Exclusive: जानिए कौन है यूपी बोर्ड की 10वीं की टॉपर रिया जैन, ‘माता की चुनरी’ बनाते हैं पिता

UP Board 10th Topper Ria Jain: यूपी बोर्ड के 10 वीं और 12वीं के नतीजे घोषित कर दिए गए हैं। इस बार यूपी की 10 वीं की परीक्षा में रिया जैन ने टॉप किया है। रिया ने इसे लेकर टाइम्स नाउ हिंदी से बात की।

up board 10th topper Ria jain says want to become a English teacher
Exclusive: जानिए कौन है यूपी बोर्ड की 10वीं की टॉपर रिया जैन 

मुख्य बातें

  • एक साधारण परिवार से ताल्लुक रखती हैं यूपी बोर्ड की 10वीं की टॉपर रिया जैन
  • रिया के पिता माता की चुनरी बनाने का करते हैं काम,
  • रिया का लक्ष्य शिक्षा के क्षेत्र में अपनी पहचान बनाना है, 12वीं पर कर रही हैं फोकस

नई दिल्ली:  इस साल यूपी बोर्ड की परीक्षा में रिया जैन ने 10 वीं में टॉप किया है। रिया ने अपने इस सपने को साकार करने के लिए कड़ी मेहनत की। टाइम्स नाउ हिंदी से बात करते हुए रिया ने बताया कि उन्होंने टॉप करने के लिए हर रोज 15-16 घंटे पढ़ाई की। एक मध्यमवर्गीय परिवार से ताल्लुक रखने वाली रिया के पिता  ‘माता की चुनरी’ बनाने का एक छोटा सा व्यापार करते हैं। रिया के इस सपने को साकार करने के लिए रिया के परिवार ने उन्हें पूरा सहयोग दिया।

15-16 घंटे पढ़ाई रोजाना

रिया ने बताया कि उन्होंने कहा, 'टॉप करने के लिए मैंने रोजाना 15 से 16 घंटे पढ़ाई की और मुझे उम्मीद थी कि मैं टॉप करूंगी।' पंसदीदा विषयों के बारे में बताते हुए रिया ने कहा कि साइंस, मैथ्स और अंग्रेजी मेरे पसंदीदा विषय हैं। साइंस में रिया के 99, अंग्रेजी में 98, मैथ्स में भी 98 नंबर आए। 

ऐसा है रिया का परिवार
रिया के चार भाई बहन हैं जिसमें रिया दूसरे नंबर की है। रिया के दो भाई 7वीं और 8वीं कक्षा में पढ़ते हैं। एक बड़ी बहन ने इसी साल 12वीं की परीक्षा उत्तीर्ण की हैं और 73 फीसदी अंक अर्जित किए हैं। रिया बताती हैं कि पढ़ाई के लिए उनके परिवार ने उन्हे पूरा सहयोग दिया और यहां तक कि घर का कोई भी काम उनसे नहीं करवाया जाता था। रिया बताती हैं कि पिता का छोटा व्ययसाय होने के बावजूद भी जो भी किताबें मंगवाई वो मुझे मिली।

पीएचडी कर टीचिंग है लक्ष्य
बागपत के हिलवारी गांव से ताल्लुक रखने वाली रिया बताती हैं, 'मेरा पूरा फोकस 12वीं पर है और उसके बाद मुझे अंग्रेजी में पीएचडी करना मेरा लक्ष्य है और उसके बाद मैं सरकारी टीचर बनना चाहती हूं। अपनी इस सफलता के लिए मेरे परिवार के अलावा शिक्षकों का महत्वपूर्ण योगदान है।' रिया बताती हैं कि मेरा फोकस हमेशा से ही टॉप करने पर रहा और बारहवीं में मैथ्स लेना चाहती हूं।

योगी को दिया धन्यवाद
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को धन्यवाद देते हुए रिया कहती हैं 'उन्होंने जो ऐलान किया है उसे मैं बहुत खुश हूं, मैं उनको धन्यवाद देना चाहूंगी कि उन्होंने हमारे लिए इतना किया और गांव में सड़क का नामकरण हमारे नाम पर करने का ऐलान किया।' आपको बता दें कि यूपी सरकार ने टॉपर्स को 1-1 लाख रुपये और लैपटॉप देने का ऐलान करने के साथ- साथ  टॉपर्स के घर तक जाने वाली सड़क का नामकरण उनके नाम पर करने का ऐलान किया है।
 

अगली खबर