दुष्कर्म के आरोपियों को चौक पर फांसी या नपुंसक बना देना चाहिए- पाकिस्तानी PM इमरान खान

पाकिस्तान के लाहौर में हाल ही में मोटरवे गैंगरेप की घटना पर काफी बवाल हुआ था। अब पीएम इमरान खान का इस पर ताजा बयान आया है।

PM imran khan
पीएम इमरान खान 

मुख्य बातें

  • पाकिस्तान के लाहौर में मोटरवे गैंगरेप मामले पर पीएम इमरान खान का ताजा बयान
  • इमरान खान ने कहा है कि दुष्कर्मियों को चौक पर फांसी दे देनी चाहिए
  • उन्होंने ये भी कहा कि उन्हें सजा के तौर पर नपुंसक भी बना देना चाहिए

इस्लामाबाद : पाकिस्तान के लाहौर में मोटरवे गैंगरेप केस के आरोपियों में से कुछ को गिरफ्तार कर लिया गया है जबकि बाकियों की तलाश जारी है। इस गैंगरेप के मामले के बाद पूरे पाकिस्तान से विरोध के स्वर उठने लगे थे। लोगों ने दुष्कर्म के आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा देने की मांग की थी। कई लोगों ने सरकार से गैंगरेप के आरोपियों को फांसी पर लटकाने की मांग की है।

आपको बता दें कि हाल ही में लाहौर के पास एक हाईवे पर कार में जा रही एक महिला के साथ कुछ लोगों ने गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया था। महिला की गाड़ी बीच सुनसान रास्ते में ही खराब हो गई थी उस दौरान रात का समय था। महिला को मदद देने के बहाने एक व्यक्ति उसके पास आया और उसे अपने साथ जबरदस्ती पास के खेतों में ले गया और अपने दोस्तों के साथ मिलकर उसके साथ गैंगरेप किया।

हैरत की बात तो ये है कि महिला के दो छोटे-छोटे बच्चों के सामने इस घिनौनी करतूत को अंजाम दिया गया इसके बाद उन लोगों ने पीड़िता उसके बच्चों के साथ वहीं छोड़ दिया। सुबह होने पर इस मामले का खुलासा होने के बाद ये खबर पूरे देश में जंगल में आग की तरह फैल गई थी। इस पर सीधे प्रधानमंत्री इमरान खान को सामने आकर बयान देना पड़ा था। उन्होंने कहा था कि दोषियों के खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

अब इस मामले की कार्रवाई के बीच पीएम इमरान खान का एक बार फिर से बयान आया है। उन्होंने कहा कि दुष्कर्मियों को सार्वजनिक रूप से फांसी पर लटका देना चाहिए या केमिकली कैस्ट्रेट (नपुसंक) कर देना चाहिए। एक स्थानीय टेलीविजन चैनल को दिए साक्षात्कार के दौरान, पाकिस्तानी प्रधानमंत्री ने कहा कि मोटरवे गैंग-रेप मामले ने 'पूरे देश को हिला कर रख दिया है।' उन्होंने कहा, 'मुझे पुलिस से यह जानकर झटका लगा कि देश में यौन अपराध बहुत बढ़ रहे हैं।'

उन्होंने कहा, 'दुष्कर्मियों को अनुकरणीय दंड दिया जाना चाहिए। मेरी राय में, उन्हें चौक (मुख्य चौक) पर फांसी दी जानी चाहिए।' हालांकि, प्रधानमंत्री ने इस बात पर प्रकाश डाला कि कैबिनेट के साथ इस पर चर्चा करने के बाद, यह जानकारी दी गई कि इस तरह की सजा को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर स्वीकार नहीं किया जाएगा।

इमरान खान ने कहा, 'दुर्भाग्य से, हमारी चर्चा हुई और हमें बताया गया कि यह अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर स्वीकार्य नहीं होगा।' उन्होंने कहा, "यूरोपीय संघ द्वारा हमें दिए गए जीएसपी-प्लस व्यापार की स्थिति प्रभावित होगी।' खान ने कहा कि देश को यह सुनिश्चित करने के लिए नए कानून की जरूरत है कि ऐसे अपराधियों की स्थायी नसबंदी हो।

खान ने कहा, 'एक अन्य विकल्प यह हो सकता है कि अपराध की क्रूरता के आधार पर दुष्कर्मियों का केमिकली या सर्जिकल रूप से नसंबदी कर दिया जाए।" उन्होंने कहा कि कई अन्य देशों में दुष्कर्मियों के लिए इस तरह की सजा का प्रावधान है।

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री की टिप्पणी ऐसे समय में आई है जब पूरे देश में मोटरवे सामूहिक दुष्कर्म की घटना को लेकर उबाल है, जिसमें कई लोग इमरान खान के नेतृत्व वाली सरकार पर देश में महिलाओं की सुरक्षा सुनिश्चित करने में विफल होने का आरोप लगा रहे हैं।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर