सर्दी में जरूर खाएं बाजरे की रोटी, टेस्‍ट के साथ बनेगी हेल्‍थ, जानें क‍िन समस्‍याओं में मिलेगा आराम

ठंड के दिनों में बाजरे का आटा खाना सेहत के लिए बेहद फायदेमंद होता है। ये डायब‍िटीज से लड़ने में मदद करता है और साथ ही कोलेस्‍ट्रॉल को भी कंट्रोल में करता है। देखें इसके और फायदे।

Health Benefits of Bajra Flour, Benefits of Bajra Flour, Benefits of Eating Bajra Flour for Winter Season, advantages of eating bajra roti, Health Benefits of Bajra Flour in hindi,बाजरे के आटे का स्वास्थ्य लाभ, बाजरे के आटा का लाभ,
जाड़े में बाजरे के सेवन का फायदा 
मुख्य बातें
  • बाजरे का आटा ग्‍लूटेन फ्री होता है
  • बाजरे के आटे में फाइबर भरपूर मात्रा में पाया जाता है
  • डायबिटीज रोगियों के लिए बाजरे का आटा बेहद फायदेमंद होता है

Health Benefits of Bajra Flour: अधिकांश घरों में गेहूं के आटा का इस्तेमाल खाने के लिए किया जाता है। लेकिन कई घरों में लोग गेहूं के आटा के साथ-साथ बाजरे की रोटी भी बड़ी चाव के साथ खाते हैं। आजकल तो बाजरे के आटे का मार्केट में काफी डिमांड बढ़ गया है। क्या आप जानते हैं, ठंड के दिनों में बाजरा का आटा हमारे सेहत के लिए फायदेमंद हो सकता है। 

बाजरे का आटा हमारे पाचन क्रिया को मजबूत बनाने के साथ-साथ हमें कई तरह की बीमारियों से भी बचाता हैं। बाजरे के आटे में फाइबर और अमीनो एसिड भरपूर मात्रा में पाई जाती है। यदि आप अपने शरीर को भरपूर मात्रा में पोषक तत्व देना चाहते हैं, तो अपने डाइट में बाजरे का आटा खासकर ठंड के दिनों में जरूर शामिल करें। यहां आप बाजरे का आटा खाने के अद्भुत फायदों के बारे में जान सकते हैं।

बाजरे के आटे के फायदे 

1. फाइबर से है भरपूर बाजरे का आटा

एक्सपर्ट के अनुसार बाजरे का आटा ग्लूटेन फ्री होता है। इसमें फाइबर की मात्रा काफी पाई जाती है।यदि आप बाजरे के आटे का रोज सेवन करें, तो आपको कब्ज की समस्याओं से भी निजात मिल सकता है। फाइबर भरपूर मात्रा में पाए जाने के कारण इसे खाने से लंबे समय तक भूख नहीं लगती है। यदि आप इसे अपने डाइट में रोजाना शामिल कर ले, तो आप आसानी से अपना वेट लॉस कर सकते हैं। यह आटा प्री-बायोटिक के रूप में काम करता है। यदि डायबिटीज वाले रोगी इसका सेवन करें, तो उनके लिए यह बेहद फायदेमंद साबित हो सकता है।

2. द‍िल का रखे ख्‍याल 

 यदि आप दिल के रोगी है, तो आपके लिए बाजरे का आटा बेहद फायदेमंद हो सकता है। बाजरा में मैग्नीशियम, पोटेशियम भरपूर मात्रा में पाया जाता हैं। बाजरे का आटा ब्लड वेसल्स को फैलाने में भी काफी मदद करता है। यदि ब्लड प्रेशर वाले रोगी बाजरे का आटा खाए, तो इसमें मौजूद फाइबर उनके कोलेस्ट्रोल को कंट्रोल में रख सकता है। इसकी सबसे बड़ी खासियत यह है, कि इसका सेवन करने से डायबिटीज होने का खतरा कम रहता है।

3. डिटॉक्सिंग एजेंट से भरपूर

एक्सपर्ट के अनुसार बाजरे के आटे में फाइटिक एसिड, टैनिन और फिनोल जैसे एंटी-ऑक्सीडेंट प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं। यदि आप इसे अपने डाइट में शामिल कर ले, तो आपकी बढ़ती हुई उम्र बहुत हद तक कंट्रोल में रह सकती है। यह हमारे इम्यून सिस्टम को भी मजबूत करने में काफी मदद करता है। यदि आप इसका सेवन रोजाना करें, तो आपके शरीर से विषाक्त पदार्थ बड़ी आसानी से बाहर निकल सकता है और आप किडनी या लीवर संबंधित बीमारियों से खुद को बचा सकते हैं।

4. डायबिटीज को करें कंट्रोल

बाजरे के आटे में फाइबर काफी मात्रा में पाई जाता है। यदि डायबिटीज वाले रोगी इनका सेवन रोजाना करें, तो उनकी यह बीमारी कंट्रोल में रह सकती है। उन्हें प्रचुर मात्रा में मैग्नीशियम और ऊर्जा मिल सकता हैं।

5. बाजरे में है ओमेगा 3 फैटी एसिड

बाजरे का आटा खाने से बीपी, ट्राइग्लिसराइड्स या हार्ड अटैक जैसी बीमारियों का खतरा कम होता है। यदि आप रोजाना इसका सेवन करें, तो आपने ऑडियो को लंबे समय तक सुरक्षित रख सकते है। एक्सपर्ट के अनुसार बाजरे के आटे में दूसरे अनाज की तुलना में अधिक ओमेगा 3 फैटी एसिड पाया जाता है।

डिस्क्लेमर: प्रस्तुत लेख में सुझाए गए टिप्स और सलाह केवल आम जानकारी के लिए हैं और इसे पेशेवर चिकित्सा सलाह के रूप में नहीं लिया जा सकता। किसी भी तरह का फिटनेस प्रोग्राम शुरू करने अथवा अपनी डाइट में किसी तरह का बदलाव करने से पहले अपने डॉक्टर से परामर्श जरूर लें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर