VIDEO: पुलिसकर्मियों के लिए बनवाई गई खास ट्रांसपेरेंट पीपीई किट, कोरोना और बारिश से बचाएगी

Transparent PPE kit for COVID-19t : कोरोना महामारी को देखते हुए झांसी पुलिस ने अपने पुलिसकर्मियों के लिए ट्रांसपेरेंट पीपीई किट बनवाई है।

Transparent PPE kit
ट्रांसपेरेंट पीपीई किट पहने पुलिसकर्मी। 

मुख्य बातें

  • झांसी पुलिस ने खास ट्रांसपेरेंट पीपीई किट बनवाई है
  • यह किट पुलिसकर्मियों को कोरोना से बचाएगी
  • पीपीई किट रेनकोट का भी काम करेगी

नई दिल्ली: कोरोना महामारी के दौरान लोग अपने घरों में रहकर वायरस से जंग लड़ रहे हैं। वहीं पुलिसकर्मी सड़कों पर जी जान से जुटे हुए हैं। ऐसे में पुलिसकर्मियों को संक्रमण से बचाने के लिए ट्रांसपेरेंट पर्सनल प्रोटेक्टिव इक्विपमेंट (पीपीई) किट तैयार की गई हैं। यह किट उत्तर प्रदेश में झांसी पुलिस ने अपने पुलिसकर्मियों के लिए बनवाई है। यह वॉशेबल और वॉटरप्रूफ भी है। पीपीई किट को ट्रांसपेरेंट इसलिए रखा गया है क्योंकि ऑन फील्ड रहने वाले पुलिसकर्मियों का यूनिफॉर्म दिखना जरूरी है। 

'1000 पीपीई किट का आर्डर दिया'

अपर पुलिस अधीक्षक राहुल श्रीवास्तव ने पीटीआई भाषा से कहा, 'मुझे कुछ समय पहले ऐसी किट बनाने का विचार आया। कुछ किट स्थानीय स्तर पर दर्जियों से विशेष मांग पर अपनी निगरानी में मैंने बनवाए। इसके बाद मैने इसका इस्तेमाल किया तो यह काफी सुविधाजनक लगा, तब मैंने 1000 पीपीई किट बनवाने का आर्डर दिया और यह हमें मिल भी गए है।' उन्होंने बताया कि इस किट की कीमत केवल 400 रुपए है और यह काफी आरामदेह है।

'यह काफी उपयोगी साबित होगी'
 
उन्होंने बताया कि यह किट पुलिसकर्मी कोरोना हॉट स्पाट, क्वारंटीन सेंटर, पुलिस के कार्यो यानी छापे मारने और गिरफ्तारी के वक्त काफी उपयोगी साबित होगी। श्रीवास्तव ने बताया कि इस किट से पुलिसकर्मियों को बरसात में भी मदद मिलेगी। इस किट को जिले के उन पुलिसकर्मियों को दिया गया है जो क्षेत्र में डयूटी करते है। पहले चरण में इसे पुलिसकर्मियों को वितरित किया गया है। अगर और जरूरत पड़ी तो इसे मंगवाकर पुलिस अधिकारियों के बीच वितरित किया जाएगा। 

यूपी में बढ़ रहे कोरोना मरीज

उत्तर प्रदेश में कोरना मरीजों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। प्रदेश में बुधवार को 141 और लोग के कोरोना से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। राज्य में इस खतरनाक वायरस से अब तक 8,870 लोग संक्रमित हो चुके हैं। वहीं,  कोरोना संक्रमण की वजह से अभी तक 230 लोग की जान चली गई है। प्रमुख सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य, अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि 5,257 लोग इलाज के बाद संक्रमण मुक्त होकर घर पहुंच गए हैं और राज्य में फिलहाल 3,383 लोग का कोरोना वायरस संक्रमण के लिए इलाज चल रहा है।
 

अगली खबर