मेघालय के कोंगथॉन्ग गांव में तैयार वो खास धुन जिसे पीएम नरेंद्र मोदी ने किया स्वीकार, [WATCH]

मेघालय के सीएम कोनार्ड संगमा ने कोंगथॉन्ग गांव के लोगों द्वारा बनाए गए खास धुन को स्वीकार करने की अपील की थी।

Meghalaya, Conard Sangma, Narendra Modi, Kongthong, Special Tune
मेघालय के कोंगथॉन्ग गांव की वो खास धुन जिसे पीएम नरेंद्र मोदी ने किया स्वीकार 

भारत को अगर विविधताओं से भरा देश कहते हैं तो उसके पीछे वजह है। कहा जाता है कि यहां पर कोस कोस पर पानी और तीन कोस पर भाषा बदल जाती है, और 300 से 400 किमी के दायरे में खानपान रहन सहन और संस्कृति बदल जाती है। लेकिन उत्तर से दक्षिण और पूरब से पश्चिम तक जुड़ाव एक जैसा। इस समय मेघालय का गांल कोंगथॉंन्ग चर्चा में है।यहां की एक महिला ने खास धुन बनाया जिसे मेघालय के सीएम कोनार्ड संगमा ने ट्वीट करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी से अपील करते हुए कहा कि वो इसे स्वीकार करें। उनके इस खास आग्रह पर पीएम मोदी ने भी निराश नहीं किया। उन्होंने उस धुन को स्वीकार किया और खास ट्वीट भी किया।  

मेघालय के सीएम का पीएम से खास आग्रह
माननीय पीएम नरेंद्र मोदी जी, कृपया अपने सम्मान में और गाँव को एक प्रमुख पर्यटन स्थल के रूप में बढ़ावा देने के लिए भारत सरकार के प्रयासों की सराहना करते हुए कोंगथोंग के ग्रामीणों द्वारा रचित इस विशेष धुन को स्वीकार करें।


पीएम मोदी का खास ट्वीट

इस तरह के कार्य के लिए कोंगथोंग के लोगों का आभारी हूं। भारत सरकार मेघालय की पर्यटन क्षमता को बढ़ावा देने के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध है। और हां, हाल ही में राज्य में हुए चेरी ब्लॉसम फेस्टिवल की भी शानदार तस्वीरें देखी गई हैं। सुंदर दिखता है।

पर्यटन मंत्रालय ने संयुक्त राष्ट्र विश्व पर्यटन संगठन की 'सर्वश्रेष्ठ पर्यटन गांवों' प्रतियोगिता के लिए कोंगथोंग की सिफारिश की थी।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर