Asperger Syndrome: इस अनोखी बीमारी से पीड़ित हैं एलन मस्क, इस वजह से लिखते हैं अतरंगी पोस्ट

Aspergers Syndrome Disease: एलन मस्क एस्पर्जर्स सिंड्रोम नाम की अनोखी बीमारी से जूझ रहे हैं। यह बीमारी हजार लोगों में एक लोगों को होती हैं। यह बदलते वातावरण वह जेनेटिक के कारण हो सकती हैं।

Asperger's Syndrome Disease
Elon Musk  |  तस्वीर साभार: Instagram
मुख्य बातें
  • एलन मस्क सोशल मीडिया पर अपनी अतरंगी पोस्ट को लेकर काफी सुर्खियों में रहते हैं
  • एलन मस्क ने बताया था कि वह एस्पर्जर्स सिंड्रोम बीमारी से जूझ रहे हैं
  • एस्पर्जर्स सिंड्रोम में व्यक्ति अपने आसपास की चीजों को अलग नजर से देखता है

What Is Aspergers Syndrome : दुनिया में वैसे तो कई हस्तियां है जो हमेशा चर्चा का विषय बने रहते हैं, इनमें से एक है एलन मस्क। एलन मस्क टेस्ला और स्पेसएक्स कंपनी के मालिक हैं। एलन मस्क सोशल मीडिया पर अपनी अतरंगी पोस्ट को लेकर काफी सुर्खियों में रहते हैं। एलन मस्क ने पिछले साल अमेरिकी कॉमेडी टेलीविजन शो में बताया था कि वह एक ऐसी बीमारी से जूझ रहे हैं जो अनोखी हैं। बीमारी का नाम लेते हुए उन्होंने बताया कि वह एस्पर्जर्स सिंड्रोम नामक एक अनोखी बीमारी से जूझ रहे हैं। उन्होंने इस बात का भी खुलासा किया था कि वह पहले इंसान है जो इस बीमारी से जूझ रहे हैं। 

डॉक्टरों की मानें तो एस्पर्जर्स सिंड्रोम एक ऐसी बीमारी है जिसमें व्यक्ति अपने आसपास की चीजों को अलग नजर से देखता है। आम लोगों की तुलना में उसकी सोच अलग होती है। एलन मास्क ने इस बात का भी खुलासा किया था कि वे अपनी इस बीमारी की वजह से ही अजीबोगरीब पोस्ट सोशल मीडिया पर करते हैं। उन्होंने कहा था कि मेरा दिमाग जिस तरीके से काम करता है मैं उस तरीके की बातें सोशल मीडिया पर शेयर करता हूं। आइए जानते हैं एस्पर्जर्स सिंड्रोम के बारे में...

Also Read: गर्मी में हो गया है डायरिया, तो इन घरेलू उपायों से करें बचाव

जानें, क्या है एस्पर्जर्स सिंड्रोम?
एस्पर्जर्स सिंड्रोम एक ऐसी बीमारी है जो आजीवन बनी रहती हैं। इस बीमारी का कोई इलाज नहीं है एस्पर्जर्स सिंड्रोम में व्यक्ति आम व्यक्ति के जैसा ही होता है, लेकिन उसका दिमाग बाकी आम लोगों से काफी तेज दौड़ता है। इस बीमारी से पीड़ित व्यक्ति को एक ही विषय पर बार-बार बात करने और चीजों को दोहराने की आदत होती है। एस्पर्जर्स सिंड्रोम में व्यक्ति दूसरे के हाव-भाव को जल्दी समझ नहीं पाता है और अपनी बातों को दूसरों को समझाने में भी असफल रहता है।

ज्यादा नहीं चल पाता व्यक्ति
एस्पर्जर्स सिंड्रोम से पीड़ित व्यक्ति न ज्यादा चल पाता है न ज्यादा दौड़ पाता है। ऐसे व्यक्ति एक ही हरकत को बार-बार दोहराते हैं, लेकिन किसी भी अलग काम को लेकर आम व्यक्ति की तुलना में पर एस्पर्जर्स सिंड्रोम के व्यक्ति की दिलचस्पी ज्यादा होती हैं। उन्हें नई चीजों को जानना काफी पसंद आता है।

इन कारणों से हो सकती है बीमारी

एस्पर्जर्स सिंड्रोम की बीमारी व्यक्ति को बचपन से ही होती है। माना गया है कि यह पर्यावरण में होने वाले बदलाव के कारण होता है। यह जेनेटिक भी हो सकता है। एक्सपर्ट की माने तो एस्पर्जर्स सिंड्रोम में महिलाओं से ज्यादा पुरुषों में होता हैं। बचपन में ही इसके लक्षण दिखने पर डॉक्टर से तुरंत सलाह लेनी चाहिए।

(डिस्क्लेमर: प्रस्तुत लेख में सुझाए गए टिप्स और सलाह केवल आम जानकारी के लिए हैं और इसे पेशेवर सलाह के रूप में नहीं लिया जा सकता। क‍िसी भी तरह के ब्‍यूटी रुटीन से पहले एक्‍सपर्ट की सलाह जरूर लें।)

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर