Lakhimpur Kheri: लखीमपुर खीरी घटना पर सियासी उबाल, प्रियंका गांधी को गिरफ्तार करने का दावा

Priyanka Gandhi detained from Hargaon : लखीमपुर खीरी में रविवार को हुई हिंसा में आठ लोगों की मौत हुई है। इस घटना के बाद लखीमपुर खीरी के लिए रवाना हुईं कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी को हिरासत में लिया गया है।

Priyanka Gandhi detained in Hargaon,  Lakhimpur Kheri Violence
यूपी के हरगांव में प्रियंका गांधी को गिरफ्तार करने का दावा।  |  तस्वीर साभार: PTI

मुख्य बातें

  • रविवार को लखीमपुर खीरी में हुई हिंसक घटना में 4 किसान सहित आठ लोगों की जान गई
  • इस उपद्रव के बाद विपक्ष के निशाने पर आ गई है योगी सरकार, नेताओं ने सरकार पर हमला बोला
  • लखीमपुर खीरी के लिए रवाना हुई कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी को हरगांव में हिरासत में लिया गया

लखनऊ : लखीमपुर खीरी में रविवार को हुए उपद्रव में किसान सहित आठ लोगों के मारे जाने के बाद सियासत तेज हो गई है। कांग्रेस का दावा है कि पीड़ित परिजनों से मिलने के लिए लखीमपुर खीरी जा रहीं पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीनिवास बीवी का दावा है कि पुलिस ने प्रियंका गांधी को हरगांव से गिरफ्तार किया है। इससे पहले घटना की जानकारी मिलने पर लखनऊ पहुंची कांग्रेस नेता को पुलिस ने हाउस अरेस्ट में रखा था लेकिन वह रात के समय चकमा देकर लखीमपुर खीरी के लिए रवाना हो गईं।

रास्ते में 5 घंटे तक पुलिस को छकाती रहीं प्रियंका

प्रियंका गांधी वाड्रा सीतापुर पुलिस को चकमा देकर सिधौली से दूसरे रास्ते से लखीमपुर के लिए निकल गई थीं, लेकिन चप्पे चप्पे पर पुलिस ने नाकेबंदी कर रखी थी। प्रियंका वाड्रा को थाना हरगांव क्षेत्र से हिरासत में लेकर सीतापुर मुख्यालय में पीएसी के गेस्ट हाउस में रखा गया है। अंदर किसी के जाने की इजाजत नहीं है। इसके बाद यूपी कांग्रेस ने लोगों से इलाके में जुटने के लिए कहा है। प्रियंका की योजना तिकुनिया की हिंसक घटना में मारे गए पीड़ित परिजनों से मिलने की थी। 

लखनऊ अपने आवास से पैदल निकलीं

बताया जा रहा है कि पुलिस को चकमा देने के लिए प्रियंका अपने आवास से पैदल ही निकल पड़ीं और कुछ दूरी पैदल चलने के बाद एक कार में सवार हो गईं। लखीमपुर खीरी के रास्ते में प्रियंका ने कहा, 'देश में किसानों के साथ जिस तरह का व्यवहार किया जा रहा है, उसके लिए मेरे पास शब्द नहीं हैं। कई महीनों से किसान अपनी आवाज उठा रहे हैं लेकिन सरकार उनकी बात सुन नहीं रही है। रविवार की घटना बताती है तो कि सरकार किसानों को कुचलने की राजनीति कर रही है।'   

हिंसा में 4 किसानों सहित 8 लोगों की मौत

अधिकारियों के अनुसार, हिंसा की घटना में चार किसानों सहित कुल आठ लोगों की मौत हुई है।  प्रियंका और पार्टी के नेता दीपिन्दर सिंह हुड्डा रविवार रात लखनऊ पहुंचे। कांग्रेस की उत्तर प्रदेश इकाई के प्रवक्ता अशोक सिंह ने बताया, ‘प्रियंका लखरीमपुर खीरी रवाना हो गई हैं।’इससे पहले पार्टी के एक नेता ने कहा था, ‘प्रियंका अभी (लखीमपुर खीरी के लिए) रवाना नहीं हुई हैं। उन्हें नजरबंद किए जाने की पूरी आशंका है। मकान के बाहर 300 पुलिसकर्मी और 150 महिला कांस्टेबल हैं। 300 से ज्यादा पार्टी कार्यकर्ता भी हैं।’

Lucknow News in Hindi (लखनऊ समाचार), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर