Pakistan: वॉशरूम में हिडन कैमरे मिलने के बाद स्कूल किया गया सील, ऐसे छिपाकर किए गए थे इंस्टॉल

दुनिया
किशोर जोशी
Updated Nov 06, 2021 | 14:04 IST

पाकिस्तान में एक निजी स्कूल में कैमरे मिलने से हडकंप मचा हुआ है। लड़कियों और लड़कों के टॉयलेट में छेद वाली एक शीट के पीछे इन कैमरों को लगाया गया था।

Hidden cameras installed behind a sheet with holes in girls and boys restrooms in Karachi, Pakistan
वॉशरूम में हिडन कैमरे मिलने के बाद स्कूल किया गया सील 
मुख्य बातें
  • पाकिस्तान के कराची में एक निजी स्कूल के वॉशरूम में मिले हिडन कैमरे
  • छात्र और छात्राओं के लिए बने अलग-अलग वॉशरूम में शातिर तरीके से लगाए गए थे कैमरे
  • सरकार ने स्कूल की मान्यता को किया रद्द

कराची: पाकिस्तान में एक स्कूल के वॉशरूम में हिडन कैमरे मिलने से हडकंप मचा हुआ है। सिंध शिक्षा विभाग ने इसके चलते निजी स्कूल का पंजीकरण रद्द कर दिया है। यहां लड़के और लड़कियों के वॉशरूम में गुप्त कैमरे लगाए जाने के बाद परिसर को सील कर दिया गया है। अधिकारियों ने द एक्सप्रेस ट्रिब्यून को बताया कि सफोरा गोथ स्थित एक निजी स्कूल के वॉशरूम से कम से कम दो हिडन कैमरे मिले हैं।

स्कूल प्रबंधन ने नहीं दिया कोई जवाब

 खबर के मुताबिक, स्कूल प्रबंधन को चेतावनी और कारण बताओ नोटिस दिए जाने के बावजूद उसने कोई जवाब नहीं दिया और शुक्रवार को भी स्कूल चालू रहा। चैपल सन सिटी स्थित द हारक्स स्कूल की एक महिला शिक्षिका ने सिंध के निजी संस्थानों के निरीक्षण निदेशालय में शिकायत दर्ज कराई थी  जिसकी एक समिति ने गुरुवार को स्कूल का दौरा किया और वॉशरूम में दो हिडन कैमरे मिले थे। रिपोर्ट में कहा गया है, 'लड़कियों और लड़कों के शौचालयों में वाशरूम के क्षेत्र में छेद वाली चादर के पीछे छिपे कैमरे लगाए गए थे छात्र और छात्रों तथा कर्मचारियों की गतिविधियों को आसानी से देखा जा सके।'

शातिर तरीके से लगाए गए थे हिडन कैमरे

 द एक्सप्रेस ट्रिब्यून को सूत्रों ने बताया कि कुछ महिला शिक्षकों को पहले से ही छिपे हुए कैमरों के बारे में पता था, लेकिन वो इस बात को लेकर सुनिश्चित नहीं थे कि कैमरे कहां लगाए गए हैं। एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, 'जब टीम ने वॉशरूम की तलाशी ली तो पहले प्रयास में कुछ नहीं मिला। हालांकि, अगली बार कैमरों के सामने चिपकाई गई शीट को खोला गया तो हिडन कैमरे मिल गए। लड़कों के वॉशरूम में भी इसी तरह एक और कैमरा लगाया गया था।'

बार-बार मिल रही थीं शिकायतें

शहर के निजी स्कूलों को लेकर अभिभावकों और शिक्षकों की ओर से कई शिकायतें दर्ज कराई गई हैं, लेकिन शिक्षा विभाग के अधिकारियों का कहना है कि यह पहला मामला है जहां वॉशरूम में कैमरे लगाए गए हैं। विशेषज्ञों ने कहा कि स्कूल प्रबंधन छात्रों और कर्मचारियों की सुरक्षा और सुरक्षा के उद्देश्य से कैमरे लगा सकता है। लेकिन वे वॉशरूम में कैमरे नहीं लगा सकते।

 सिंध के शिक्षा मंत्री सैयद सरदार अली शाह ने इस पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि सुरक्षा के नाम पर इस तरह के कदमों को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा कि यदि उन्हें स्कूल प्रबंधन के खिलाफ कोई शिकायत मिलती है तो अभिभावक एफआईए साइबर क्राइम सर्कल से संपर्क करें। कथित तौर पर सोशल मीडिया पर छिपे हुए कैमरों की खबर वायरल होने के बाद माता-पिता, क्षेत्र के निवासियों ने स्कूल प्रबंधन के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर