82 साल के गेटकीपर को मिला 50 साल पुराना प्यार, बोले- रामजी की कसम.. लग रहा है 21 का हो गया हूं

82 साल के दरबान सिंह एक चौकीदार हैं जो राजस्थान के कुलधारा के रहने वाले हैं। दरबान सिंह की लव स्टोरी किसी फिल्मी कहानी से कम नहीं है।

82-yr-old gatekeeper of Rajasthan village connects with his first love after 50 years
82 साल के गेटकीपर को मिला 50 साल पुराना प्यार, आया खत 

मुख्य बातें

  • राजस्थान से सामने आई एक अनूठी प्रेम कहानी
  • 81 साल के दरबान के दिल में 50 साल बाद फिर दी प्यार ने दस्तक
  • 70 के दशक में जैसलमेर घूमने आई थी मरीना और यहीं से शुरू हुई थी लव स्टोरी

नई दिल्ली: आपने अक्सर फिल्मों में वर्षों पुराने प्यार को बिछड़ते या एक होते हुए देखा होगा लेकिन यहां हम आपको एक ऐसी सच्ची लव स्टोरी बता रहे हैं जो केवल सिल्वर स्क्रीन पर ही देखने को मिलता है। मामला राजस्थान के जैसलमेर स्थित कुलधरा गांव का है जिसे शापित या भूतहा गांव के नाम से भी जाना जाता है। 82 साल के चौकीदार (गेटकीपर) दरबान सिंह ने  ह्यूमन ऑफ 'ह्यूमन्स ऑफ बाम्बे' को दिए एक इंटरव्यू में सुनाई है जो अब वायरल हो रही है।

तब 'आई लव यू' कहकर लौट गई थी मरीना

दरबान सिंह को अपना 50 साल पुराना प्यार मिल गया है। दरअसल 70 के दशक के में आस्ट्रेलिया से मरीना नाम की एक युवती जैसलमेर घूमने आई थी जिसे दरबान ने जैसलमेर घुमाया। इसके बाद जाते समय मरीन दरबान को 'आई लव यू' कहकर अपने देश लौट गईं और तब से दरबान ने मरीना से संपर्क करने की कोशिश भी की लेकिन यह नहीं हो पया। अब 50 साल बाद अचानक से मरीना ने खत लिखकर चौकीदार दरबान सिंह से मुलाकात करने की इच्छा जाहिर की है।जैसे ही दरबान को यह खत मिला तो उनकी खुशी का ठिकाना ना रहा है। 

रेगिस्तान में हुई थी प्यार की शुरूआत
मरीना ने भी आजतक शादी नहीं की है। दरबान बताते हैं कि जिस समय मरीना जैसलमेर घूमने आई थी उस समय मेरी उम्र 30 साल थी और मरीना रेगिस्तान की सफारी के लिए आई थी। पांच दिन के उस सफर में मैंने उसे ऊंट की सवारी सिखाई थी और इसी दौरान कब हमारी नजरें एक हो गईं पता ही नहीं चला और एक दूसरे को दिल दे बैठे। दरबान के मुताबिक जब मरीना यहां से लौटी तो उसने तीन जादुई शब्द मुझसे कहे थे जो आजतक दिल के कोने में हैं वो शब्द थे, 'आई लव यू'। 

हो आए थे मेलबर्न
दरबान बताते हैं कि उस समय तो मैं अपने प्यार का इजहार नहीं कर पाया था लेकिन बाद में दिल बैचेन हो गया, लेकिन तब मरीना समझ गई थी। बाद में अपने प्यार की खातिर 30 हजार रुपये उधार लेकर दरबान ऑस्ट्रेलिया के मेलबर्न शहर तक हो आए। इस दौरान दरबान तीन महीने तक वहीं रहे और मरीना ने उन्हें टूटी फूटी अंग्रेजी भी सिखाई, लेकिन मरीना चाहती थी कि दरबान शादी कर वहीं बस जाए जो उन्हें मंजूर नहीं था। इसके बाद दरबान घर लौटे और शादी कर गृहस्थी बसा ली।

खत मिलने के बाद दरबान इतने खुश हैं कि मानों उन्हें मनचाही चीज मिल गई हो। दरबान बताते हैं, 'एक महीने पहले मुझे मरीना की एक चिट्ठी मिली। एक महीने से रोज फोन पर बात होती है। राम जी कसम मुझे लग रहा है कि मैं फिर से 21 साल का हो गया हूं। मुझे नहीं पता कि आगे क्या होगा, लेकिन मेरा पहला प्यार वापस आ गया है।मरीना जल्दी ही भारत आना चाहती है।'

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर