Tandav Review: प्रधानमंत्री की कुर्सी के लिए हुआ 'तांडव', जानिए सैफ अली खान और डिंपल में किसकी हुई जीत?

Critic Rating:

Tandav Review in Hindi: अली अब्बास ज़फर के निर्देशन में बनी अमेजन प्राइम की नई वेबसीरीज तांडव र‍िलीज हो गई है। नौ एपिसोड की ये सीरीज एक दिलचस्प राजनीतिक ड्रामा है ज‍िसमें पीएम की कुर्सी के ल‍िए घमासान होता है।

Tandav Review
Tandav Review 
मुख्य बातें
  • अमेजन प्राइम की नई वेबसीरीज तांडव र‍िलीज हो गई है।
  • सैफ अली खान और डिंपल कपाडिया हैं लीड रोल में।
  • वेबसीरीज को पहले ही द‍िन म‍िला जबरदस्‍त रेस्‍पांस।

Tandav Review in Hindi: अली अब्बास ज़फर के निर्देशन में बनी अमेजन प्राइम की नई वेबसीरीज तांडव र‍िलीज हो गई है। नौ एपिसोड की ये सीरीज एक दिलचस्प राजनीतिक ड्रामा है ज‍िसमें पीएम की कुर्सी के ल‍िए घमासान होता है। आयुष्‍मान खुराना की फ‍िल्‍म आर्टिकल 15 के लेखक गौरव सोलंकी ने इस वेबसीरीज की कहानी लिखी है। राजनीति और छात्र राजनीति पर बनी यह वेबसीरीज देश की राजधानी दिल्‍ली पर आधारत है। यह वेबसीरीज सत्ता के बंद, अराजक गलियारों में ले जाती है और जोड़-तोड़ व पहेलियों के साथ-साथ उन लोगों के रहस्य को उजागर करती है सत्ता व शक्ति पाने के लिए किसी भी हद तक जा सकते हैं। 

तांडव वेबसीरीज में बॉलीवुड के नवाब सैफ अली खान और अदाकारा डिम्पल कपाडिया फ्रंट पर प्रधानमंत्री की कुर्सी के ल‍िए राजनीति करते नजर आ रहे हैं। सहायक किरदारों में तिग्मांशु धूलिया, सुनील ग्रोवर, जीशान अयूब, कृतिका कामरा, डीनो मोरिया नजर आ रहे हैं। यह वेबसीरीज कुमुद मिश्रा, गौहर खान, अमायरा दस्तूर, सराह जेन डायस, संध्या मृदुल, अनूप सोनी, हितेन तेजवानी, परेश पहूजा एवं शोनाली नागरानी जैसे कलाकारों के अभिनय से सजी है। देखने को मिलेगा। अली अब्बास जफर के साथ साथ तांडव डिम्पल कपाडिया के लिए भी डिजिटल डेब्यू है।

सीरीज शुरू होते ही स्क्रीन पर लिखा दिखाई देता है, 'भाई हम तो धोखा खा गए...।' देश में दक्षिणपंथी पार्टी जन लोक दल (जेएलडी) का शासन है। यह पार्टी तीसरी बार आम चुनाव जीतने वाली है और इस बार भी ये लगभग तय है कि देवकी नंदन (तिग्मांशु धूलिया) प्रधानमंत्री बनेंगे, लेकिन चुनाव के नतीजे आने से ठीक पहले देवकी नंदन की मौत हो जाती। अब पार्टी के सामने पीएम किसे बनाएं ये सवाल आता है। प्रधानमंत्री पद का सबसे प्रबल दावेदार होता है देवकी नंदन का बेटा समर प्रताप सिंह यानि सैफ अली खान। लेकिन समीकरण कुछ ऐसे बनते हैं कि तीस साल से देवकी नंदन की 'खास' रहीं अनुराधा किशोर (डिंपल कपाड़िया) पीएम बन जाती हैं। 

तांडव में मुस्लिम नागरिकों को सत्ता का सॉफ्ट टार्गेट दिखाया गया है। इसमें उद्योगपतियों की साठ-गांठ को दिखाया गया है, वहीं आम जनता, किसान और मजदूरों की समस्‍याओं को प्रदर्शित किया गया है। 

सभी कलाकारों में सबसे ज्यादा प्रभावी डिंपल कपाड़िया हैं। सैफ अली खान नवाब खानदान से आते हैं इसलिए वह भी खूब जमे हैं। तांडव से Animesh Mukharjee ने भी एक्टिंग कैरियर की शुरुआत कर दी है। उन्हें अमित मेवानी का रोल मिला है। उन्‍होंने भी अच्‍छा काम किया है। किंग मेकर की भूमिका निभाते नजर आते हैं सुनील ग्रोवर। कुल मिलाकर अली अब्‍बास जफर ने एक देखी जाने वाली वेबसीरीज तैयार की है। 

Times Now Navbharat पर पढ़ें Entertainment News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर