Varanasi Police Encounter: पुलिस एनकाउंटर में बिहार के दो शातिर बदमाश ढेर, ऐसे चला घटनाक्रम

Varanasi Police Encounter: रिंग रोड वाजिदपुर के पास पुलिस ने दहशत का पर्याय बन चुके दो बदमाशों को एनकाउंटर में मार गिराया। हालांकि इस बीच एक बदमाश भागने में कामयाब रहा। पुलिस के मुताबिक, मुठभेड़ में पुलिस की गोलियों का शिकार बनें दोनों बदमाश गत दिनों में एक थानेदार अजय यादव को गोली मारकर व सर्विस रिवाल्वर लूट कर फरार हो गए थे

टाइम्स नाउ नवभारत

Updated Nov 22, 2022 | 07:28 PM IST

Varanasi News

वाराणासी में दो बदमाशों को एनकाउंटर में ढेर करने को लेकर जानाकारी देते हुए डीजीपी देवेंद्र सिंह चौहान

तस्वीर साभार : ANI
मुख्य बातें
  • यूपी में दारोगा की हत्या कर पिस्टल छीनने के बाद पुलिस को थी इनकी तलाश
  • दो सगे भाइयों को पुलिस ने एनकाउंटर में ढेर कर दिया
  • डीजीपी ने टीम को 2 लाख नगद पुरस्कार देने की घोषणा की
Varanasi Police Encounter: वाराणसी में एक बार फिर से पुलिस का इकबाल बुलंद हुआ है। जहां रिंग रोड वाजिदपुर के पास पुलिस ने दहशत का पर्याय बन चुके दो बदमाशों को एनकाउंटर में मार गिराया। हालांकि इस बीच एक बदमाश भागने में कामयाब रहा। पुलिस के मुताबिक, मुठभेड़ में पुलिस की गोलियों का शिकार बनें दोनों बदमाश गत दिनों में एक थानेदार अजय यादव को गोली मारकर व सर्विस रिवाल्वर लूट कर फरार हो गए थे।
यूपी पुलिस को तभी से इनकी तलाश थी। एनकाउंटर के बाद एक हैरान करने वाली जानकारी पुलिस के सामने आई। मारे गए दोनों बदमाश सगे भाई निकले व जो फरार हुआ वो भी मृतकों का भाई था। मुठभेड़ में ढेर हुए दोनों बदमाशों का बड़ा आपराधिक रिकॉर्ड है। पुलिस के मुताबिक, बिहार के समस्तीपुर सहित आसपास के जनपदों में गत एक दशक से इनका लोगों में खौफ था। पुलिस आयुक्त ए सतीश गणेश के मुताबिक, तीन महीने पहले ये बदमाश पटना डीजी कोर्ट में पेशी के दौरान टॉयलेट की दीवार फांदकर फरार हुए थे। इसके बाद से ये वाराणासी में मंडुवाडीह इलाके में फरारी काट रहे थे।

बदमाशों के मोबाइल की होगी जांच

पुलिस के सामने बड़ा सवाल ये था कि, आखिर बीते 9 नवंबर को रोहनिया इलाके के गांव दरेखूं में थानेदार अजय यादव को गोली क्यों मारी। पुलिस आयुक्त ए सतीश गणेश के मुताबिक, लक्सा थाने में तैनात एसएचओ अजय यादव से पिस्टल लूटना बदमाशों का मेन टारगेट था। जिसके चलते दरेखूं स्थित अजय यादव के निर्माणाधीन मकान के पास तीनों बदमाशों ने उन पर हमला कर दिया। दो आरोपियों ने उन्हें पकड़ लिया। तीसरे ने एसएचओ के सीने पर गोली दाग दी। इसके बाद बदमाश उनका मोबाइल, पर्स और सरकारी छीन कर मौके से फरार हो गए। पुलिस आयुक्त के मुताबिक, पुलिस मुठभेड़ में मारे गए दोनों बदमाशों की शिनाख्त बिहार के समस्तीपुर जनपद के मोहद्दीपुर थाना इलाके के गांव गोलवा के रहने वाले रजनीश सिंह व मनीष सिंह के तौर पर हुई है। जबकि तीसरा बदमाश लल्लन सिंह फरार हो गया। बदमाशों से कब्जे से पुलिस को दरोगा की लूटी गई पिस्टल सहित दो पिस्टल, बाइक व अन्य दस्तावेज बरामद हुए हैं। पुलिस आयुक्त के मुताबिक, बदमाशों के मोबाइल के सीडीआर को खंगाला जाएगा। जिससे पता लगेगा कि, यहां पर कौन लोग इनके संपर्क में थे व किन लोगों ने इन्हें पनाह दी।

डीजीपी की घोषणा टीम को मिलेगा इनाम

एनकाउंटर में अहम किरदार निभाने वाले इंस्पेक्टरों को अब एसएचओ बनाया जाएगा। डीजीपी देवेंद्र सिंह चौहान ने पुलिस टीम की दो- दो लाख देने की घोषणा की है। उन्होंने यूपी की जनता को संदेश दिया है कि, कानून हाथ में लेने वाले को बख्सा नहीं जाएगा। मुठभेड़ में अहम भूमिका निभाने वाले एसआईटी के सदस्य दो दरोगा को पदोन्नत कर थाना प्रभारी बनाया गया है। बता दें कि, हरहुआ रिंग रोड किनारे सुबह अचानक गोलियों की तड़तड़ाहट से इलाके के ग्रामीण सहम गए। इलाके से गुजर रहे ग्रामीण भी सहम कर रूक गए। पुलिस के लवाजमे को देखकर ग्रामीणों को समझ नहीं आया कि, आखिर हुआ क्या। बाद में पता चला कि, दो बदमाशों को पुलिस ने एनकाउंटर में ढेर कर दिया।
लेटेस्ट न्यूज

केजरीवाल ने किया AAP के राष्ट्रीय पार्टी बनने का दावा, पूर्व सहयोगी आशुतोष ने उड़ाई खिल्ली-Video

   AAP            -Video

भाजपा ने 76 साल के उम्मीदवार को चुनावी मैदान में उतारने के लिए तोड़े थे नियम, दर्ज की एक लाख वोटों से जीत

  76

VIDEO: कैच लेते हुए टूट गए चार दांत, दर्द में दिखे श्रीलंकाई क्रिकेटर चमिका करुणारत्ने

VIDEO

कुढनी विधानसभा उपचुनाव के नतीजे पर बोले पीएम नरेंद्र मोदी, बिहार में BJP की जीत आने वाले दिनों का संकेत है

            BJP

बांग्लादेश के खिलाफ टेस्ट सीरीज में ये खिलाड़ी ले सकते हैं रोहित, जडेजा और शमी की जगहः रिपोर्ट

Bigg Boss 16: टीवी की बहू टीना दत्ता फूट फूटकर रोईं जोड़े बिग बॉस के सामने हाथ, बोलीं- मुझे घर जाना है...

Bigg Boss 16               -

Muslim Candidate Win: गुजरात विधानसभा चुनाव में एक ही 'मुस्लिम उम्मीदवार' जीता, इस पार्टी से लड़ा था चुनाव

Muslim Candidate Win

गुजरात चुनाव में ऐतिहासिक जीत पर बोले पीएम मोदी, मैं चाहता था नरेंद्र का रिकॉर्ड भूपेंद्र तोड़े, युवाओं ने कर दिखाया

आर्टिकल की समाप्ति

© 2022 Bennett, Coleman & Company Limited