World Aids Day 2022 Quotes, Essay: विश्व एड्स दिवस पर निबंध को ऐसे बनाएं दमदार, पढ़ने वाला हो उठेगा आपका मुरीद

World Aids Day 2022 Quotes, Essay, Nibandh in Hindi: प्रत्येक वर्ष 1 दिसंबर को विश्व एड्स दिवस मनाया जाता है। इसका उद्देश्य लोगों को इस भयावह बीमारी के प्रति जागरूक करना है। आमतौर पर यह असुरक्षित यौन संबंध बनाने व एचआईवी वाले व्यक्ति के संपर्क में आए इंजेक्शन या उपकरण को साझा करने से फैलता है।

Updated Dec 1, 2022 | 08:01 AM IST

World Aids Day 2022

वर्ल्ड एड्स दिवस निबंध को ऐसे बनाएं शानदार

मुख्य बातें
  • 1 दिसंबर को मनाया जाता है विश्व एड्स दिवस।
  • निबंध लिखने से पहले इसकी एक रूपरेखा तैयार कर लें।
  • यहां महत्वपूर्ण जानकारी व दिलचस्प कहानियों का करें जिक्र।
World Aids Day 2022 Quotes, Essay, Nibandh in Hindi: एचआईवी व एड्स के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए प्रत्येक वर्ष 1 दिसंबर को विश्व एड्स दिवस (World Aids Day) मनाया जाता है। इसका उद्देश्य लोगों को इस भयावह बीमारी के प्रति जागरूक करना है ताकि इस बीमारी के संक्रमण से लोगों को बचाया जा सके। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की एक रिपोर्ट पर नजर डालें तो दुनियाभर में करीब 37.9 मिलियन लोग एड्स से ग्रस्त हैं। वहीं भारत में एड्स के कुल मरीजों की संख्या लगभग 2.35 मिलियन है। एड्स का सबसे बड़ा कारण ह्यूमन इम्यून डिफिसिएंशी यानी एचआईवी (World Aids Day 2022 Theme) वायरस है। एचआईवी एक तरह का वायरस है जो हमारे खून में जाकर सफेद रक्त कोशिकाओं को नष्ट कर देता है। बता दें दुनियाभर के किसी भी देश में एड्स का इलाज मौजूद नहीं है। यदि समय रहते इसका इलाज ना करवाया जाए, तो व्यक्ति अपनी जान गंवा सकता है।
इस भयावह बीमारी से संक्रमित होने के बाद व्यक्ति एक के बाद एक अन्य बीमारियों के चपेट में आता जाता है। कहा जाता है कि एड्स का मरीज एड्स के कारण नहीं बल्कि अन्य बीमारियों के संक्रमण से अपना दम तोड़ (World Aids Day Quotes) बैठते हैं। इस दौरान यदि आपको कोई अन्य बीमारी हो जाती है तो इसका भी इलाज नामुमकिन हो जाता है। वैज्ञानिकों की मानें तो एड्स का पहला मामला 19वीं सदी में जानवरों में देखा गया था। वहीं 1959 में अफ्रीका के कांगो शहर में एक व्यक्ति में इसकी पुष्टि की गई थी।
आमतौर पर यह असुरक्षित यौन संबंध बनाने व एचआईवी वाले व्यक्ति के संपर्क में आए इंजेक्शन या उपकरण को साझा करने से फैलता है। यही कारण है कि, केंद्र व राज्य सरकार विश्व एड्स दिवस के अवसर पर लोगों को जागरूक करने के लिए जागरूकता अभियान (World Aids Day Essay) चलाती हैं। साथ ही विश्व एड्स दिवस के अवसर पर स्कूल, कॉलेजों व अन्य शैक्षणिक संस्थानों में भाषण प्रतियोगिता के साथ निबंध प्रतियोगिता का आयोजन किया जाता है। ऐसे में यदि आपने भी निबंध प्रतियोगिता में भाग लिया है, तो हमारे इस लेख पर एक नजर अवश्य डालें।

ऐसे करें निबंध की शुरुआत

यदि आप चाहते हैं कि, आपका निबंध पढ़ने वाले की आंखें पन्ने से हटने का नाम ना लें, तो अपने निबंध की शुरुआत विश्व एड्स दिवस के किसी शानदार कोट्स से करें। ध्यान रहे निबंध कम से कम 300 से 500 शब्दों का होना चाहिए। यदि आपको सीमित शब्दों में निबंध लिखना है तो इसमें केवल महत्वपूर्ण बातों का जिक्र करें। छात्र नीचे दिए इस कोट्स से अपने निबंध की शुरुआत कर सकते हैं।
जो सुरक्षा से दोस्ती तोड़ेगा,
वह जल्द ही दुनिया छोड़ेगा
विश्व एड्स दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं।
सबको एड्स के प्रति जागरूक करना है,
एड्स को जड़ से उखाड़कर फेंकना है।

ऐसे बनाएं निबंध को सरल व दमदार

निबंध को सरल व दमदार बनाने के लिए इसमें केवल महत्वपूर्ण बातों का जिक्र करें, सबसे पहले इसकी एक रूपरेखा तैयार कर लें। साथ ही इसे चार भागों में विभाजित कर लें। इससे आपको निबंध लिखने में भी आसानी होगी और पढ़ने वालों की भी दिलचस्पी बढ़ेगी। ऐसे बनाएं निबंध की रूपरेखा।
प्रस्तावना
कब और क्यों मनाया जाता है विश्व एड्स दिवस
क्या होता है एड्स व इसके शुरुआती लक्षण
विश्व एड्स दिवस का महत्व व इतिहास
यह महत्वपूर्ण बिंदू आपके निबंध को अन्य छात्रों से अलग बनाएंगे। यदि आप कुछ इस तरह अपना निबंध तैयार करेंगे तो शत प्रतिशत आपको पूरे मार्क्स मिलेंगे।

विश्व एड्स दिवस पर निबंध

विश्व एड्स दिवस प्रतिवर्ष 1 दिसंबर को मनाया जाता है। इसका उद्देश्य दुनियाभर के लोगों को इस भयावह बीमारी से जागरूक करना है। एडेस को एक्वायर्ड इम्यून डेफिसिएंसी के नाम से जाना जाता है। यह वायरस शरीर के रोग प्रतिरोधक क्षमता को कमजोर कर देता है। जिसके चलते व्यक्ति एक के बाद एक बीमारी से ग्रसित होता जाता है। यदि शुरुआती स्टेज में इसका इलाज करवा लिया जाए, तो व्यक्ति काफी हद तक इस बीमारी से बच सकता है। वहीं अंतिम स्टेज पर पहुंचने के बाद इसका कोई इलाज नहीं है।
प्रत्येक वर्ष विश्व एड्स दिवस के लिए एक थीम रखी जाती है। इस साल की थीम है खुद को परीक्षण में लाना एचआईवी को समाप्त करने के लिए समानता प्राप्त करना है। इस प्रकार रूप रेखे के अनुसार अपना निबंध तैयार करें। ध्यान रहे निबंध के अंत में इससे जुड़ी किसी कहानी का जिक्र अवश्य करें, इससे निबंध पढ़ने वाले दिलचस्पी बनी रहेगी।
देश और दुनिया की ताजा ख़बरें (Hindi News) अब हिंदी में पढ़ें | एजुकेशन (education News) की खबरों के लिए जुड़े रहे Timesnowhindi.com से | आज की ताजा खबरों (Latest Hindi News) के लिए Subscribe करें टाइम्स नाउ नवभारत YouTube चैनल
लेटेस्ट न्यूज

18 साल का दिखने के लिए 20 लाख डॉलर रुपए खर्च कर रहा है 45 साल का सीईओ, जानिए उनका पूरा फिटनेस प्लान

18      20        45

लालचौक पर राहुल गांधी ने फहराया तिरंगा

Watch Video:'भारत के सबसे बड़े डिप्लोमेट श्रीकृष्ण और हनुमान जी थे', देखिए विदेश मंत्री जयशंकर की शानदार स्पीच

Watch Video

Sara Tendulkar निकलीं शाहरुख खान की फैन, लंदन में सचिन तेंदुलकर की बेटी ने देखी 'Pathaan'

Sara Tendulkar              Pathaan

ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री नाबा किशोर दास को ASI ने मारी गोली, गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती

        ASI

Mahatma Gandhi Speech, Essay, Quotes: महात्मा गांधी की पुण्यतिथि पर भाषण, निबंध, आंखें हो जाएंगी, लोग हो उठेंगे भावुक

Mahatma Gandhi Speech Essay Quotes

बॉलीवुड के Khans पर बोलना कंगना रनौत को पड़ा महंगा, यूजर्स ने लगाई सोशल मीडिया पर क्लास

  Khans

Bigg Boss 16: Tina Datta हुईं बिग बॉस से बाहर, शो छोड़ते वक्त Priyanka Choudhary को दी ये सलाह

Bigg Boss 16 Tina Datta         Priyanka Choudhary
आर्टिकल की समाप्ति

© 2023 Bennett, Coleman & Company Limited