ममता पर 'हमला' : मेडिकल बुलेटिन में सीएम की हालत स्थिर, चुनाव आयोग से मिला TMC का शिष्टमंडल

West Bengal Chunav 2021 : चुनाव आयोग ने राज्य के मुख्य सचिव को पत्र लिखकर घटना का पूरा विवरण मांगा है। ईसी ने मुख्य सचिव ने रिपोर्ट सौंपने के लिए 12 मार्च की शाम पांच बजे तक का समय दिया है।

Both TMC, BJP leaders to meet EC officials over alleged attack on Mamata
ममता पर 'हमला' : EC के दरवाजे पर भाजपा-TMC। 

मुख्य बातें

  • नंदीग्राम सीट के लिए बुधवार को ममता बनर्जी ने दाखिल किया अपना पर्चा
  • ममता बनर्जी का कहना है कि यहां पर चार-पांच लोगों ने उन्हें धक्का दिया
  • ममता पर कथित हमले को लेकर टीएमसी के नेता चुनाव आयोग के दफ्तर जाएंगे

कोलकाता : नंदीग्राम में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के ऊपर हुए कथित हमले के मामले में तृणमूल कांग्रेस गुरुवार को चुनाव आयोग के दफ्तर पहुंची। टीएमसी के शिष्टमंडल में शामिल सांसद डेरेक ओ ब्रायन, मंत्री चंद्रिमा भट्टाचार्य और पार्थ चटर्जी ने ईसी के अधिकारियों से मुलाकात की और इस कथित हमले के बारे में अपनी शिकायत दर्ज कराई। टीएमसी नेताओं ने कहा कि मुख्यमंत्री पर हुआ यह 'हमला' शर्मनाक है। शिष्टमंडल ने ईसी के समक्ष डीजीपी के तबादले का मुद्दा भी उठाया। डेरेक ने कहा कि इस घटना के लिए जिम्मेदार लोगों को कानून के दायरे में लाने की जरूरत है।

ममता की हालत स्थिर
पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का इलाज कर रहे एसएसकेएम अस्पताल ने उनके स्वास्थ्य पर मेडिकल बुलेटिन जारी की है। मेडिकल बुलेटिन में बताया गया कि सीएम के बाएं टखने पर प्लास्टर चढ़ाया गया है और उनका ब्लड रिपोर्ट में सोडियम का स्तर कम पाया गया है। डॉक्टरों ने बताया कि उनकी रेडियोलॉजी जांच भी होगी। कुल मिलाकर उनका स्वास्थ्य स्थिर है। ममता के स्वास्थ्य की जांच आज शाम फिर की जाएगी। 

मामले पर राजनीति कर रही टीएमसी-विजयवर्गीय 
बता दें कि बुधवार शाम नंदीग्राम में टीएमसी प्रमुख के जख्मी होने के बाद भाजपा और टीएमसी के बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया है। टीएमसी ने भाजपा पर हमला करने का आरोप लगाया है। जबकि मौके पर मौजूद प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि यह एक सामान्य हादसा है। भाजपा नेता कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि टीएमसी इस मामले पर राजनीति कर रही है। उन्होंने कहा, 'हमारा मानना है कि इस तरह की घटनाओं का राजनीतिकरण नहीं होना चाहिए। मुझे भरोसा है कि ईसी राज्य में राजनीतिक हिंसा पर रोक लगाने के लिए पश्चिम बंगाल में पर्याप्त केंद्रीय बलों की तैनाती करेगा।'  

टीएमसी ने भाजपा पर लगाया आरोप
घायल होने के बाद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी जब नंदीग्राम से रवाना हो रही थीं तो उन्होंने मीडिया से बातचीत में कहा कि भीड़ में शामिल चार-पांच लोगों ने उन्हें धक्का दिया जिसके बाद उन्हें चोट लगी। मुख्यमंत्री का दावा है कि जहां यह घटना हुई वहां पर कोई पुलिस नहीं थी। जबकि प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि वहां पर पुलिस मौजूद थी और यह एक सामान्य हादसा था। भाजपा और कांग्रेस दोनों का कहना है कि ममता बनर्जी 'पाखंड' कर रही हैं। कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा कि नंदीग्राम में ममता बनर्जी को मुश्किल हो रही है। इसलिए वह सहानुभूति पाने के लिए 'पाखंड' कर रही हैं। 

कोलकाता में हो रहा ममता का इलाज
कोलकाता के एसएसकेएम अस्पताल में ममता का इलाज चल रहा है। डॉक्टरों का कहना है कि उनके कंधे और टखने पर चोट लगी है। उनकी एमआरआई भी की गई है। डॉक्टरों ने उन्हें 48 घंटे के लिए निगरानी में रखा है। ममता के भतीजे अभिषेक बनर्जी ने अस्पताल में भर्ती मुख्यमंत्री की एक तस्वीर पोस्टर करते हुए भाजपा को चुनौती दी है। पश्चिम बंगाल में इस बार आठ चरणों में चुनाव हो रहा है। इस बार मुख्य मुकाबला भाजपा और टीएमसी के बीच है। नंदीग्राम सीट पर ममता का सामना भाजपा प्रत्याशी सुवेंदु अधिकारी से है। 

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर