यात्रियों की मुश्किल आसान करेगा IRCTC eWallet, मिलती हैं ये सभी सुविधाएं

Utility News
डिंपल अलावाधी
Updated Jun 08, 2022 | 12:42 IST

IRCTC eWallet: आईआरसीटीसी ई-वॉलेट अकाउंट रजिस्ट्रेशन की तारीख से 3 साल तक वैध रहता है। अकाउंट रिनुअल के लिए किसी शुल्क का भुगतान करने की आवश्यकता नहीं होती है।

deposit money in advance with IRCTC eWallet and use as a payment option
ट्रेन से यात्रा करने वालों के लिए लाभदायक है IRCTC eWallet (Pic: iStock) 
मुख्य बातें
  • आईआरसीटीसी ई-वॉलेट बैलेंस का इस्तेमाल सिर्फ रेलवे टिकट बुक करने के लिए किया जा सकता है।
  • टिकट कैंसिल होने की स्थिति में यात्रियों को रिफंड आईआरसीटीसी ई-वॉलेट में मिल जाता है।
  • रेलवे की ओर से टिकट कैंसिल के अगले दिन पैसे ट्रांसफर किए जाते हैं।

नई दिल्ली। भारतीय रेलवे (Indian Railways) रेल यात्रियों को कई सुविधाएं देती है। रेल यात्रियों के लिए भारतीय रेलवे खानपान एवं पर्यटन निगम ई-वॉलेट (IRCTC eWallet) की सुविधा भी उपलब्ध है। आईआरसीटीसी ई-वॉलेट एक ऐसी स्कीम है जिसके तहत यूजर्स आईआरसीटीसी के पास एडवांस में पैसा जमा कर सकते हैं और ट्रेन टिकट बुकिंग के समय पैसे का भुगतान करने के लिए इसका इस्तेमाल कर सकते हैं। आईआरसीटीसी ई-वॉलेट योजना से यात्रियों को बहुत फायदा होता है। आइए जानते हैं कैसे-

  • IRCTC eWallet से यात्रियों को कोई परेशानी नहीं होती और वे सुरक्षित लेनदेन कर सकते हैं।
  • इससे यात्रियों का बुकिंग टाइम बचता है क्योंकि इससे पेमेंट अप्रूवल साइकल का झंझट खत्म हो जाता है। 
  • आईआरसीटीसी ई-वॉलेट से खाता ऑनलाइन मैनेज किया जा सकता है और यात्री ऑनलाइन इसे टॉप अप भी कर सकते हैं।
  • इससे किसी एक विशिष्ट बैंक पर निर्भरता कम हो जाती है। जब कोई भी बैंक ऑफलाइन हो जाता है, तब भी आप अपने आईआरसीटीसी ई-वॉलेट अकाउंट से टिकट बुक कर सकते हैं।

Railway Luggage Rules: सावधान! ट्रन में ज्यादा सामान ले जाना पड़ेगा भारी, प्लेन की तरह देना होगा एक्स्ट्रा किराया

आईआरसीटीसी ई-वॉलेट के फीचर्स

  • यूजर ऑथेंटिकेशन: ऑनलाइन वेरिफिकेशन प्रोसेस में आईआरसीटीसी ई-वॉलेट यूजर्स को उनके पैन या आधार के माध्यम से वेरिफाई और ऑथेंटिकेट किया जाता है।
  • सिक्योर्ड एक्सेस: आईआरसीटीसी ई-वॉलेट के माध्यम से हर एक बुकिंग के लिए ओटीपी द्वारा सुरक्षित बुकिंग की जाती है।
  • हिस्ट्री: यूजर को आईआरसीटीसी ई-वॉलेट नामक एक अलग लिंक प्रदान किया जाता है, जो आईआरसीटीसी ई-वॉलेट लेनदेन हिस्ट्री, आईआरसीटीसी ई-वॉलेट पेमेंट हिस्ट्री और लेनदेन पासवर्ड विकल्प बदलने की पेशकश करता है।
  • रिफंड: टिकट रद्द होने की स्थिति में, बकाया धनराशि अगले दिन आपके आईआरसीटीसी ई-वॉलेट अकाउंट में जमा कर दी जाती है।

IRCTC Ticket Booking: अगर कर दिया ये काम, तो एक महीने में बुक करा सकेंगे दोगुनी ट्रेन टिकटें

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर