'उम्र भर मैं सहता ही आया'- धर्मेंद्र पर क्यों छाई उदासी? आया लता मंगेशकर का फोन और यूं भागी मायूसी

धर्मेंद्र कहते हैं कि जैसे ही लता जी का फोन उन्हें आया उनकी मायूसी खिड़की से बाहर चली गई। रविवार को किया गया उनका ट्वीट लॉकडाउन के कठिन समय में महसूस की गई भावना थी।

Lata Mangeshkar and Dharmendra
धर्मेंद्र और लता मंगेशकर 

मुख्य बातें

  • गम भरे ट्वीट ने अभिनेता के चाहने वालों को कर दिया था परेशान
  • दीदी लता मंगेशकर का फोन आते ही भागी धर्मेंद्र की मायूसी
  • किया 20 मिनट की बातचीत का खुलासा, बताई उदासी भरे ख्यालों की वजह

मुंबई: बीते रविवार को सोशल मीडिया पर धर्मेंद्र ने बहुत सारे चाहने वालों चिंता में डाल दिया। वजह था उनका एक ट्वीट जिसमें साफ तौर पर उनकी उदासी छलक रही थी। उन्होंने गमगीन अंदाज और शब्दों से भरा हुआ एक सेर ट्वीट किया था- 'शऊर ना आया सादगी को मेरी... उम्र भर... मैं... सहता आया... सहता ही आया।' जल्द ही उनके स्वास्थ्य के बारे में ट्विटर पर चिंता भरे मैसेज की बाढ़ सी आ गई।

धरमजी ने चिंता व्यक्त करने के लिए आभार व्यक्त करते हुए कहा, 'यह उन कमजोर क्षणों में से एक था। पिछला एक साल हम में से किसी के लिए दयालु नहीं रहा। मुझे अपने परिवार द्वारा भीड़भाड़ से दूर अपने फार्महाउस में बंद करने के लिए मना लिया गया। मैं अपना समय व्यायाम करने, कविताएं लिखने और लताजी के गाने सुनने में बिताता हूं।'

लताजी, धरमजी और उनकी पत्नी हेमा मालिनी दोनों की बहुत करीबी मानी जाती हैं और एक बार फिर इस करीबी अहसास ने धर्मेंद्र की उदासी को कुछ हल्का किया।

लता जी और धर्मेंद्र की बातचीत:
स्पॉटबॉय की रिपोर्ट के अनुसार, धर्मेंद्र ने बताया, 'वास्तव में मैंने उसके साथ फोन पर सिर्फ बीस मिनट बिताए हैं। लताजी मेरी जान हैं। उनके गाने ही हैं जिनके साथ मेरा लॉकडाउन बीता। वो साक्षात सरस्वती मां हैं। हम काफी बार बात करते हैं। जब उन्होंने पूछा कि मैं उदास क्यों हूं तो मेरा अवसाद खिड़की से बाहर उड़ गया। उन्होंने कहा- डिप्रेस हों आपके दुश्मन। उनका मेरे लिए और मेरा उनके लिए प्यार बिना शर्त है। भगवान उन्हें स्वस्थ और खुश रखे।'

Lata Mangeshkar and Dharmendra

उदासी भरे ट्वीट पर बोले अभिनेता:
रिपोर्ट के अनुसार प्रशंसकों को उदास करने वाले ट्वीट पर धरमजी कहते हैं, 'मैं कवि की संवेदनशीलता हूं। मुझे आसानी से चोट लगी। आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि मैंने भावनात्मक कारणों से कितनी फ़िल्में की हैं और मैंने उसी कारण से कितनी फिल्में छोड़ी हैं। मुझे एक अच्छे अभिनेता के बजाय एक अच्छे इंसान के रूप में जाना जाता है। सौभाग्य से, भगवान ने मुझे सभी से इतनी सद्भावना का आशीर्वाद दिया है। मेरी सबसे बड़ी उपलब्धि वह प्यार है जो मुझे हर किसी से मिलता है। बाकी सब कुछ अस्थाई है।'

बता दें कि बीती 4 मार्च को धर्मेंद्र ने लता मंगेश्कर और कई कलाकारों के साथ एक तस्वीर सोशल मीडिया पर पोस्ट की थी और लिखा था, 'इन हस्तियों के कदमों में... इस हकीकत का यकीन नहीं होता...।'

Bollywood News in Hindi (बॉलीवुड न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर । साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) केअपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर