Saath Nibhaana Saathiya 2: नहीं देखा TV शो साथ निभाना साथिया 2? यहां 5 पॉइंट में जानें अब तक की पूरी कहानी

Saath Nibhaana Saathiya 2 full story, sneha jain harsh nagar TV Show: साथ निभाना साथिया 2 एक ऐसी लड़की गहना की कहानी है जो अपना जीवन ससुराल के नाम कर चुकी है। यहां जानिए इस शो की अब तक की पूरी कहानी...

Saath Nibhaana Saathiya 2 sneha jain harsh nagar TV Show full story Till Date in 5 point
साथ निभाना साथिया -2। 
मुख्य बातें
  • साथ निभाना साथिया 2 एक ऐसी लड़की गहना की कहानी है।
  • गहना की कहानी हर उस लड़की की है जो ससुराल में प्यार और सम्मान के लिए तरसती हैं।
  • यहां जानिए साथ निभाना साथिया 2 की अब तक की पूरी कहानी।

टीवी शो साथ निभाना साथिया 2 ऑन एयर होने के बाद से ही दर्शकों को खूब पसंद आ रहा है। स्नेहा जैन, हर्ष नागर, आकांक्षा जुनेजा, अलीराजा नामदार सहित कई स्टार्स इस टीवी सीरियल के जरिए जनता का खूब मनोरंजन कर रहे हैं। साथ निभाना साथिया 2 एक ऐसी लड़की गहना की कहानी है जो अपना जीवन ससुराल के नाम कर चुकी है। वह जब उठती है तो उसके लिए उसका परिवार है वह जब सोती है तब भी उसके लिए उसका परिवार है। उसकी आंखों में बड़ों के लिए इज्जत है और छोटों के लिए दिल में प्यार है। वह सब की परवाह करती है और बदले में सिर्फ परिवार से सम्मान और प्रेम की उम्मीद रखती है। गहना की कहानी हर उस महिला को इस सीरियल से जोड़ती है जो अपने ससुराल में प्यार और सम्मान के लिए तरसती हैं। आइए एक नजर डालते हैं स्नेहा जैन के करिदार गहना की कहानी पर। अब तक उसने कौन-कौन सी चुनौतियों का सामना किया और अब कैसी है उसकी जिंदगी। यहां जानिए अब तक की पूरी कहानी...

1. यहां से शुरू हुई साथ निभाना साथिया-2 की कहानी
मोदी परिवार की प्रमुख कोकिला मोदी लंबे समय के बाद अपने भाई प्रफुल्ल देसाई से मिलने जाने का फैसला करती हैं, जो कि सूरत में रहता है। देसाई परिवार काफी बड़ा है जिसमें प्रफुल्ल और उसकी पत्नी जमुना, उनके बेटे पंकज, चेतन, अनंत के अलावा उनकी बेटियां हीरल और टिया, उनकी बहू कनक और हेमा, उनके पोते पीयूष और साची रहते हैं। इसके अलावा घर में एक नौकरानी गहना भी है। जिसके पिता प्रफुल्ल की जान बचाने के दौरान गुजर गए थे इसी बलिदान को ध्यान में रखकर देसाई परिवार ने गहना को अपने घर रख लिया था। भले ही प्रफुल्ल और जमुना, गहना को अपनी बेटी के रूप में मानते हैं, लेकिन बाकी देसाई परिवार के लोग उसे एक बेकार नौकरानी मानते हैं।

2. गहना ने की कोकिला की मदद
पांच साल पहले (साथ निभाना साथिया में) कोकिला ने अपने प्यारे बेटे अहम को खो दिया था। जल्द ही यह पता चलता है कि अहम एक्सीडेंट से बच गया है पर वो अपनी याददाश्त खो चुका है। कोकिला और गोपी के साथ गहना और अनंत मिलकर अहम की खोई हुई याददाश्त को वापस लाने में मोदी परिवार की मदद करते हैं। बाद में मोदी परिवार अलविदा कहते हुए राजकोट वापस चला जाता है। उसी रात सागर (हेमा के भाई) घर में गहना से छेड़छाड़ करने का प्रयास करना। तभी अनंत मौके पर पहुंचकर गहना का बचा लेता है और सागर को इसके लिए सजा देता है। 

3. ऐसी होती गहना-अनंत की शादी
अनंत चाहता है कि गहना को सम्मान मिले। इसका उसे एकमात्र तरीका सूझता है कि उसकी शादी एक बेहतर घराने में हो। अनंत अपनी प्रेमिका, राधिका के साथ गहना के लिए एक लड़का ढूंढने में जुट जाता है। बाद में गहना के लिए ढूंढे जा रहे लड़के को लेकर धोखा मिलने की बात सामने आती है। जिससे शादी में गहना अकेली पड़ जाती है। गहना का सम्मान बचाने और उसका रिश्ता टूटने से रोकने के लिए अनंत ने अपने पिता प्रफुल्ल और मां जमुना के खिलाफ जाकर उससे शादी कर लेता है। कनक अब धीरे-धीरे गहना के लिए जमुना के दिल में नफरत पैदा करने लगती है। ये बात जब अनंत की प्रेमिका राधिका को पता चलती है कि अनंत पहले से ही शादीशुदा है, तो वह आत्महत्या का प्रयास करती है लेकिन अनंत उसे बचा लेता है।

3. कनक को हारा देती है गहना
अनंत और गहना धीरे-धीरे एक-दूसरे को पसंद करने लगते हैं। लेकिन राधिका, अनंत और गेहना के बीच आना चाहती है। इस बीच कनक अपने फायदे के लिए जमुना और गहना के बीच गलतफहमी पैदा करती है, जो कि बाद में नफरत में बदलती है। सरस्वती पूजा के मौके पर, पंडाल को सजाने की जिम्मेदारी गहना को दी जाती है। लेकिन कनक एक प्लान बनाती है और सागर को टैंट जलाने के लिए भेजती है। सागर टैंट को जलाता है, लेकिन गहना फिर से उसे सजाता है और जमुना को इम्प्रेस करती है। कनक तब और भी परेशान हो जाती है जब गहना उसके खिलाफ डांस प्रतियोगिता जीत जाती है। 

5. अनंत पूरा कर पाएगा गहना से किया वादा?
राधिका पर सभी परेशानियों के लिए जिम्मेदार होने का झूठा आरोप लगाया जाता है उसे लगभग घर से बाहर कर दिया जाता है कि अनंत सब राज खोल देता है। अनंत सबके सामने कनक की इन सबके लिए जिम्मेदार होने की सच्चाई उजागर करता है, लेकिन कनक तभी घर में बंटवारे की घोषणा करके परिवार को चौंका देती है। कनक, चेतन, पंकज और हेमा इस बंटवारे को चाहते हैं, जबकि अनंत इसको रोकने के लिए गहना से एक वादा करता है।

Times Now Navbharat पर पढ़ें Entertainment News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर