लॉकडाउन के नियम समझा रही थी महिला पुलिसकर्मी, सिरफिरे ने हाथ पर गड़ा दिए दांत

पुलिस शख्स को लॉकडाउन के नियम समझा रही थी कि तभी उसने दो पुलिसकर्मियों को मुक्के जड़ दिए और एक महिला पुलिसकर्मी के हाथ पर अपने दांत गड़ा दिए।

Women police officer bitten while enforcing lock down
महिला अफसर के हाथ पर काटा (Photo- Greater Manchester Police/GMP) 

मुख्य बातें

  • शख्स को घर में रहने के बारे में समझा रही थी पुलिस, सिरफिरे ने कर दिया हमला
  • बात करने के दौरान दो पुलिसकर्मियों को जड़ा मुक्का, 21 वर्षीय महिला पर किया हमला
  • शख्स ने महिला पुलिसकर्मी की बाह पर गड़ा दिए अपने दांत

लंदन: दुनिया भर में कोरोना महामारी के चलते कई जगहों पर लॉकडाउन की स्थिति बनी हुई है। इस बीच पुलिस का काम खासा बढ़ चुका है जहां पुलिसकर्मी लगातार लोगो से घरों के अंदर रहने की अपील कर रहे हैं और बात को अनसुना करने वालों को समझाने और जरूरत पड़ने पर कानूनी कार्रवाई करने का काम कर रहे हैं। इस बीच कुछ लोग ऐसे हैं जो पुलिस को परेशान करने और अपनी व अन्य लोगों की जिंदगी खतरे में डालने का काम कर रहे हैं। हाल ही में एक हैरान करने वाली घटना सामने आ रही है जहां एक शख्स ने लॉकडाउन में ड्यूटी कर रही महिला पुलिसकर्मी के हाथ पर काट लिया।

मामला ब्रिटेन के रोशडेल, ग्रेटर मैनचेस्टर का है जहां एक पुलिस अधिकारी की बांह पर काटने के लिए एक शख्स को गिरफ्तार कर लिया गया है। रिपोर्ट्स के अनुसार महिला पुलिसकर्मी शख्स को लॉकडाउन के नियम समझा रही थी और इसी दौरान सिरफिरे शख्स ने हमला कर दिया।

गुरुवार (9 अप्रैल) को शाम 6.40 बजे, एक व्यक्ति के गड़बड़ी पैदा करने की रिपोर्ट के बाद पुलिस ड्रेक स्ट्रीट, रोशडेल पहुंची थी। अधिकारियों ने उस व्यक्ति को यह समझाने का प्रयास किया कि कोविड​​ -19 को लेकर सरकारी दिशानिर्देशों के अनुसार लोगों को घरों के अंदर ही रहना है।

पुलिसकर्मियों को मारा मुक्का, हाथ पर काटा: इसी बीच अचानक आरोपी ने दो पुलिस वालों को मुक्का मार दिया और उनमें से एक 21 साल की महिला पुलिस कांस्टेबल के हाथ पर बुरी तरह से काट लिया। घटना के बाद महिला पुलिसकर्मी को अस्पताल जाना पड़ा और यहां से ठीक होने के लिए छुट्टी पर घर भेज दिया गया।

29 वर्षीय व्यक्ति को आपराधिक हानि, घरेलू हिंसा हमला, स्वास्थ्य सुरक्षा विनियमन 2020 के तहत गिरफ्तार कर लिया गया है। उसे पूछताछ के लिए पुलिस हिरासत में रखा गया है।

घटना के बाद मुख्य कांस्टेबल इयान हॉपकिंस ने ट्वीट किया, 'लोगों का व्यवहार समझना बहुत कठिन काम है। ऐसे समय में जब सबकुछ ठीक चल रहा था और लोग लॉकडाउन में सहयोग कर रहे थे अचानक इस तरह की घटना सामने आ गई। मुझे विश्वास है कि CPS और कोर्ट अब वही करेंगे जो हम सभी उनसे उम्मीद करते हैं!'

एक अन्य अधिकारी ने कहा कि अच्छी बात ये है कि इस तरह के मामले सीमित हैं अगर ज्यादा लोग इस तरह की हरकत करेंगे तो वाकई स्थिति को नियंत्रित करना मुश्किल हो जाएगा।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर