Parenting Tips: ज्योतिष और परवरिश में जानिए बच्चों के लालन−पालन की ये जरूरी 10 बातें, कुंडली का ये ज्ञान करेगा मदद

Parenting Tips: बच्चों की परवरिश को लेकर माता पिता रहते हैं चिंतित। बेटी की कुंडली में यदि मंगल, शुक्र, चंद्र का योग तो भटक सकती है वो। रखें दोस्ताना व्यवहार। बच्चे के गले में पहनाएं रुद्राक्ष की माला। घर में रखेंगे सकारात्मक और सात्विक माहौल तो बच्चे की परवरिश हो सकेगी आदर्श। दस पॉइंट में जानिए कैसे किया जाए बच्चों का लालन पालन।

Updated Jan 18, 2023 | 11:36 AM IST

Parenting Tips

ज्योतिष और बच्चों की परवरिश।

मुख्य बातें
  • आज की थाेड़ी सावधानी संवार सकती है बच्चे का कल
  • ज्योतिष के उपायों को अपनाते हुए करें बच्चे की परवरिश
  • बच्चे के गले में रुद्राक्ष की माला पहनाने से मिलता है फायदा
बच्चों की परवरिश एक तपस्या है और यह तपस्या हर माता− पिता को करनी ही होती है। फिर भले ही उस तपस्या का स्वरूप और तरीका अलग ही क्यों न हो। हर मां का हृदय अपनी संतान के लिए अलग ही गुलाटियां खाता है तो हर पिता अपने बच्चे को अपने से भी आगे निकलता हुआ देखना चाहता है। आसपास के समाज में लगातार हो रहे बदलाव और बिखराव को देखकर आज माता पिता अपने बच्चे के भविष्य को लेकर शंकित हैं। वो हर यत्न करना चाहते हैं। हां बेशक ज्योतिष के उपाय माता पिता की इसमें मदद भी कर सकते हैं। आइये आपको बताते हैं उन प्रमुख उपायों के बारे में जिन्हे आज अपनाकर आप अपने बच्चे का कल सुधार सकते हैं।
बच्चों की परवरिश से जुड़ी महत्वपूर्ण बातें
1- अच्छी परवरिश के जरिए बच्चे के भाग्य को बढ़ाया जा सकता है। माता-पिता दोनों मिलकर बच्चे पर ध्यान दें। माता− पिता अपने वात, पित्त और कफ को नियंत्रित करें। अपनी घबराहट नियंत्रण करना सीखें, क्योंकि बच्चे स्पंदन की भाषा समझते हैं। माता−पिता गुस्सा और महत्वाकांक्षाओं पर नियंत्रण करना सीखें।
2− कुंडली में मंगल, शुक्र, चंद्र का योग है तो बच्चे हमेशा भावनात्मक सहयोग चाहेंगे। भावनात्मक सहयोग की चाह में लड़कियां गलत रास्ते पर भटक जाती हैं।
3− रुद्राक्ष की माला पांच या सात मुखी पहनाएं। बच्चियों के साथ दोस्ताना व्यवहार रखें, शुक्रवार को चावल या साबूदाना की खीर किसी बुजुर्ग को बच्ची के हाथ से खिलवाएं।
4− पिता, भ्राता का सहयोग न मिलने पर भी बच्चों में भटकाव आ जाता है। पिता बच्चों के साथ बैठें, बात करें और उनके साथ समय व्यतीत करें।
5− मिट्टी के बर्तन में पानी भरकर कलश स्थापित करें। पीला कपड़ा लपेटकर बच्चे की तस्वीर या फोटो उसके नीचे रखें। धीरे-धीरे बच्चे का गुस्सा कम होगा।
6− घर में कलह, राहु, शनि खराब होने से बच्चा तरक्की नहीं करेगा।
7− घर में यथा संभव सात्विक माहौल रखें। सुबह शाम बच्चों को पूजा में शामिल जरूर करें।
8− सुबह उठकर बच्चे को सूर्य दर्शन जरूर कराएं। स्कूल जाने से पहले बच्चों को सूर्य देव को अर्घ्य देने की आदत डलवाएं। इससे उनका सूर्य ग्रह मजबूत होगा और बुद्धि एवं तेज की वृद्धि होगी।
9− अधिक से अधिक कोशिश करें कि घर में किसी तरह की चुगली आदि न हो। घर के अंदर सदैव ही ज्ञान की बातें करें। सुविचार पढ़ने की और बच्चों के साथ साझा करने की आदत डालें।
10− माता पिता बच्चाें के सामने आदर्श स्थापित करने का प्रयास करें।
परवरिश तपस्या का स्वरूप कैसा भी हो लेकिन फिर भी हर माता पिता का यह स्वप्न होता है कि उनकी संतान उत्तम हो, विलक्षण हो और वे अपना जीवन उत्कृष्ट रूप से जी सकें। लेकिन इस स्वप्न को कल साकार रूप में देखने के लिए आपको आज और अभी से मेहनत करनी होगी।
(डिस्क्लेमर: यह पाठ्य सामग्री आम धारणाओं और इंटरनेट पर मौजूद सामग्री के आधार पर लिखी गई है। टाइम्‍स नाउ नवभारत इसकी पुष्‍ट‍ि नहीं करता है।)
देश और दुनिया की ताजा ख़बरें (Hindi News) अब हिंदी में पढ़ें | अध्यात्म (spirituality News) की खबरों के लिए जुड़े रहे Timesnowhindi.com से | आज की ताजा खबरों (Latest Hindi News) के लिए Subscribe करें टाइम्स नाउ नवभारत YouTube चैनल
लेटेस्ट न्यूज

कूर्म प्रभाकर के इस प्रयोग से 100 किमी दूर बैठे रोगी का भी हो सकता है उपचार, बस मंत्र और हाथाें का उपयोग हो सही

      100

पीएम मोदी ने जब लोकसभा में शायरी के जरिए राहुल गांधी पर कसा तंज, संसद में गूंजे ठहाके [VIDEO]

                  VIDEO

Goa Board Result 2023: गोवा बोर्ड कक्षा 10 का टर्म 1 रिजल्ट result1.gbshse.in पर जारी, डायरेक्ट लिंक करें चेक

Goa Board Result 2023    10   1  result1gbshsein

ICC T20 Ranking: सूर्यकुमार यादव का जलवा बरकरार, गिल ने मारी ऊंची छलांग

ICC T20 Ranking

IND vs AUS: शुभमन गिल या सूर्यकुमार यादव? रोहित ने बताया किसे मिलेगा नागपुर टेस्ट में मौका

IND vs AUS

VIDEO: दुल्हन ने दूल्हे और परिवार को पिलाई नशीली चाय, फिर किया ऐसा कांड...

VIDEO

Systematic Investment Plan: एसआईपी टॉप अप के क्या लाभ हैं?

Systematic Investment Plan

Mahindra Bolero से XUV300 तक मिल रहा 70,000 रुपये डिस्काउंट, लपक लें ऑफर

Mahindra Bolero  XUV300    70000
आर्टिकल की समाप्ति

© 2023 Bennett, Coleman & Company Limited