फारूक ने की पाक से बातचीत की वकालत, बोले- दोनों देशों में दोस्ती होती, तो लोग यहां सियालकोट से चाय पीने आते

नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता फारूक अब्दुल्ला ने पाकिस्तान के साथ बातचीत की वकालत करते हुए कहा, 'जब तक आप पाकिस्तान से बात नहीं करते, तब तक हम कभी जम्मू-कश्मीर में शांति से नहीं रह सकते।'

Farooq Abdullah says we can never live in peace, unless talks are held with Pakistan
फारूक बोले- पाक से बातचीत किये बिना हम शांति से नहीं रह सकते  |  तस्वीर साभार: ANI
मुख्य बातें
  • फारूक अब्दुल्ला ने पाकिस्तान के साथ बातचीत करने की फिर की वकालत
  • फारूक बोले- पाकिस्तान से बातचीत किए बिना हम शांति से नहीं रह सकते
  • उत्तर प्रदेश जीतने के लिए नफरत फैला रही है बीजेपी- फारूक

जम्मू: नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता फारूक अब्दुल्ला ने एक बार फिर पाकिस्तान के साथ बातचीत की वकालत की है। फारूक अब्दुल्ला ने कहा है कि पाक के साथ बातचीत के बिना हम शांति से नहीं रह सकते हैं। नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता फारूक अब्दुल्ला ने पाकिस्तान के साथ बातचीत के लिए जोर देते हुए कहा कि ''जब तक आप पाकिस्तान से बात नहीं करते, तब तक हम कभी जम्मू-कश्मीर में शांति से नहीं रह सकते।'

आजादी से पहले ट्रेन से लोग यहां आते थे- फारूक

अपनी पार्टी की बैठक को संबोधित करते हुए  उन्होंने कहा कि अगर भारत और पाकिस्तान के बीच दोस्ती होती तो लोग यहां (जम्मू-कश्मीर में) सियालकोट (पाकिस्तान) से चाय पीने आते।आजादी से पहले लोग ट्रेनों में आते थे। फारूक ने आगे कहा, 'मैं आज भी विश्वास के साथ कहता हूं, जब तक आप (भारत) पाकिस्तान से बात नहीं करते और एक-दूसरे के साथ दोस्ती से हाथ नहीं मिलाते, तब तक हम कभी भी शांति से नहीं रह सकते, कभी भी। मुझसे यह बात लिखवा लीजिये।'

नफरत फैला रही है बीजेपी

इससे पहले बीजेपी पर हमला बोलते हुए फारूक अब्दुल्ला ने आरोप लगाया था कि बीजेपी  अगले साल के प्रारम्भ में उत्तर प्रदेश में प्रस्तावित विधानसभा चुनाव जीतने के लिए नफरत फैला रही है। अब्दुल्ला ने भाजपा पर उत्तर प्रदेश में चुनाव जीतने के लिए नफरत पैदा करने और फूट डालने की राजनीति करने का आरोप लगाया। उन्होंने  बालाकोट एयर स्ट्राइक का जिक्र करते हुए कहा, ‘पिछला चुनाव भी बालाकोट (स्ट्राइक) के आधार पर जीता गया था। भाजपा सरकार सत्ता में आई थी। आज, वे वही काम कर रहे हैं। वे उत्तर प्रदेश में चुनाव जीतने के लिए जम्मू में भी नफरत फैला रहे हैं।’

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर