पिता की दूसरी शादी से खुश नहीं थे सुशांत, संजय राउत का दावा, बोले- कितनी बार केके सिंह से मिलने घर जाते थे?

sanjay raut On sushant singh rajput KK singh Relation: संजय राउत ने शिवसेना के मुखपत्र सामना में अपने वीकली कॉलम में दावा किया है कि सुशांत सिंह राजपूत के उनके पिता केके सिंह से अच्छे रिश्ते नहीं थे...

sushant singh rajput not happy with father KK singh Second marriage sanjay raut Claim
संजय राउत, सुशांत सिंह राजपूत और केके सिंह। 

मुख्य बातें

  • शिवसेना नेता संजय राउत ने एकबार फिर से सुशांत सिंह राजपूत की मौत पर बात की है।
  • संजय का कहना है कि इसका इस्तेमाल कुछ लोग राजनीतिक लाभ के लिए कर रहे हैं।
  • संजय का दावा है कि सुशांत सिंह राजपूत के उनके पिता केके सिंह से अच्छे रिश्ते नहीं थे।

सुशांत सिंह राजपूत की मौत पर एकबार फिर से शिवसेना नेता संजय राउत ने बात की है। संजय राउत ने दोहराया है कि इसका इस्तेमाल कुछ लोग राजनीतिक लाभ के लिए कर रहे हैं जो कि दुःखद है। इतना ही नहीं संजय राउत ने शिवसेना के मुखपत्र सामना में अपने वीकली कॉलम में दावा किया है कि सुशांत सिंह राजपूत के उनके पिता केके सिंह से अच्छे रिश्ते नहीं थे।

संजय राउत ने अपने कॉलम में सुशांत सिंह राजपूत के पिता की दूसरी शादी का जिक्र किया है। उन्होंने लिखा है कि पिता कृष्ण कुमार सिंह की दूसरी शादी के सुशांत सिंह राजपूत को स्वीकार नहीं थी। साथ ही संजय राउत ने यह सवाल किया है कि कितने बार सुशांत अपने पिता से मिलने जाते थे?

संजय राउत ने अपने कॉलम ने लिखा कि सुशांत सिंह राजपूत की मौत को डिनो मोरिया के घर पर कथित तौर पर हुई पार्टी से जोड़ा जा रहा है। मोरिया और अन्य लोग आदित्य ठाकरे के मित्र हैं। यदि इस दोस्ती की वजह से ठाकरे को निशाना बनाया जा रहा है तो यह गलत है। यदि कोई व्यक्ति राजनीतिकरण और दबाव की तरकीब का इस्तेमाल करना चाहता हो तो फिर से देश में कुछ भी हो सकता है। ऐसा लगा रहा है कि जैसे सुशांत मामले की पटकथा पहले से ही लिखी गई थी। परदे के पीछे जो हुआ वो महाराष्ट्र सरकार के खिलाफ साजिश है। 

सुशांत की मौत के 40 दिन बाद हुई FIR
संजय राउत ने अपने कॉलम के माध्यम से कहा कि पटना में सुशांत सिंह राजपूत की मौत की एफआईआर दर्ज की गई जबकि घटना मुंबई में हुई थी। इतना ही नहीं घटना के 40 दिनों के बाद सुशांत के परिवार ने यह कदम उठाया। उन्होंने कहा कि एफआईआर की घटना के बाद बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का ध्यान आकर्षित हुआ और उन्होंने तब मामले की सीबीआई जांच की सिफारिश की, जबकि मुंबई पुलिस इस मामले की जांच कर रही थी और अपने निष्कर्ष पर पहुंचने ही वाली थी।

डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे पर संजय राउत ने उठाए सवाल
संजय राउत ने कहा कि कुछ लोग हैं जो पर्दे के पीछे से काम कर रहे हैं और सीबीआई पर दबाव बनाया है। राउत ने बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे के चरित्र पर भी सवाल उठाए हैं। राउत ने कहा कि वह एक राजनीतिक पार्टी के लिए काम कर रहे हैं।

Times Now Navbharat पर पढ़ें Entertainment News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर