BPSC 67वीं PT रिजल्ट पर बवाल, धरने पर बैठे अभ्यर्थी, प्रतिपक्ष नेता विजय कुमार सिन्हा की CBI जांच की मांग

BPSC की 67वीं संयुक्त (प्रारंभिक) परीक्षा में कथित अनियमितताओं के विरोध में सैकड़ों अभ्यर्थियों ने BPSC कार्यालय के बाहर धरना दिया। इनके समर्थन में बीजेपी नेता और बिहार विधानसभा में प्रतिपक्ष के नेता विजय कुमार सिन्हा (Vijay Kumar Sinha) ने बिहार लोक सेवा आयोग (BPSC) परीक्षा में कथित अनियमितताओं की सीबीआई जांच की मांग की।

Updated Nov 30, 2022 | 08:51 AM IST

Vijay Kumar Sinha on BPSC 67th PT Result

BPSC की 67वीं PT परीक्षा में अनियमितता को लेकर सीबीआई जांच की मांग उठी

तस्वीर साभार : ANI
पटना : बीजेपी नेता और बिहार विधानसभा में प्रतिपक्ष के नेता विजय कुमार सिन्हा (Vijay Kumar Sinha) मंगलवार को बेली रोड स्थित बिहार लोक सेवा आयोग (BPSC) कार्यालय पहुंचे और BPSC की 67वीं संयुक्त (प्रारंभिक) परीक्षा में कथित अनियमितताओं की सीबीआई जांच की मांग की। उन्होंने कहा कि हम छात्रों और उम्मीदवारों के साथ खड़े रहेंगे। अगर वे सीबीआई जांच चाहते हैं, तो सरकार को इसमें कोई समस्या नहीं होनी चाहिए।
उन्होंने कहा कि अगर कोई अधिकारी कथित भ्रष्टाचार में शामिल है, तो उन्हें उत्तरदायी ठहराया जाना चाहिए और उनके खिलाफ कार्रवाई की जानी चाहिए। सिन्हा ने यह भी मांग की कि राज्य सरकार उम्मीदवारों को उनकी शिकायतों के समाधान में हुई देरी के लिए मुआवजा दे। प्रतिपक्ष नेता ने कहा कि बिहार लोक सेवा आयोग प्रारंभिक परीक्षा में पारदर्शिता हो। ऐसे भ्रष्ट लोगों को परीक्षा नियंत्रक के पद पर क्यों चुना जाता है? जैसा कि आरोप लगाया गया है, उन्हें 9 प्रश्नों के सही उत्तर जारी करने चाहिए और कट-ऑफ कम करनी चाहिए।
BPSC परीक्षा में कथित अनियमितताओं के विरोध में सैकड़ों अभ्यर्थियों ने BPSC कार्यालय के बाहर धरना दिया। परीक्षार्थियों ने हाथों में तख्तियां लेकर नारेबाजी की और आरोप लगाया कि आयोग द्वारा घोषित किए गए परीक्षा परिणामों में कई अनियमितताएं हैं। उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि पेपर में कुछ प्रश्न गलत थे। हम सीबीआई जांच और सचिव का इस्तीफा चाहते हैं। हम बिहार की महिलाओं के लिए 35% आरक्षण की मांग करते हैं। पटना में बीपीएससी पीटी के परिणाम का विरोध कर रहे एक अभ्यर्थी ने कहा कि डोनेशन लेकर परीक्षा देने वाले छात्रों को ब्लैक लिस्ट में डालने की जरूरत है।
बिहार सिविल सेवा (उपखंड अधिकारी) के सामान्य प्रशासन विभाग समेत विभिन्न पदों के लिए योग्य स्नातकों को शॉर्टलिस्ट करने के लिए बीपीएससी 67वीं संयुक्त (प्रारंभिक) परीक्षा (BPSC 67th combined preliminary examination) इस साल 30 सितंबर को आयोजित की गई थी। रिजल्ट 17 नवंबर को घोषित किए गए और परीक्षा के लिए रजिस्टर्ड 4.75 लाख छात्रों में से कुल 11,607 उम्मीदवारों ने परीक्षा पास की। कथित तौर पर, कई उम्मीदवारों के रिजल्ट की ऑनलाइन और पीडीएफ कॉपी में उम्मीदवारों के नाम और रोल नंबर में बेमेल थे।
देश और दुनिया की ताजा ख़बरें (Hindi News) अब हिंदी में पढ़ें | पटना (cities News) की खबरों के लिए जुड़े रहे Timesnowhindi.com से | आज की ताजा खबरों (Latest Hindi News) के लिए Subscribe करें टाइम्स नाउ नवभारत YouTube चैनल
लेटेस्ट न्यूज

तुर्की भूकंपः दिग्गज चेल्सी फुटबॉल टीम के पूर्व खिलाड़ी क्रिस्टियन अत्सु मलबे में फंसे- रिपोर्ट

             -

BSEB Bihar Board 2023: बिहार बोर्ड ने जारी की परीक्षार्थियों के लिए जरूरी सूचना, देखें वीडियो

BSEB Bihar Board 2023

Suhani Shah ने किया Anchor का Mind Read, माइंड रीडिंग पर किया ये अहम खुलासा-VIDEO

Suhani Shah   Anchor  Mind Read       -VIDEO

राखी सावंत ने रिवील किया अदिल की गर्लफ्रेंड का चेहरा, वायरल हुआ रोमांटिक वीडियो

पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान इयान चैपल ने कहा- भारत को खूब खलेगी इस खिलाड़ी की कमी

      -

वो तोप हैः ऑस्ट्रेलियाई ओपनर उस्मान ख्वाजा को सता रहा है इस भारतीय का डर

शमिता शेट्टी ने आमिर अली को डेट करने की खबर पर तोड़ी चुप्पी, बोलीं- दोस्ती को बदनाम मत करो...

             -

दादा की भविष्यवाणीः कमाई को लेकर सौरव गांगुली ने दुनिया के सभी खिलाड़ियों को दिया बड़ा संकेत

आर्टिकल की समाप्ति

© 2023 Bennett, Coleman & Company Limited