Plant Based Diet Plan: प्लांट बेस्ड डाइट लेने से बढ़ती है इम्युनिटी, ऐसे करें डाइट में शामिल

Plant Based Diet Plan: प्लांट बेस्ड डायट कोलेस्ट्रोल लेवल को कम करती है यदि बैड कोलेस्ट्रॉल बढ़ गया है तो इस डाइट को फॉलो करने से सामान्य किया जा सकता है। एक अध्ययन के अनुसार जो लोग मांस मछली की अपेक्षा प्लांट बेस्ड फूड का सेवन करते हैं उन्हें दिल के रोगों का खतरा कम रहता है व हृदय स्वास्थ्य भी सही रहता है।

Updated Jan 22, 2023 | 01:18 PM IST

Plant Based Diet Plan

रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के प्लांट बेस्ड डाइट फॉलो करें

मुख्य बातें
  • वेजिटेरियन हो तो निराश न हो प्लांट बेस्ड डायट में प्रोटीन का भंडार हैं
  • नॉनवेजिटेरिन्स की तुलना में वेजिटेरियन्स में गंभीर बीमारियों का खतरा कम होता है
  • शाकाहारी भोजन बैड कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करता है
Plant Based Diet Plan: प्लांट बेस्ड डायट प्लान में उन खाद्य पदार्थों को शामिल किया जाता है, जो हमें पौधों से प्राप्त होते हैं। इस डाइट प्लान में हरी सब्जियां, फल, अनाज, नट्स, दाल इत्यादि शामिल होते हैं। इसमें मांस, मछली, अंडे, चिकन या प्रोसैस्ड खाद्य पदार्थ शामिल नहीं होते। यह डाइजेशन के लिए काफी मददगार होता है। इस भोजन से पोषक तत्व को अवशोषित करना शरीर के लिए आसान होता है, जिससे आपका इम्यूनिटी सिस्टम मजबूत होता है। कोरोनावायरस के संक्रमण के बाद से लोग अपनी हेल्थ व डाइट को लेकर काफी अवेयर हो गए हैं, क्योंकि मजबूत इम्यूनिटी सिस्टम आपको कई बीमारियों से बिल्कुल दूर रखता है।
प्लांट बेस्ड डायट-
  1. प्लांट बेस्ड डायट कॉलेज ट्रॉल लेवल को कम करती है। यदि आपका बैड कोलेस्ट्रॉल बढ़ गया है तो इस डाइट को फॉलो करने से इसे सामान्य किया जा सकता है।
  2. वेजिटेरियन्स को स्ट्रोक, हाई कोलेस्ट्रॉल, ब्लड प्रेशर और डायबिटीज का खतरा भी नॉनवेजिटेरियन से कम रहता है। ‌
  3. जो लोग अपने बढ़े हुए वजन से परेशान होते हैं, वह इस डाइट को फॉलो कर मनचाही बॉडी शेप पा सकते हैं। ‌
  4. इससे हॉर्ट स्ट्रोक व मोटापे का खतरा कम होता है।
  5. देश में डायबिटीज के रोगियों की संख्या बहुत तेजी से बढ़ती जा रही है। ऐसे में प्लांट बेस्ट डाइट का सेवन फायदेमंद साबित हो सकता है।
  6. प्रोटीन, विटामिंस व फाइबर का सही मात्रा में सेवन हमारे शरीर के लिए बहुत आवश्यक होता है। प्लांट बेस्ड डायट में उच्च मात्रा में फाइबर पाया जाता है। शलगम, गाजर, ब्रोकली, टमाटर व चुकंदर को आप एक साथ काटकर नाश्ते या सलाद के रूप में आहार में शामिल कर सकते हैं।
  7. प्लांट बेस्ड डायट से कैंसर का खतरा भी कम होता है। इसमें कैंसर सुरक्षात्मक पोषक तत्व पाए जाते हैं।
पौधे आधारित आहार आंतों के लिए बेहतर माने जाते हैं। इससे बॉडी का मेटाबॉलिज्म बना रहता है। इसमें एंटी ऑक्सीडेंट पाए जाते हैं, जो हमारी बॉडी की कोशिकाओं को होने वाले नुकसान से बचाते हैं।
(डिस्क्लेमर: प्रस्तुत लेख में सुझाए गए टिप्स और सलाह केवल आम जानकारी के लिए हैं और इसे पेशेवर सलाह के रूप में नहीं लिया जा सकता।)
देश और दुनिया की ताजा ख़बरें (Hindi News) अब हिंदी में पढ़ें | लाइफस्टाइल (lifestyle News) की खबरों के लिए जुड़े रहे Timesnowhindi.com से | आज की ताजा खबरों (Latest Hindi News) के लिए Subscribe करें टाइम्स नाउ नवभारत YouTube चैनल
लेटेस्ट न्यूज

IND vs AUS Test Series: उलटा पड़ सकता है पिच वाला दांव, अब कुछ ऐसा होने की है उम्मीद

IND vs AUS Test Series

Aaj Ki Taza Khabar, 5 फरवरी, 2023: बागेश्वर धाम के समर्थन में आज दिल्ली में धर्म संसद, जानें देश और दुनिया की ताजा खबरें

Aaj Ki Taza Khabar 5  2023

अंत में अमेरिका ने चीन के स्पाई बैलून को समंदर के ऊपर मार गिराया, देखें Video

               Video

Magh Purnima Vrat Katha: माघ पूर्णिमा की व्रत कथा, इस दिन भगवान विष्णु गंगाजल में करते हैं निवास

Magh Purnima Vrat Katha

मामी के साथ इश्क में ऐसा डूबा भांजा कि मामा को ही उतार दिया मौत के घाट, गोलियों से छलनी कर दिया सीना

Video: अडानी के मुद्दे पर सदन में चर्चा न होने के पीछे क्या है कारण? वित्त मंत्री बोलीं- चर्चा से कौन भाग रहा है

Video                 -

Video: बजट को छोड़ अडानी के शेयरों की ज्यादा चर्चा के पीछे कोई षड्यंत्र है? वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने दिया ये जवाब

Video

SC में 5 नए जजों की नियुक्ति, पटना-राजस्थान-मणिपुर हाईकोर्ट को मिले कार्यवाहक चीफ जस्टिस

SC  5     --
आर्टिकल की समाप्ति

© 2023 Bennett, Coleman & Company Limited