France के खिलाफ मुस्लिम जगत में भड़का आक्रोश, पाकिस्तान सहित कई देशों में सड़कों पर उतरे लाखों लोग

दुनिया
किशोर जोशी
Updated Oct 31, 2020 | 07:48 IST

फ्रांस के खिलाफ मुस्लिम जगत में विरोध बढ़ता ही जा रहा है। शुक्रवार को पाकिस्तान में हजारों लोग सड़कों पर उतर आए और उन्होंने फ्रांस के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

Anti-France protests draw tens of thousands across Muslim world including Pakistan
फ्रांस के खिलाफ सड़कों पर उतरे मुस्लिम जगत के लाखों लोग  |  तस्वीर साभार: AP

मुख्य बातें

  • फ्रांस के खिलाफ लाखों की संख्या में सड़कों पर उतरे वैश्विक मुस्लिम जगत के लोग
  • पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद में हुए हिंसक प्रदर्शन
  • बांगलादेश की राजधानी ढाका में प्रदर्शन में करीब 50,000 लोग शामिल हुए

इस्लामाबाद: पैंगंबर मोहम्मद के कार्टून को लेकर विवाद लगातार बढ़ते जा रहा है। फ्रांस के खिलाफ मुस्लिम देशों में बड़े देशों में बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन आयोजित किए जा रहे हैं जिसमें बड़ी संख्या में लोगों का हुजूम उमड़ रहा है। पाकिस्तान से लेकर बांग्लादेश, लेबनान, तुर्की और कुवैत जैसे देशों में लोग फ्रांस के खिलाफ मुहिम छेड़े हुए हैं। दरअसल  फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों ने पैगंबर के कार्टून छापने के संबंध में अभिव्यक्ति के अधिकार की रक्षा का संकल्प लिया है जिसके बाद से मुस्लिम जगत में उबाल आ गया है।

पाकिस्तान में हिंसक प्रदर्शन
पाकिस्तान में शुक्रवार को जुमे की नमाज के बाद हजारों की संख्या में लोग इस्लामाबाद की सड़कों पर उतर आए और 2 हजार से अधिक लोगों ने फ्रांस के दूतावास की तरफ कूच करने का प्रयास किया। हालांकि पुलिस ने वहां जाने से पहले ही भीड़ को रोक दिया लेकिन इसके लिए पुलिस का काफी मशक्कत करनी पड़ी। प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए पुलिस का लाठी चार्ज करना पड़ा और आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े। पुलिस की कार्रवाई से प्रदर्शनकारी और भड़क गए जिसके बाद उन्होंने नारेबाजी की और कई सड़कों को अवरूद्ध कर दिया तथा फ्रांस के झंडे जलाए। मुल्तान में प्रदर्शनकारियों ने फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैक्रों का पुतला जलाया।

फलस्तीन में भी प्रदर्शन
यरूशलम में सैकड़ों फलस्तीनी प्रदर्शनकारियों ने अल अक्सा मस्जिद के बाहर फ्रांसीसी राष्ट्रपति मैक्रों के खिलाफ प्रदर्शन किया। उन्होंने ‘पैगंबर मोहम्मद के लिए हम कुर्बानी देंगे।’ जैसे नारे लगाए और फ्रांस का झंडा जलाया। वहीं पुराने शहर में इजराइल पुलिस के साथ कुछ युवाओं की भिड़ंत हो गयी। पुलिस ने कहा कि उन्होंने भीड़ को तितर बितर कर दिया और तीन लोगों को हिरासत में लिया। लेबनान की राजधानी बेरूत में भी लोगों ने प्रदर्शन किए।

बांगलादेश में हजारों लोग सड़कों पर
जुमे की नमाज के बाद बांगलादेश की राजधानी ढाका में बड़ी संख्या में लोग सड़कों पर उतर आए। ढाका में आयोजित प्रदर्शन में करीब 50,000 लोग शामिल हुए और मैक्रों का पुतला फूंका। लोगों ने ‘नस्लवाद रोकने’ ‘इस्लाम के खिलाफ नफरत रोकने’ के नारे लगाए और फ्रांस के उत्पादों का बहिष्कार करने की अपील की। इस दौरान इन लोगों के हाथों में बैनर था तथा फ्रांस के खिलाफ जमकर नारेबीजी हुई।

अफगानिस्तान, इटली और तुर्की में भी प्रदर्शन
पैंगबंर मोहम्मद के कार्टून को लेकर बड़ी संख्या में तुर्की में भी विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं। लोगों ने हाथो में पोस्टर लेकर मैंक्रो को मानसिक रूप से बीमार करार दिया और उनके खिलाफ नारेबाजी की। तुर्की ने भी कड़े शब्दों में फ्रांस की आलोचना की है। वहीं इटली में भी लोगों ने फ्रांस के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया और राष्ट्रपति के खिलाफ नारेबाजी की। वहीं अफगानिस्तान में भी इस्लामी पार्टी हज्ब-ए-इस्लामी के सदस्यों ने फ्रांस का झंडा जलाया।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर