Mohammad Rafi Bhojpuri Song: मोहम्मद रफी ने गाए दो दर्जन से ज्यादा भोजपुरी गाने, क्या आपने सुने?

Rafi Bhojpuri Song: मोहम्मद रफी की आवाज में गाए गानों को पुराने के साथ नए जमाने के लोग भी खूब पसंद करते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि रफी साहब ने एक नहीं बल्कि दो दर्जन से ज्यादा भोजपुरी गीतों को भी अपनी आवाज दी है।

Mohammad Rafi
रफी साहब के भोजपुरी गाने  |  तस्वीर साभार: Instagram
मुख्य बातें
  • पहली भोजपुरी फिल्म के गाने को रफी साहब ने दी थी आवाज
  • मोहम्मद रफी ने गाए दो दर्जन से अधिक भोजपुरी गीत
  • यूट्यूब पर शेयर किया गया रफी साहब का भोजपुरी गीत जिया कसक मसक मोर..

Mohammad Rafi Bhojpuri Songs Video: आज भोजपुरी गीतो में ताम-झाम और अश्लीलता का भरपूर तड़का देखने को मिलता है। यही कारण है कि आज भोजपुरी गानों पर फूहड़ता का ठप्पा लग चुका है। लेकिन भोजपुरी सभी भाषाओं में सबसे प्यारी, मधुर और मीठी है। भोजपुरी भाषा के गानों के बिना तो शादी-ब्याह, तीज-त्योहार और खास समारोह अधूरे लगते हैं। जैसे हिंदी, पंजाबी और बंगाली भाषा लोकप्रिय है, उसी तरह एक समय भोजपुरी गानों को खूब पसंद किया जाता था। आज जिस तरह हिंदी फिल्मों में पंजाबी और अंग्रेजी गानों को शामिल किया जाता है। उसकी तरह एक दौर ऐसा भी था जब हिंदी फिल्में भोजपुरी गानों के बिना अधूरी होती थी। कई दिग्गज गायकों ने भोजपुरी गानों को अपनी आवाज दी। इन्हीं में से एक थे महान गायक मोहम्मद रफी साहब।

दिग्गज गायक मोहम्मद रफी के गानों को पुराने के साथ नए जेनेरेशन के लोगों द्वारा भी खूब पसंद किया जाता है। रफी साबह ने कई गीतों को अपनी सुरीली और मधुर आवाज में पिरोया। लेकिन क्या आप जानते हैं कि हिंदी फिल्मों के मशहूर गायक रफी साहब ने भोजपुरी फिल्मों के गीतों को भी अपनी आवाज दी है।

पढ़ें- पवन सिंह के भाई रितिक सिंह से नेहा राज ने मांगा दिल, वायरल हुआ गाना 'दिल दे दिह पईचा में'

रफी साहब ने गाए दो दर्जन से ज्यादा भोजपुरी गाने

रफी साहब के गानों की बात की जाए तो ‘लिखे जो खत तुम्हें’, ‘क्या हुआ तेरा वादा’, ‘ये रेशमी जुल्फें’ और ‘बहारों फूल बरसाओं’ जैसे गाने आज भी कानों में गूंजते हैं। लेकिन रफी साहब ने सिर्फ हिंदी ही नहीं बल्कि कई भारतीय भाषाओं में गाने गाए हैं, जिनमें भोजपुरी भाषा भी शामिल है। उन्होंने एक नहीं बल्कि भोजपुरी में पूरे 26 गाने गाए हैं।

पहली भोजपुरी फिल्म के गाने को रफी साहब ने दी थी आवाज

भोजपुरी की पहली फिल्म ‘गंगा मईया पियरी चढ़ेबों’ 1961 में बनी थी। इस फिल्म के गाने को रफी साहब ने गाया था। सिर्फ रफी ही नहीं बल्कि उनके साथ आशा भोसले और लता मंगेशकर ने भी इस फिल्म के गाने को अपनी आवाज से सजाया। आज भी इस फिल्म के गाने लोगों के बीच खूब पसंद किए जाते हैं।

रफी साहब के भोजपुरी गीत

जैसा कि हमने बताया कि रफी साहब ने दो दर्जन से अधिक भोजपुरी गीतों को अपनी आवाज से सजाया। उन्होंने ‘बलम परदेसिया’, गोरकी पतरकी रे’, ‘तड़प-तड़प’, सैंया से नेहा लगावे का फुलवा नियर नार’, सोनवा पे पिंजरा’, ‘मोर भंगिया के मनाई दे’ और ‘फूट गईले किस्मतवा’ जैसे भोजपुरी गाने गाए। लेकिन हाल ही में सारेगामा भोजपुरी ने यूट्यूब चैनल पर मोहम्मद रफी का एक गाना शेयर किया, जो खूब वायरल हो रहा है। इस गाने का नाम है- ‘जिया कसक मसक मोर रहे लागल’। ये गाना मोहम्मद रफी का गाया हुआ है। रफी साहब के हिंदी गानों की तरह इस भोजपुरी गीत को भी लोगों द्वारा खूब पसंद किया जा रहा है।  

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर