कैंसर मरीज को थी इस खास डिश की चाहत, 850 किमी की यात्रा कर पहुंचे रेस्टोरेंट मालिक और शेफ, खूब हो रही तारीफ

लंग कैंसर से जूझ रही महिला की इच्‍छा पूरी करने के लिए रेस्‍टोरेंट मालिकों ने कुछ ऐसा किया कि सोशल मीडिया पर हर कोई उनकी तारीफ कर रहा है।

कैंसर मरीज को थी इस खास डिश की चाहत, 850 किमी की यात्रा कर पहुंचे रेस्टोरेंट मालिक और शेफ, खूब हो रही तारीफ
कैंसर मरीज को थी इस खास डिश की चाहत, 850 किमी की यात्रा कर पहुंचे रेस्टोरेंट मालिक और शेफ, खूब हो रही तारीफ  |  तस्वीर साभार: Representative Image

वाशिंगटन : कोरोना वायरस संक्रमण और तमाम मुश्किलों के बीच अमेरिका में एक रेस्‍टोरेंट ने कुछ ऐसा किया है कि हर कोई उनकी तारीफ कर रहा है। दरअसल यहां फेफड़ों के कैंसर से जूझ रही एक महिला को जीवन के आखिरी क्षणों में एक खास डिश को खाने की इच्‍छा थी और इसे पूरी करने के लिए रेस्‍टोरेंट के कर्मचारियों ने 800 से अधिक क‍िलोमीटर की यात्रा पूरी की और महिला को फ्रेश डिश बनाकर खिलाई।

ऐसे में जबकि ऑनलाइन फूड डिलीवरी को लेकर आ रही कई शिकायतों के बीच अमेरिकी रेस्‍टोरेंट कर्मचारियों के इस रुख ने कई लोगों का दिल जीत लिया है। यह मामला अमेरिका के मैरीलैंड और वर्मोंट राज्‍य का है। रेस्‍टोरेंट मैरीलैंड के बाल्‍टीमोर में था, जबकि मैंसर मरीज वर्मोंट में थीं। बाल्‍टीमोर से वर्मोंट के बीच करीब 850 किलोमीटर की यात्रा लगभग 6 घंटे में पूरी कर रेस्‍टोरेंटकर्मी पहुंचे, जिसने हर किसी को हैरान कर दिया।

खूब पसंद थी ये डिश

दअसल, लंग कैंसर से जूझ रही महिला बाल्‍टीमोर के एशियाई रेस्‍टोरेंट एकीबेन के खास डिश 'टेम्‍पुरा ब्रोकली' की दीवानी हैं। लेकिन बीमारी की वजह से अरसे से उनका वहां जाना नहीं हो पाया। उनके दामाद ने फेसबुक के जरिये इस रेस्‍टोरेंट से संपर्क किया था और बताया था कि किस तरह उनकी सासू मां जब कभी बाल्‍टीमोर जाती थीं, उस रेस्‍टोरेंट में जाकर यह खास डिश जरूर ट्राई करती थीं।

अपने पोस्‍ट में उन्‍होंने लिखा कि यहां तक कि एक बार उनकी सासू मां ने मजाक में यह भी कहा था कि जीवन के आखिरी क्षणों में उन्‍हें कुछ चाहिए होगा तो वह ये खास डिश ही होगी। अपने पोस्‍ट में उन्‍होंने लिखा कि अगर यह डिश रेस्‍टोरेंट से लाई जाए, तब भी 8 घंटे की यात्रा के दौरान उसका जायका उसी तरह का बने रहने की उम्‍मीद नहीं है। ऐसे में उन्‍होंने रेस्‍टोरेंट से इस खास डिश की रेसिपी और इसमें डाली जाने वाली सामग्रियों के बारे में जानकारी लेनी चाहिए थी, ताकि यह पकाई जा सके। लेकिन उन्‍हें जो जवाब मिला, वह चौंकाने वाला था।

महिला के लिए बनाई खास डिश

महिला के दामाद ने बताया कि रेस्‍टोरेंट के एक मालिक और शेफ ने कहा कि वे वर्मोंट पहुंचकर महिला के लिए वह खास डिश बनाएंगे, ताकि वह इसे ताजा-तरीन खा सकें। वे 6 घंटों से भी अधिक समय की यात्रा कर वर्मोंट पहुंचे और वहां कैंसर से पीड़‍ित महिला के लिए वह खास डिश बनाई। इसके लिए उन्‍होंने कोई चार्ज नहीं किया न ही भोजन का पैसा लिया। सोशल मीडिया पर जब इसकी जानकारी सामने आई तो हर किसी ने शेफ और रेस्‍टोरेंट मालिक की तारीफ की।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर