू धर्म सभ्यता और संस्कार वाला धर्म है- महिला
Bageshwar Maharaj: छत्तीसगढ़ के रायपुर में इन दिनों बागेश्वर धाम वाले धीरेंद्र शास्त्री (Dheerendra Shastri) की रामकथा चल रही है। इसी दौरान रायपुर (Raipur News) में चल रही बागेश्वर धाम सरकार की कथा में पंडित धीरेंद्र शास्त्री के सामने एक मुस्लिम महिला (Muslim Women) ने हिंदू धर्म को अपना लिया। इस दौरान धीरेंद्र शास्त्री के मच पर घर वापसी करने वाली महिला ने मुस्लिम धर्म की खामियां गिनाई और हिंदू धर्म की जमकर तारीफ की। महिला ने कहा कि हिंदू धर्म से अच्छा कोई धर्म नहीं है, हिंदू धर्म सभ्यता और संस्कार वाला धर्म है।

बागेश्वर धाम सरकार के सवाल

इस दौरान बागेश्वर धाम सरकार के धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री ने कहा, 'इन बहन ने अपनी इच्छा से बागेश्वर बाला जी का चमत्कार देखा, ये भी सनातन हिंदू धर्म को सर्वोपरि मानकर आना चाह रही हैं। आप बोलेंगी या हम बोले...पहले नाम बताओ और परिचय बताओ। आप हिंदू धर्म में क्यों आना चाहती हैं बहन? आपका बहन सनातन हिंदू धर्म में स्वागत है। कल बहन आपका कथा मंच से नाम करण भी करवा दिया जाएगा '

मुस्लिम महिला ने बताई वजह

वहीं हिंदू धर्म अपनाने वाली महिला ने कहा, 'मैं ये कहना चाहती हूं पहले तो मेरा नाम सुलताना है। मैं छत्तीसगढ बिलासपुर से हूं, मेरे पिता का नाम आमिर खान है और मेरे 3 भाई हैं...मेरी माता का नाम सरबरी बेगम है। मेरे घरवालों ने मुझे त्याग दिया है क्योंकि मैं मूर्ति पूजा करती हूं। बोलते हैं मुस्लिम के नाम पर तू कलंक है,मरेगी तो जहन्नुम में जाएगी। मुझे इससे कोई फर्क नहीं पड़ता है। मेरा मन बोलता है हिंदू धर्म से अच्छा कोई धर्म हो ही नहीं सकता है कभी, क्योंकि ये धर्म एक सभ्यता वाला धर्म है, संस्कार वाला धर्म है। इसमें भाई बहनों में शादियां नहीं होती और इसमें औरतों की जिंदगी बर्बाद नहीं होती तलाक..तलाक..तलाक बोल कर। इसमें एक बार शादी होती है और सात फेरों की जिसमें सिंदूर का महत्व होता है, मंगलसूत्र का..पूरे सोलह शृंगार का। मैं दो बार मथुरा जाकर भी आ चुकी हूं, वहां से जन्मभूमि से लड्डू गोपाल खरीदकर पूजा करवाकर लाई हूं। घर में तीनों टाइम नहाकर..उनका भोग लगाकर जूठा खाती हूं..फिर खाना खाती हूं।'
देश और दुनिया की ताजा ख़बरें (Hindi News) अब हिंदी में पढ़ें | देश (india News) की खबरों के लिए जुड़े रहे Timesnowhindi.com से | आज की ताजा खबरों (Latest Hindi News) के लिए Subscribe करें टाइम्स नाउ नवभारत YouTube चैनल
लेटेस्ट न्यूज

MS Dhoni Video: दो साल बाद धोनी ने सोशल मीडिया पर किया पोस्ट, देखिए कैसे खेत की जुताई करते नजर आए

MS Dhoni Video

Happy Chocolate Day 2023 Wishes Images, Quotes: चॉकलेट डे पर पार्टनर को भेजें ये रोमांटिक मैसेज, रिश्ते में मिठास घुल जाएगी

Happy Chocolate Day 2023 Wishes Images Quotes

Kiara Advani को दुल्हन बनाकर गदगद हुईं Sidharth Malhotra की मम्मी, बोलीं 'मेरे घर लक्ष्मी आई...'

Kiara Advani      Sidharth Malhotra

SSC Results 2022 OUT: घोषित हुए एसएससी जूनियर हिंदी ट्रांसलेटर, जूनियर ट्रांसलेटर और सीनियर हिंदी ट्रांसलेटर परीक्षा का रिजल्ट

SSC Results 2022 OUT

मोदी के पास जानें कौन सा है 'सुरक्षा कवच' जिस पर उन्हें है पूरा भरोसा

IND vs AUS 1st Test Playing-11: हरभजन सिंह ने बताया पहले टेस्ट में कौन से 11 भारतीय मैदान पर उतरेंगे, एक बहुत बड़ा बदलाव

IND vs AUS 1st Test Playing-11          11

IND vs AUS 1st Test: नागपुर में सीरीज का आगाज, कंगारुओं से निपटने के लिए भारत आजमाएगा स्पिन का ब्रह्मास्त्र

IND vs AUS 1st Test

Aaj ka Panchang ,09 February 2023 : आज विष्‍णु भगवान और माता लक्ष्मी का करें पूजन, देखें शुभ-अशुभ मु‍हूर्त

Aaj ka Panchang 09 February 2023            -
आर्टिकल की समाप्ति

© 2023 Bennett, Coleman & Company Limited