फारूक अब्दुल्ला का बड़ा बयान, कश्मीर कभी भी पाकिस्तान का हिस्सा नहीं होगा भले ही उन्हें गोली मार दी जाए

जम्मू कश्मीर में हाल ही में आतंकी वारदातों पर नेशनल कांफ्रेस के अध्यक्ष फारुक अब्दुल्ला ने कहा कि पाकिस्तान इस मुगालते में ना रहे कि कश्मीर कभी उसका हो सकेगा।

Jammu and Kashmir, Terrorism, National Conference, Pakistan, Terrorist incident in Jammu and Kashmir, BJP, Indian Army, Farooq Abdullah
'कश्मीर कभी भी पाक का नहीं होगा भले ही गोली मार दी जाए' 

मुख्य बातें

  • कश्मीर हमेशा भारत का है और रहेगा- फारूक अब्दुल्ला
  • कश्मीर कभी भी पाकिस्तान का नहीं होगा
  • घाटी में आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में हिंदू, मुस्लिम, सिख सबको एक साथ आना होगा।

नेशनल कॉन्फ्रेंस के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला ने बुधवार को यहां कहा कि कश्मीर कभी पाकिस्तान का हिस्सा नहीं बनेगा क्योंकि हम भारत का हिस्सा हैं और रहेंगे, ‘‘भले ही मुझे गोली मार दी जाए’’। सरकारी स्कूल की प्राचार्य सुपिंदर कौर को श्रद्धांजलि देने के लिए यहां एक गुरुद्वारे में आयोजित शोकसभा को संबोधित करते हुए अब्दुल्ला ने कहा कि कश्मीर के लोगों को साहसी बनना पड़ेगा और मिलकर हत्यारों से लड़ना होगा। कौर की सात अक्टूबर को आतंकवादियों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी।

हमें आतंकी रूपी जानवरों से लड़ना होगा
श्रीनगर से लोकसभा सदस्य अब्दुल्ला ने कहा, ‘‘हमें इन जानवरों से लड़ना होगा। यह (कश्मीर) कभी पाकिस्तान नहीं बनेगा, याद रखना। हम भारत का हिस्सा हैं और हम भारत का हिस्सा रहेंगे, चाहे जो हो जाए। वे मुझे गोली भी मार दें तो भी इसे नहीं बदल सकते।’’कौर की हत्या पर दुख जताते हुए अब्दुल्ला ने कहा कि 1990 के दशक में जब कई लोग डर की वजह से घाटी छोड़कर चले गये थे तब सिख समुदाय ने कश्मीर को नहीं छोड़ा। उन्होंने कहा कि हमें अपना मनोबल ऊंचा रखना होगा और साहसी बनना पड़ेगा।

कश्मीर के सभी समाज को एकजुट होना पड़ेगा
उन्होंने कहा, ‘‘हमें मिलकर साहस के साथ लड़ना होगा। केवल आपका (सिख) समुदाय है जो सबके जाने के बाद भी यहीं रहा। छोटे छोटे बच्चों को पढ़ाने वाली एक शिक्षक को मारने से इस्लाम की खिदमत नहीं होती।’’गुरद्वारे के बाहर संवाददाताओं से बातचीत में अब्दुल्ला ने कहा, ‘‘वे (आतंकवादी) कभी सफल नहीं होंगे और उनकी साजिश नाकाम हो जाएंगी। लेकिन हम सभी को- मुस्लिमों, सिखों, हिंदुओं और ईसाइयों को उनके खिलाफ मिलकर लड़ना होगा।’’

नफरत के तूफान का सामना करना होगा
उन्होंने कहा कि भारत में ‘नफरत का तूफान’ चल रहा है और मुस्लिम, हिंदू तथा सिख समुदायों को बांटा जा रहा है। नेशनल कॉन्फ्रेंस अध्यक्ष ने कहा, ‘‘बांटने की इस राजनीति को रोकना होगा, अन्यथा भारत नहीं बचेगा। अगर हमें भारत को बचाना है तो हम सभी को मिलकर रहना होगा और तभी आगे बढ़ सकेंगे।’’देवेंद्र राणा के नेशनल कॉन्फ्रेंस छोड़कर भाजपा में जाने के बारे में पूछने पर अब्दुल्ला ने कहा, ‘‘लोग आते जाते रहते हैं। यह कोई बड़ी बात नहीं है।



(एजेंसी इनपुट के साथ)

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर