Pune Property Tax: बकाया नहीं भरने वालों के फ्लैट होंगे जब्त, पीसीएमसी ने नोटिस जारी कर दी बड़ी चेतावनी

Pune Property Tax: प्रॉपर्टी टैक्‍स न जमा करने वाले संपत्ति मालिकों पर पीसीएमसी ने सख्‍ती शुरू कर दी है। पीसीएमसी ने शहर के 100 आवासीय हाउसिंग सोसाइटी के अध्‍यक्षों को नोटिस भेलकर फ्लैट मालिकों से प्रॉपर्टी टैक्‍स जमा कराने का कहा गया है। इसके लिए बकायादारों को 15 दिन का समय मिला है। इसके बाद पीसीएमसी द्वारा फ्लैट को जब्‍त करने की प्रक्रिया शुरू होगी।

Updated Jan 18, 2023 | 11:31 PM IST

Pune Property Tax

प्रॉपर्टी टैक्‍स बकायादारों पर पीसीएमसी की सख्‍ती

मुख्य बातें
  • लाखों संपत्ति मालिकों ने अभी तक नहीं जमा कराया टैक्‍स
  • हाउसिंग सोसाइटी के फ्लैटों में रहते हैं करीब 70 हजार बकायदार
  • पीसीएमसी ने नोटिस भेजकर दिया 15 दिन का समय


Pune Property Tax: आवासीय हाउसिंग सोसाइटी के फ्लैट में रहने वाले लोगों के लिए बड़ी खबर है। प्रॉपर्टी टैक्‍स न जमा करने वाले आवासीय हाउसिंग सोसाइटी को नोटिस जारी कर पिंपरी-चिंचवड महानगरपालिका (पीसीएमसी) के संपत्ति कर विभाग फ्लैट को जब्‍त कर लेने की चेतावनी दी है। पीसीएमसी ने इस तरह का नोटिस शहर के करीब 100 सोसाइटी के अध्यक्षों को जारी किया है। इसमें अध्‍यक्षों को कहा गया है कि, वे अपने फ्लैट मालिकों को 15 दिन के अंदर बकाया प्रॉपर्टी टैक्‍स का भुगतान करने को कहें। तय समय के दौरान टैक्‍स का भुगतान न करने की सूरत में पीसीएमसी द्वारा फ्लैट को जब्‍त करने की प्रक्रिया शुरू की जाएगी।
सोसाइटी अध्‍यक्षों को यह पत्र पीसीएमसी के सहायक नगर आयुक्त निलेश देशमुख की तरफ से जारी किया गया है। इसमें बताया गया है कि, पीसीएमसी ने प्रॉपर्टी टैक्‍स बकायादारों के खिलाफ सख्‍त अभियान चला रखा है। इस बार किसी भी तरह की रियायत नहीं दी जाएगी। दिए गए समयावधि के बाद कार्रवाई शुरू की जाएगी। बता दें कि पीसीएमसी को आवासीय श्रेणी में सबसे कम प्रॉपर्टी टैक्‍स मिल रहा है। बकायादार टैक्‍स जमा करने को तैयार नहीं हैं। जिसकी वजह से इस बार पीसीएमसी ने सख्‍ती शुरू की है।

पीसीएमसी का 480 करोड़ रुपये टैक्‍स बकाया

पीसीएमसी अधिकारियों के अनुसार, उसके सीमा क्षेत्र में करीब 5.92 लाख संपत्तियां हैं। इन संपत्तियों का टैक्‍स पीसीएमसी के 17 डिविजनल कार्यालय में जमा होता है। पिछले साल पीसीएमसी ने 625 करोड़ रुपये का टैक्‍स कलेक्‍शन किया था और इस साल इसे बढ़ाकर 1,000 करोड़ रुपये प्रॉपर्टी टैक्‍स के रूप में जुटाने का लक्ष्‍य रखा था, लेकिन अब तक पीसीएमसी को केवल 575 करोड़ रुपये ही प्रॉपर्टी टैक्‍स के रूप में मिल पाए हैं। आवासीय श्रेणी के लाखों आवास मालिकों पर पीसीएमसी का करीब 480 करोड़ रुपये अभी बकाया है। अधिकारियों के अनुसार, पीसीएमसी सीमा में कई बड़ी आवासीय सोसायटियां हैं। इन सोसायटियों में ही करीब 50 से 70 हजार बकाएदार मौजूद हैं। इसलिए सबसे ज्‍यादा फोकस इन्‍हीं पर किया जा रहा है। अधिकारियों के अनुसार इन सोसाइटी के अध्यक्षों और सचिवों को अभी पत्र लिखकर बकाएदारों को प्रॉपर्टी टैक्‍स जमा करने के लिए प्रेरित करने को कहा गया है। इसके बाद कार्रवाई शुरू होगी।
देश और दुनिया की ताजा ख़बरें (Hindi News) अब हिंदी में पढ़ें | पुणे (cities News) की खबरों के लिए जुड़े रहे Timesnowhindi.com से | आज की ताजा खबरों (Latest Hindi News) के लिए Subscribe करें टाइम्स नाउ नवभारत YouTube चैनल
लेटेस्ट न्यूज

मामी के साथ इश्क में ऐसा डूबा भांजा कि मामा को ही उतार दिया मौत के घाट, गोलियों से छलनी कर दिया सीना

Video: अडानी के मुद्दे पर सदन में चर्चा न होने के पीछे क्या है कारण? वित्त मंत्री बोलीं- चर्चा से कौन भाग रहा है

Video                 -

Video: बजट को छोड़ अडानी के शेयरों की ज्यादा चर्चा के पीछे कोई षड्यंत्र है? वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने दिया ये जवाब

Video

SC में 5 नए जजों की नियुक्ति, पटना-राजस्थान-मणिपुर हाईकोर्ट को मिले कार्यवाहक चीफ जस्टिस

SC  5     --

2047 तक भारत को इस्लामिक देश बनाने की योजना का खुलासा, महाराष्ट्र ATS के हाथ लगा PFI का प्लान

2047            ATS    PFI

Asia Cup 2023: पाकिस्तान नहीं जाएगा भारत, मार्च में नए वेन्यू पर होगा फैसला, UAE मेजबानी को तैयार

Asia Cup 2023            UAE

अभी थोड़े दिन रुकिए, मोदी की हवा है, नीतीश ने कैसे लोगों को 3 बार दिया धोखा, प्रशांत किशोर का बड़ा खुलासा

             3

उत्तर प्रदेश सर्वोत्तम प्रदेश बनने की ओर अग्रसर है, दुनिया के लोग हो रहे है आकर्षित, बोले योगी के मंत्री नंद गोपाल नंदी

आर्टिकल की समाप्ति

© 2023 Bennett, Coleman & Company Limited