बाघ को आई अपने माशूका की याद, तीन हजार किमी का सफर किया तय

भारत में एक बाघ ने करीब 'सबसे लंबी' 3,000 किलोमीटर की यात्रा कर डाली वो भी अपने साथी की तलाश में, ये उसने करीब 9 महीने में तय की है।

tiger walk
इतनी लंबी यात्रा में इस टाइगर का एक बार ही इंसान से सामना हुआ 

साढ़े तीन साल के नर ने पश्चिमी राज्य महाराष्ट्र में एक वन्यजीव अभयारण्य में अपना घर छोड़ दिया। वह संभवतः शिकार, क्षेत्र या एक साथी की तलाश में था। इंडिया का ऐसा बाघ जिसने सबसे लंबी वॉक ली और वो करीब 3000 किलोमीटर चला गया और वो भी महज 9 महीनों में।

कुछ दिनों पहले आईएफएस ऑफिसर परवीन कासवान ने भी इसके बारे में जानकारी शेयर की थी। खबरों के मुताबिक, इस बाघ का नाम फोंडली है। बीते साल जून की बात है इस बाघ ने महाराष्ट्र की एक वाइल्ड लाइफ सेंचुरी जोकि इसका घर था, उसे छोड़ दिया था। ऐसा कहा जा रहा है कि या तो ये एक नई टेरिटरी या फिर मेट की तलाश में चलता जा रहा था।

रेडियो कॉलर से लैस इस बाघ ने महाराष्ट्र के सात जिलों और पड़ोसी राज्य तेलंगाना के माध्यम से लगभग 3,000 किमी की यात्रा की,अप्रैल में कॉलर हटा दिया गया था। ये लगभग 7 जिले पार कर गया था और फिर ये महाराष्ट्र की एक सेंचुरी में ठहर गया।

इतनी लंबी यात्रा में इस टाइगर का एक बार ही इंसान से सामना हुआ बाघ ने उसपर हमला किया। लेकिन शख्स भाग गया और उसकी जान बच गई। वाइल्डलाइफ वालों का कहना है कि वो जल्द ही यहां एक मादा बाघ लाने की सोच रहे हैं ताकि उसे मेटिंग पार्टनर मिल जाए।


 

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर