Bihar के पूर्व CM जीतन राम मांझी बोले-बिहारियों को दे दें कश्मीर,15 दिनों में सुधार नहीं दिए तो कहिएगा

देश
रवि वैश्य
Updated Oct 18, 2021 | 12:54 IST

Jitan Ram Manjhi Demand: बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने कश्मीर  से आतंक के खात्मा के लिए पीएम मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से एक अलग ही मांग रख दी है। 

Jitan Ram Manjhi
बिहार के पूर्व सीएम जीतन राम मांझी ने कड़ी चेतावनी देते हुए एक मांग कर डाली है 
मुख्य बातें
  •  रविवार को अनंतनाग के वानपोह में आतंकियों ने बिहार के दो मजदूरों की गोली मारकर हत्या कर दी
  • मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने उप राज्यपाल मनोज सिन्हा से फोन पर बातचीत की है
  • इससे पहले भागलपुर के वीरेंद्र पासवान और बांका जिले के अरविंद साह की हत्या कर दी गई थी

नई दिल्ली: जम्मू-कश्मीर में आतंकवादी गरीब मजदूरों को निशाना बना रहे हैं इसे लेकर लोगों के मन में खासा आक्रोश है और हर कोई इस नीच काम की आलोचना कर रहा है, वहीं इस मामले पर बिहार के पूर्व सीएम जीतन राम मांझी (Jitan Ram Manjhi) ने कड़ी चेतावनी देते हुए एक मांग (Demand) कर डाली है।

गौर हो कि कश्मीर में आतंकवादी निर्दोष नागरिकों को निशाना बना रहे हैं। संडे  को अनंतनाग के वानपोह में आतंकियों ने बिहार के दो मजदूरों की गोली मारकर हत्या कर दी, हमले में एक मजदूर घायल है। बिहार के इन मजदूरों की हत्या पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने उप राज्यपाल मनोज सिन्हा से फोन पर बातचीत की है और गंभीर चिंता जताई है वहीं इससे पहले एक सप्ताह के अंदर भागलपुर के वीरेंद्र पासवान और शनिवार को बांका जिले के अरविंद कुमार साह की हत्या कर दी गई थी।

जीतन राम मांझी ने इसे लेकर ट्वीट ट्वीट करते हुए लिखा कि पीएम मोदी और गृह मंत्री अमित शाह कश्मीर को बिहार के लोगों को सौंप दें, वे लोग 15 दिनों में स्थिति सुधार देंगे।

15 दिनों में घाटी में करीब 11 आम नागरिकों की हत्या

कश्मीर में आतंकवादी पिछले कुछ दिनों से निर्दोष नागरिकों को निशाना बना रहे हैं। गत 15 दिनों में घाटी में करीब 11 आम नागरिकों की हत्या हो चुकी है। इन हमलों में पूछताछ के लिए करीब 700 लोगों को हिरासत में लिया गया है। इन हमलों के बाद सुरक्षाबलों ने आतंकियों के खिलाफ अपने अभियान को और तेज कर दिया है। पुंछ के जंगल में छिपे आतंकियों को निष्क्रिय करने के लिए वहां तलाशी अभियान कई दिनों से जारी है। बीते कुछ दिनों में अलग- अलग मुठभेड़ों में कई आतंकवादी मारे गए हैं, आतंक विरोधी इन अभियानों में कुछ सुरक्षाकर्मियों की शहादत भी हुई है।  

प्रवासी नागरिकों को सुरक्षा शिविरों में रखने के निर्देश

दो प्रवासी लोगों की हत्या के बाद जम्मू-कश्मीर पुलिस ने अपने सभी जिला प्रमुखों से कहा है कि वे गैर स्थानीय मजदूरों को एकत्र करें और उन्हें 'तत्काल' नजदीकी सुरक्षा शिविरों में लाएं। अधिकारियों का कहना है कि यह कदम आतंकवादियों द्वारा दो मजूदरों की हत्या करने और दक्षिण कश्मीर के कुलगाम में एक अन्य को गंभीर रूप से घायल करने के बाद उठाया गया है। अपने संदेश में पुलिस महानिरीक्षक (कश्मीर रेंज) विजय कुमार ने कहा, 'आपके न्यायाधिकार क्षेत्र में रह रहे सभी प्रवासी मजदूरों को तत्काल नजदीकी थाने या केंद्रीय अर्धसैनिक बल या सेना के प्रतिष्ठानों में लाया जाना चाहिए।'


 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर