गिरते शेयर मार्केट में भी नहीं होगा नुकसान, यहां मिलेगा गारंटीड रिटर्न

Utility News
डिंपल अलावाधी
Updated Jun 17, 2022 | 10:15 IST

SBI RD Interest Rates: 2 साल से 4 साल से कम की रिकरिंग डिपॉजिट पर भारतीय स्टेट बैंक 15 आधार अंक ज्यादा ब्याज देगा। यह दर अब 5.35 फीसदी कर दी गई है, जो पहले 5.20 फीसदी थी।

State Bank of India SBI increases recurring deposit RD interest rates
यहां पैसा लगाने पर मिलेगा गारंटीड रिटर्न, नहीं होगा नुकसान  |  तस्वीर साभार: BCCL
मुख्य बातें
  • एसबीआई की रिकरिंग डिपॉजिट की नई दरें 14 जून से प्रभावी हो गई हैं।
  • सीनियर सिटीजन को एसबीआई आरडी पर अतिरिक्त 50 आधार अंकों का फायदा देता है।
  • रिकरिंग डिपॉजिट सालों से निवेशकों का पसंदीदा विकल्प रहा है।

नई दिल्ली। कमजोर ग्लोबल संकेतों के बीच भारतीय शेयर बाजार (Share Market) पिछले कई दिनों से गिर रहा है। विदेशी संस्थागत निवेशक बाजार से लगातार पूंजी की निकासी कर रहे हैं। दरअसल शेयर बाजार जोखिम भरा होता है। जरूरी नहीं कि आपने जो शेयर खरीदे हैं भविष्य में वो आपको अच्छा रिटर्न ही देंगे। उनकी कीमत गिर भी सकती है। ऐसे में निवेशकों को लाखों- करोड़ों का नुकसान हो सकता है। इस बीच कई ऐसे विकल्प (Investment Option) मौजूद हैं जिनमें आपको गारंटीड रिटर्न मिलता है। यानी अगर शेयर मार्केट गिर भी जाए, तो भी आपको अच्छा रिटर्न ही मिलेगा। अगर आप रिस्क नहीं लेना चाहते हैं, तो आप भी रिकरिंग डिपॉजिट (Recurring Deposit) में निवेश कर सकते हैं।

एसबीआई ने बढ़ाई आरडी की ब्याज दरें
अच्छी बात यह है कि भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने रिकरिंग डिपॉजिट (RD) की ब्याज दरों में वृद्धि भी की है। सामान्य ग्राहकों को एसबीआई आरडी पर 5.3 फीसदी से 5.5 फीसदी तक गारंटीड रिटर्न देता है। वहीं सीनियर सिटीजन को अतिरिक्त 50 आधार अंकों का फायदा मिलता है।

SBI से लेकर HDFC बैंक तक, इन सभी बैंकों ने बढ़ा दी है एफडी की ब्याज दर

एसबीआई आरडी की ब्याज दरें (SBI RD Interest Rates)

  • 1 साल से 2 साल से कम की अवधि के लिए - 5.30 फीसदी
  • 2 साल से 3 साल से कम की अवधि के लिए - 5.35 फीसदी
  • 3 साल से 5 साल से कम की अवधि के लिए - 5.45 फीसदी
  • 5 साल और 10 साल तक की अवधि के लिए - 5.5 फीसदी

पहले की थी एमसीएलआर में बढ़ोतरी
इससे पहले सरकारी सेक्टर के भारत के सबसे बड़े बैंक, एसबीआई ने मार्जिनल कॉस्ट ऑफ फंड्स बेस्ड लेंडिंग रेट (MCLR) में भी बढ़ोतरी की थी। इसे 20 आधार अंक बढ़ाया गया था। बेंचमार्क एक वर्षीय एमसीएलआर को 7.20 फीसदी से बढ़ाकर 7.40 फीसदी कर दिया गया था। ज्यादातर ग्राहकों के लोन जैसे ऑटो लोन, होम होल और पर्सनल लोन एमसीएलआर से जुड़े होते हैं।

LPG new Gas Connection: नया रसोई गैस कनेक्शन लेना हुआ महंगा, अब चुकाने होंगे ज्‍यादा दाम

(Disclaimer: यहां टाइम्स नाउ नवभारत द्वारा किसी भी योजना में निवेश की सलाह नहीं दी जा रही है। यह सिर्फ जानकारी देने के उद्देश्य से लिखा गया है। किसी भी योजना में निवेश करने से पहले एक्सपर्ट की सलाह जरूर लें।)

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर