साइबर क्राइम की रिपोर्ट किस नंबर पर करें, PIB ने किया Fact Check

Fact Check : पीआईबी का कहना है कि साइबर क्राइम की शिकायत करने के लिए '155260' नंबर की सेवा शुरू की गई थी लेकिन इस सेवा के नंबर को बदलकर अब 𝟭𝟵𝟯𝟬 कर दिया गया है। अपने साथ साइबर ठगी की शिकायत लोग अब इस नंबर कर सकते हैं। साथ ही साइबर क्राइम से जुड़ी शिकायत http://cybercrime.gov.in पर भी दर्ज कराई जा सकती है।

Updated May 19, 2023 | 01:15 PM IST

cyber crime

साइबर क्राइम की रिपोर्ट अब नए नंबर पर की जा सकती है।

Fact Check : बीते वर्षों में देश में डिजिटल लेन-देन कई गुना बढ़ गया है। लोग बड़ी संख्या में ऑन लाइन पेमेंट के उपलब्ध तरीकों अपनाते हैं। लोगों को ठगने एवं उन्हें अपना शिकार बनाने के लिए साइबर अपराधी भी सक्रिय हैं। आए दिन ऑनलाइन ठगी, जालसाजी एवं धोखाधड़ी के मामले भी बढ़े हैं। सरकार इसे रोकने एवं साइबर अपराध पर शिकंजा कसने के लिए कदम भी उठाती रही है। साइबर ठगी के मामलों की शिकायत के लिए गृह मंत्रालय ने कुछ दिनों पहले तात्कालिक सेवा '155260' शुरू की। इस नंबर पर लोगों से ऑनलाइन ठगी की शिकायत दर्ज कराने के लिए कहा गया।

साइबर अपराध की शिकायत अब 𝟭𝟵𝟯𝟬 पर करें

सोशल मीडिया पर यह नंबर फिर वायरल हुआ है। लोगों का कहना है कि इस नंबर पर साइबर क्राइम रिपोर्ट किया जा सकता है। इस बीच, PIB ने इस वायरल हुए संदेश का Fact Check किया है। पीआईबी का कहना है कि साइबर क्राइम की शिकायत करने के लिए '155260' नंबर की सेवा शुरू की गई थी लेकिन इस सेवा के नंबर को बदलकर अब 𝟭𝟵𝟯𝟬 कर दिया गया है। अपने साथ साइबर ठगी की शिकायत लोग अब इस नंबर कर सकते हैं। साथ ही साइबर क्राइम से जुड़ी शिकायत http://cybercrime.gov.in पर भी दर्ज कराई जा सकती है।
fact check
fact check

ऑनलाइन मेडिकल एप्वाइंटमेंट को लेकर हुई ठगी

इससे पहले ऑनलाइन ठगी एवं जालसाजी से लोगों को बचाने एवं उन्हें जागरूक करने के लिए पीआईबी ने एक और फैक्ट चेक किया। पीआईबी का यह फैक्ट चेक ऑनलाइन मेडिकल एप्वाइंटमेंट को लेकर था। मोबाइल फोन पर ऑनलाइन मेडिकल एप्वाइंटमेंट का मैसेज भेजकर लोगों के साथ धोखाधड़ी होने की घटनाएं देखने के बाद पीआईबी ने फैक्ट चेक किया।

.apk फाइल्स डाउनलोड ना करने की अपील

अपने फैक्ट चेक (Fact Check) पीआईबी ने कहा कि ऑनलाइन अप्वाइंटमेंट के लिए आधिकारिक ऐप स्टोर के अलावा किसी अन्य सोर्स से आयी .apk फाइल्स डाउनलोड ना करें। हमेशा ऑफिशियल वेबसाइट का उपयोग करें, इंटरनेट सर्च पर आए झूठे विज्ञापनों पर विश्वास ना करें। धोखे से बचें, सुरक्षित रहें।
देश और दुनिया की ताजा ख़बरें (Hindi News) अब हिंदी में पढ़ें | देश (india News) की खबरों के लिए जुड़े रहे Timesnowhindi.com से | आज की ताजा खबरों (Latest Hindi News) के लिए Subscribe करें टाइम्स नाउ नवभारत YouTube चैनल

लेटेस्ट न्यूज

आर्टिकल की समाप्ति

© 2023 Bennett, Coleman & Company Limited