'जहर' जो सिर्फ जान लेता नहीं लेता, जिंदगियां बचाता भी है, जानिये कैसे जान बचाता है सांप का जहर

सांपों को देखकर डर स्‍वाभाविक है, क्‍योंकि दुनिया में कई ऐसे जहरीले सांप हैं, जिनके काटने के बाद इंसान के जिंदा रहने की संभावना नहीं रह जाती। पर क्‍या आप जानते हैं, कई बार यह जिंदगी बचाने वाला भी साबित होता है।

'जहर' जो सिर्फ जान लेता नहीं लेता, जिंदगियां बचाता भी है
'जहर' जो सिर्फ जान लेता नहीं लेता, जिंदगियां बचाता भी है  |  तस्वीर साभार: Representative Image

नई दिल्‍ली : ओडिशा में वन विभाग के अधिकारियों ने हाल ही में सांप के जहर की तस्‍करी करने वाले एक गिरोह का भंडाफोड़ किया है और एक महिला सहित छह लोगों को गिरफ्तार किया है। उनके पास से सांपों का 1 लीटर जहर बरामद किया गया है, जिसकी कीमत अंतरराष्‍ट्रीय बाजार में 1 करोड़ रुपये बताई गई है। 1 लीटर और वह भी जहर की ये कीमत कई लोगों को हैरान कर सकती है। ऐसे में यह जानकर शायद आप और भी हैरान हो जाएं कि जहर सिर्फ जिंदग‍ियां लेने का काम नहीं करता, बल्कि यह जिंदगी बचाने वाला भी साबित होता है।

दुनियाभर में सांपों के जहर से तैयार कई दवाएं हैं, जो पहले ही बाजार में बिक रही हैं। इससे पहले सांपों के नस्‍ल की बात करें तो दुनियाभर में ऐसे कई विषैले व जहरीले सांप हैं, जिसके काटते ही लोगों की जान चली जाती है। एक अनुमान के मुताबिक, दुनियाभर में हर साल 2 लाख से अधिक लोग सर्पदंश यानी सांप के काटने से मर जाते हैं। वैज्ञानिक आज भी इसकी काट खोजने में जुटे हैं। इस बीच उन्‍हें सांपों के जहर में कई बीमारियों का तोड़ भी मिल गया। खास तौर पर हृदय रोग और हाई ब्‍लड प्रेशर की दवाओं में इनके इस्‍तेमाल को कारगर समझा जाता है।

सांपों के जहर में औषधीय गुण भी

सांपों का जहर इंसानी शरीर में किस तरह प्रवेश करता है तो इसके भी कई तरीके हैं। जैसा कि सांपों की कई नस्‍ल है, उनके हमले का तरीका भी अलग-अलग है। कुछ सांप अपने विषैले दांतों से इंसानी शरीर में जहर पहुंचाते हैं, जो कुछ ही क्षणों में पूरे खून में फैल जाता है। वहीं अफ्रीकी देश मोजांबिक में पाया जाने वाला स्पिटिंग कोबरा सहित कुछ ऐसे भी सांप हैं, जो थूक कर जहर फेंकते हैं। सांपों का जहर रक्‍त के माध्‍यम से पूरे शरीर में फैलकर सबसे पहले तंत्रिका तंत्र और हृदय को ही क्षतिग्रस्‍त करता है। यहां यह भी गौरतलब है कि सांपों के जहर का इलाज जिस एंटी-वेनम सीरम से किया जाता है, वह भी सांपों के जहर से ही बनता है।

सांपों का जहर एकत्र करना भी कोई मामूली काम नहीं है। एक सांप से पर्याप्‍त मात्रा में जहर नहीं निकाला जा सकता, जिसकी जरूरत दवाओं, एंटी-वेनम सीरम आद‍ि के लिए किया जाता है। वन विभाग के अधिकारियों के मुताबिक, 1 लीटर सांपों का जहर इकट्ठा करने के लिए करीब 200 कोबरा की जरूरत पड़ती है। बाजार में इनकी खूब मांग होती है और तस्‍कर इसके लिए लाखों-लाखों की डील करते हैं। इसलिए इंसानी जान के दुश्‍मन सांपों को देखकर डर स्‍वाभाविक है, लेकिन जहरीले पदार्थों और एजांइम्स के खतरनाक मेल से इनके जहर में कई ऐसे औषधीय गुण भी हैं, जो इंसानों की जान बचाने वाला साबित होता है।

Times Now Navbharat पर पढ़ें Viral News in Hindi, साथ ही Hindi News के ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर