पार्टी कोई भी हो जीत इन्हीं की होती है, गोधरा से 6 बार बन चुके हैं विधायक; बिलकीस के रेपिस्टों को बताया था 'संस्कारी'

बीजेपी के चंद्रसिंह राउलजी गुजरात सरकार की उस समिति का हिस्सा थे, जिसने सर्वसम्मति से 2002 के गुजरात दंगों के दौरान बिलकिस बानो के साथ बलात्कार करने और उसकी तीन साल की बेटी सहित उसके परिवार के नौ सदस्यों की हत्या करने के दोषी 11 लोगों को रिहा करने का फैसला किया था।

शिशुपाल कुमार

Updated Nov 12, 2022 | 09:28 PM IST

chandrasinh raulji

बीजेपी विधायक चंद्रसिंह राउलजी

तस्वीर साभार : Twitter
Gujarat Election: गुजरात विधानसभा की गोधरा सीट पर चंद्रसिंह राउलजी का कब्जा पिछले कई सालों से बरकरार है। जनता दल से अपनी राजनीति की शुरूआत करने वाले राउलजी कई पार्टियों में रह चुके हैं, लेकिन गोधरा सीट की कहानी ऐसी है कि चंद्रसिंह रहें किसी भी पार्टी में, जीत उन्हीं की होती है, हालांकि इस बार उनकी राह थोड़ी मुश्किल लग रही है। बिलकीस बानो के रेपिस्टों को लेकर दिया गया बयान उनके खिलाफ जा सकता है।
कौन हैं चंद्रसिंह राउलजी
चंद्रसिंह राउलजी गोधरी सीट से अपराजेय रहे हैं, गोधरा दंगों के पहले भी और बाद भी में वो इस सीट से जीतते रहे हैं। इनकी जीत में एक महत्वपूर्ण भूमिका इस सीट पर मौजूद अल्पसंख्यक निभाते रहे हैं। इन वोटों के बारे में कहा जाता है कि ये एकमुश्त राउलजी को जाता है। राउलजी ने अपनी राजनीति की शुरूआत जनता दल से की थी। 1990 में पहली बार गोधरा सीट से चुने गए थे। एक साल के अंदर ही बीजेपी में शामिल हो गए और उपचुनाव में फिर से जीत गए। इसके बाद ये शंकर सिंह वघेला के साथ चले गए। जब वघेला ने अपनी पार्टी का कांग्रेस में विलय कर लिया तो वो कांग्रेस के साथ हो लिए। इसके बाद 2007 और 2012 में कांग्रेस से चुनाव लड़े और जीत हासिल की।
बीजेपी में वापसी
2017 के विधानसभा चुनाव के समय राउलजी का फिर से मन परिवर्तन हुआ और वो वापस बीजेपी में आ गए। पिछली बार जब कांग्रेस हर सीट, बीजेपी से छिनने की कोशिश में लगी थी और भाजपा को कड़ी टक्कर दी थी, तब भी राउलजी ने गोधरा से जीत हासिल कर ली थी। जिसके बाद गुजरात विधानसभा चुनाव 2022 में भी बीजेपी ने उनपर भरोसा जताया और विवादों के बाद भी उन्हें टिकट दे दिया।
बिलकीस बानो पर विवादित बयान
बिलकीस बानो के रेपिस्टों को जब इस साल 15 अगस्त को गुजरात सरकार ने रिहा कर दिया तो राउलजी ने उनका बचाव करते हुए ऐसी बात कह दी, जिससे वो विवादों में घिर गए। राउलजी को सोशल मीडिया पर वायरल हुए एक वीडियो में एक रिपोर्टर को यह कहते हुए सुना गया कि आरोपी ब्राह्मण थे और ब्राह्मण अच्छे संस्कार के लिए जाने जाते हैं। यह किसी का गलत इरादा हो सकता है और उन्हें दंडित कर सकता है। उन्होंने यह भी कहा कि जेल में दोषियों का आचरण अच्छा था।
लेटेस्ट न्यूज

केजरीवाल ने किया AAP के राष्ट्रीय पार्टी बनने का दावा, पूर्व सहयोगी आशुतोष ने उड़ाई खिल्ली-Video

   AAP            -Video

भाजपा ने 76 साल के उम्मीदवार को चुनावी मैदान में उतारने के लिए तोड़े थे नियम, दर्ज की एक लाख वोटों से जीत

  76

VIDEO: कैच लेते हुए टूट गए चार दांत, दर्द में दिखे श्रीलंकाई क्रिकेटर चमिका करुणारत्ने

VIDEO

कुढनी विधानसभा उपचुनाव के नतीजे पर बोले पीएम नरेंद्र मोदी, बिहार में BJP की जीत आने वाले दिनों का संकेत है

            BJP

बांग्लादेश के खिलाफ टेस्ट सीरीज में ये खिलाड़ी ले सकते हैं रोहित, जडेजा और शमी की जगहः रिपोर्ट

Bigg Boss 16: टीवी की बहू टीना दत्ता फूट फूटकर रोईं जोड़े बिग बॉस के सामने हाथ, बोलीं- मुझे घर जाना है...

Bigg Boss 16               -

Muslim Candidate Win: गुजरात विधानसभा चुनाव में एक ही 'मुस्लिम उम्मीदवार' जीता, इस पार्टी से लड़ा था चुनाव

Muslim Candidate Win

गुजरात चुनाव में ऐतिहासिक जीत पर बोले पीएम मोदी, मैं चाहता था नरेंद्र का रिकॉर्ड भूपेंद्र तोड़े, युवाओं ने कर दिखाया

आर्टिकल की समाप्ति

© 2022 Bennett, Coleman & Company Limited