सांसद ने अंडरवियर में छिपा रखा था पैसा, जांच अधिकारियों के छापे में हुआ खुलासा, देना पड़ा इस्‍तीफा

Brazil news: ब्राजील में एक सांसद पर कोरोना फंड में गड़बड़ी का आरोप लगा। पुलिस ने उनके घर पर छापा मारा, जहां जांचकर्ताओं ने उनके अंडरवियर से बड़ी रकम बरामद की।

सांसद ने अंडरवियर में छिपा रखा था पैसा! जांच अधिकारियों के छापे में हुआ खुलासा, देना पड़ा इस्‍तीफा
सांसद ने अंडरवियर में छिपा रखा था पैसा! जांच अधिकारियों के छापे में हुआ खुलासा, देना पड़ा इस्‍तीफा  |  तस्वीर साभार: AP

मुख्य बातें

  • ब्राजील में जांचकर्ताओं ने सांसद के अंडवियर से पैसे बरामद किए
  • कोरोना फंड में गड़बड़ी के आरोपों पर पुलिस छापा मारने पहुंची थी
  • इसके बाद राष्‍ट्रपति जेयर बोलसनारो की सरकार पर सवाल उठ रहे हैं

रियो डी जेनेरियो : दुनियाभर में कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच इससे लड़ने के लिए जारी होने वाले अनुदानों में गड़गड़ी के मामले भी सामने आ रहे हैं। ब्राजील में भी कोरोना संकट के बीच भ्रष्‍टाचार का मुद्दा भी जोर पकड़ रहा है। ऐसे ही आरोपों पर भ्रष्टाचार निरोधक इकाई ने जब छापेमारी की तो एक सांसद को अंडवियर में रुपये के साथ पकड़ा गया।

जांच के दौरान अधिकारियों ने सांसद चिको रोड्रिग्स के अंडरवियर से एक बड़ी रकम बरामद की, जो भारतीय मुद्रा में लगभग 3 लाख 88 हजार रुपये के बराबर है। रोड्रिग्स, ब्राजील के राष्‍ट्रपति जेयर बोलसनारो की पार्टी के सांसद हैं। आरोप है कि उन्‍होंने अंडरवियर में रुपये छिपा रखे थे। उनके घर पर बुधवार को छापा मारा गया था, जब जांच अधिकारियों ने यह रकम सांसद के अंडरवियर से बरामद की।

कोरोना फंड में धांधली के आरोप

भ्रष्टाचार निरोधक इकाई को कोरोना फंड में गड़बड़ी की शिकायत मिली थी, जि‍समें सत्ताधारी पार्टी के सीनेटर के खिलाफ भी आरोप लगाए गए थे। सांसद पर रोरिमा राज्य में कोरोना वायरस से निपटने के लिए आवंटित फंड में हेराफेरी के आरोप लगाए गए। 

अपने घर पर हुई छापेमारी के बाद रोड्रिग्स ने बयान जारी किया, जिसमें उन्‍होंने कहा कि पुलिस ने एक मामले में उनके घर की जांच की। हालांकि सांसद ने अपने पास से बरामद बड़ी धनराशि के बारे में कोई जानकारी नहीं दी, बल्कि जोर देकर कहा कि उन्होंने कुछ भी गलत नहीं किया है और यह सब उन्हें बदनाम करने के लिए किया गया है। बाद में उन्‍होंने अपने पद से इस्‍तीफा दे दिया।

सवालों के घेरे में राष्‍ट्रपति बोलसनारो

इस घटना को लेकर राष्ट्रपति बोलसनारो ने भी प्रतिक्रिया दी है। उन्‍होंने आरोप लगाया कि मीडिया ने पूरे मामले को बढा-चढाकर दिखाया। साथ ही यह भी कहा कि मीडिया उनकी सरकार को भ्रष्ट बताने के लिए फर्जी कहानी बना रही है।

यहां उल्‍लेखनीय है कि बोलसनारो 2018 में तत्‍कालीन सरकार के खिलाफ भ्रष्टाचार का मुद्दा उठाकर ही सत्‍ता में आए थे। लेकिन पिछले दो साल के उनके कार्यकाल में भी सरकार पर भ्रष्‍टाचार के कई आरोप लगे हैं। यहां तक कि उनके बेटे फ्लेवियो पर भी भ्रष्‍टाचार के आरोप हैं। 

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर