Vienna attack: 'कट्टरपंथी' मस्जिदों को बंद करेगी ऑस्ट्रिया सरकार, वियना हमले के बाद लिया फैसला

दुनिया
किशोर जोशी
Updated Nov 07, 2020 | 07:17 IST

ऑस्ट्रिया की राजधानी वियना में हुए आतंकी हमले को लेकर वहां की सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। सरकार जल्द ही 'कट्टरपंथी' मस्जिदों को बंद करने का आदेश देगी।

Austria to shut 'radical' mosques after Vienna terror attack
Vienna:'कट्टरपंथी' मस्जिदों को बंद करेगी ऑस्ट्रिया सरकार  |  तस्वीर साभार: AP

मुख्य बातें

  • ऑस्ट्रिया की राजधानी वियना में कुछ हथियारबंद बंदूकधारियों ने सोमवार रात छह जगहों पर की गोलीबारी
  • इस गोलीबारी में मारे गए थे 4 लोग, एक हमलावर को भी पुलिस ने मार गिराया था
  • अब ऑस्ट्रिया सरकार ने कट्टरपंथी मस्जिदों को बंद करने का फैसला किया है

वियना: ऑस्ट्रिया की राजधानी वियना में सोमवार की शाम को कुल छह जगहों पर हुए आतंकी हमले के बाद ऑस्ट्रिया सरकार बड़ा फैसला लेने जा रही है। इस गोलीबारी में अब तक चार लोगों की मौत हो गई है, वहीं 15 लोग घायल हुए हैं। ऑस्ट्रिया के आतंरिक मंत्रालय ने शुक्रवार को कहा कि ऑस्ट्रियाई सरकार राजधानी वियना में एक घातक जिहादी हमले के मद्देनजर 'कट्टरपंथी' मस्जिदों को बंद करने का आदेश देगी।

गोलीबारी में मारे गए थे चार लोग

मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने कहा कि जल्द ही आंतरिक मंत्री कार्ल नेहमर और अन्य कैबिनेट मंत्री सुसान रबाब के साथ एक एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर विस्तार से जानकारी देंगे। सोमवार को हुई इस आतंकी वारदात में गोलीबारी के बाद चार लोग मारे गए थे, दशकों में ऑस्ट्रिया का पहला बड़ा हमला था और इसका पहला दोष जिहादियों पर लगाया था। एक हमालवर जिसे पुलिस ने मार गिराया था उसकी पहचान 20 वर्षीय कुजतिम फ़ेज़ज़ुलई के रूप में की गई थी।

मस्जिद ने तोड़े रूल

ऑस्ट्रिया में आधिकारिक तौर पर मान्यता प्राप्त इस्लामिक धार्मिक समुदाय द्वारा जारी एक बयान में कहा गया है कि 'संबंधित अधिकारियों के साथ चर्चा के बाद हम एक मस्जिद को बंद कर रहे हैं।' बयान में कहा गया है कि नियमों को तोड़े जाने की जानकारी सामने आने के बाद मस्जिद को बंद किया जा रहा था। इसने 'धार्मिक सिद्धांत और उसके संविधान' वाले नियमों को तोड़ा है, साथ ही इस्लामिक संस्थानों को संचालित करने वाला राष्ट्रीय कानून भी तोड़ा है।

हिरासत में लिए गए 16 में से 6 को छोड़ा

इसके अलावा शुक्रवार को वियना अभियोजक विभाग ने एएफपी को बताया कि हमले के बाद से हिरासत में लिए गए 16 लोगों में से छह को छोड़ दिया गया है, बाकी को हिरासत में रखा गया है क्योंकि हमलावर के साथियों की जांच जारी है। संदिग्ध बंदूकधारी, दोहरे ऑस्ट्रियाई-मैसेडोनियन नागरिक फ़ैज़ुलई को पहले सीरिया में इस्लामिक स्टेट समूह में शामिल होने की कोशिश करने के लिए दोषी ठहराया गया था।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर