रिया जैन-अनुराग मलिक की कामयाबी पर बीजेपी प्रवक्ता डॉ चंद्रमोहन की खास टिप्पणी, बड़े कॉलेज का मुंह नहीं देखा

Ria jain- Anurag malik success: यूपी बोर्ड के नतीजों में 10वीं की टॉपर रिया जैन रहीं तो 12वीं में शीर्ष स्थान पर अनुराग मलिक ने कब्जा किया था।

रिया जैन-अनुराग मलिक की कामयाबी पर बीजेपी प्रवक्ता डॉ चंद्रमोहन की खास टिप्पणी, बड़े कॉलेज का मुंह नहीं देखा
डॉ चंद्रमोहन, यूपी बीजेपी प्रवक्ता 

मुख्य बातें

  • रिया जैन और अनुराग मलिक मे बड़ौत के श्रीराम इंटर कॉलेज से पढ़ाई की
  • दोनों छात्रों की पृष्ठभूमि सामान्य, रिया जैन के पिता की परचून की दुकान को अनुराग के पिता की इलेक्ट्रिक सामानों की दुकान
  • 12वीं के टॉपर अनुराग मलिक ने किसी तरह की ट्यूशन भी नहीं ली थी।

लखनऊ। शनिवार को यूपी बोर्ड ने 10वीं और 12वीं के रिजल्ट घोषित कर दिए। नतीजों की खास बात यह है कि 10वीं और 12वीं के टॉपर एक ही जिले के एक ही कस्बे से हैं। बागपत जिले के बड़ौत कस्बे में स्थित श्रीराम इंटर कॉलेज से दोनों ने पढ़ाई की और कामयाबी की मिसाल पेश की। 10वीं में रिया जैन सर्वोच्च स्थान पर रहीं तो 12वीं में अनुराग मलिक को यह कामयाबी मिली। इन दोनों छात्रों की कामयाबी पर बीजेपी के प्रदेश प्रवक्ता डॉ चंद्रमोहन कुछ इस तरह टिप्पणी करते हैं। 

डॉ चंद्रमोहन बताते हैं कि परीक्षा टॉप करने के लिए दोनों छात्रों ने बड़े कॉलेज (College) का मुंह भी नहीं देखा। बड़ौत के गांव में बने श्री राम इंटर कॉलेज से पढ़ाई कर 96 फीसद से ज़्यादा नंबर लाकर पूरे सूबे में टॉप किया। 

बीजेपी प्रवक्ता डॉ चंद्रमोहन ने अगर ट्वीट कर बताया कि दोनों मेधावी छात्रों ने कभी बड़े कॉलेज का मुंह नहीं देखा तो उसके पीछे वजह भी है। एक तरफ रिया जैन के पिता जहां परचून की दुकान चलाते हैं तो दूसरी तरफ अनुराग मलिक के पिता की इलेक्ट्रिक सामानों की दुकान है। इससे आप समझ सकते हैं कि दोनों छात्रों की आर्थिक पृष्ठभूमि कैसी होगी। लेकिन जिस तरह से उन दोनों ने अपने कामयाबी के झंडे गाड़े उससे साबित होता है कि अगर किसी छात्र में कुछ कर गुजरने की लालसा हो तो इस तरह की मुश्किलें आड़े नहीं आती हैं। 

अगली खबर