Online Love: ऑनलाइन लव में डेटिंग ऐप मददगार, लेकिन वैक्सीनेशन की रखी शर्त

कोरोना काल में डेटिंग ऐप की लोकप्रियता बढ़ गई है। अब लोग अपने प्यार के इजहार के लिए इस तरह के ऐप की मदद ले रहे हैं।

Online Love: ऑनलाइन लव  में डेटिंग ऐप मददगार, लेकिन वैक्सीन की रखी शर्त
कोरोना काल में डेटिंग ऐप की लोकप्रियता बढ़ी 

डेटिंग ऐप के बारे में तो हम सब जानते हैं, लेकिन कोरोना काल में इस तरह के ऐप की लोकप्रियता बढ़ गई है। पहले लोग एक दूसरे से मिलते थे आंखें एक दूसरे से मिलती थीं। लेकिन कोरोना ने एक तरह से बैरियर का काम किया हालांकि अब उसका तोड़ निकाल लिया गया है। डेटिंग के शौकीन अब ऑनलाइन अपने प्यार का इजहार कर रहे हैं।

डेटिंग ऐप्स की लोकप्रियता बढ़ी
आंकड़ों के अनुसार टिंडर, बंबल, ओके कामदेव आदि जैसे लोकप्रिय डेटिंग ऐप्स को उपयोग संख्या में वृद्धि देखी गई, जिन्होंने निर्दिष्ट किया कि उन्होंने जैब प्राप्त किया है और कामना की है कि उनके भावी साथी को भी एक मिलेगा। द गार्जियन ने बताया कि 'Elate Date' नामक एक ऐप ने 'वैक्सीन स्टेटस' को भी एक मानदंड के रूप में जोड़ा है ताकि लोगों को इसके आधार पर फ़िल्टर किया जा सके।

वैक्सीनेशन की रखी गई है शर्त
लोग अपने ऐप बायोस में 'टीकाकरण', 'शॉट्स' आदि जैसे शब्दों को शामिल करने लगे ताकि व्यक्ति से मिलान किया जा सके। वास्तव में, जो लोग जैब पाने के लिए नहीं दिखते थे, उन्हें सिर्फ इस आधार पर खारिज कर दिया जाता था कि वे इसके बारे में क्या सोचते हैं।ओके क्यूपिड के प्रवक्ता माइकल काये ने कहा कि टीकाकरण 'सबसे हॉट चीज है जो आप अभी डेटिंग ऐप पर कर सकते हैं। उन्होंने दावा किया कि जिन लोगों को जैब मिला है, वे उन लोगों की तुलना में अधिक 'पसंद' कर रहे हैं जिन्होंने इसके खिलाफ फैसला नहीं किया।

एलाट डेट के संस्थापक संजय पांचाल बताते हैं कि आप टीकाकरण के लिए थोड़े लचीले होते जा रहे हैं। हमारे शोध से पता चलता है कि 60% से अधिक लोग ऐसे व्यक्ति के साथ डेटिंग करने पर विचार नहीं करेंगे जो टीकाकरण के खिलाफ था। ये एप किसी भी चीज पर यूजर की सेफ्टी लगा देते हैं। इसलिए, यह कोई आश्चर्य की बात नहीं है कि टीकाकरण अब एक व्यक्ति को पसंद किए जाने के लिए एक अतिरिक्त गुण बन गया है। कुछ ऐप 'वीडियो-कॉल फ़ीचर' भी लेकर आए हैं।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर