खूब लड़ी मर्दानी, वो तो झांसी वाली रानी थी...रानी लक्ष्मीबाई के प्रसिद्ध नारे आज भी भर देते हैं जोश

Jhansi Ki Rani Famous Slogan:झांसी की रानी की वीरता के किस्से आज भी बड़े जोश के साथ सुनाए जाते हैं और आज भी उनकी बहादुरी और दिलेरी की मिसाल दी जाती है, उनके कुछ अहम नारे और कोट्स सुनकर लोगो में जोश आ जाता है।

Jhansi ki Rani
झांसी की रानी की वीरता के किस्से आज भी बड़े जोश के साथ सुनाए जाते हैं 

नई दिल्ली: झांसी की रानी लक्ष्मीबाई का जन्म वाराणसी में 19 नवंबर 1828 में हुआ था। बचपन में उनका नाम मणिकर्णिका था। सब उनको प्यार से 'मनु' कहकर पुकारा करते थे। उन्होंने सिर्फ 29 वर्ष की उम्र में अंग्रेज साम्राज्य की सेना से युद्ध किया और रणभूमि में वीरगति को प्राप्त हुईं। बताया जाता है कि लक्ष्मीबाई सिर पर तलवार के वार से शहीद हुई थी।
            
भारतीय इतिहास में अपने सौंदर्य, शौर्य और साहस की प्रतीक रानी लक्ष्मीबाई केवल महिलाओं ही नहीं पुरुषों के लिए भी प्रेरणा स्रोत मानी जाती हैं उनको कुछ खास कोट्स, स्लोगन बहादुरी और शौर्य की मिसाल हैं, यहां हम कुछ ऐसे ही उनके विचार रख रहे हैं-

रानी लक्ष्मी बाई के प्रसिद्ध वचन (Jhansi Ki Rani Slogans)-

  •  "मै अपने झांसी का आत्म समर्पण नही होने दूंगी"
  • 'मैदाने जंग मे मारना है , फिरंगी से नही हारना है' 
  •  'मेरे स्वर्गीय पति ने शान्ति की कला पर अपना ध्यान समर्पित किया' 
  • 'हम सब एक साथ ग्वालियर मे अंग्रेजों पर हमला करेंगे '
  • 'हम स्वयं को तैयार कर रहे है , यह अंग्रेजो से लड़ने के लिए बहुत महत्वपूर्ण है '
  • 'यह सभी को पता है ये अंग्रेज , सभी धर्म के खिलाफ है ' 
  • 'यदि युद्ध के मैदान मे हार गये और मारे गए तो निश्चित रूप से मोक्ष प्राप्त करेंगे '
  • 'हम आजादी के लिए लड़ते है अगर कृष्ण के शब्दो मे कहें तो , हम विजयी होंगे तो विजय के फल का आनन्द लेंगे'
     

रानी लक्ष्मी बाई से जुड़े खास कोट्स (Rani Lakshmi Bai Quotes)-

दूर फिरंगी को करने की सबने मन में ठानी थी,
चमक उठी सन सत्तावन में वह तलवार पुरानी थी
बुंदेले हरबोलों के मुँह हमने सुनी कहानी थी,
खूब लड़ी मर्दानी वो तो झाँसी वाली रानी थी।

मातृभूमि के लिए झांसी की रानी ने जान गवाई थी,
अरि दल कांप गया रण में, जब लक्ष्मीबाई आई थी।

हर औरत के अंदर है झाँसी की रानी,
कुछ विचित्र थी उनकी कहानी
मातृभूमि के लिए प्राणाहुति देने को ठानी,
अंतिम सांस तक लड़ी थी वो मर्दानी।

रानी लक्ष्मी बाई लड़ी तो,
उम्र तेईस में स्वर्ग सिधारी
तन मन धन सब कुछ दे डाला,
अंतरमन से कभी ना हारी।

मुर्दों में भी जान डाल दे,
उनकी ऐसी कहानी है
वो कोई और नहीं,
झांसी की रानी हैं

अपने हौसले की एक कहानी बनाना,
हो सके तो खुद को झांसी की रानी बनाना।


Rani Lakshmi Bai Slogans in English-

  • 'If defeated and killed on the field of battle, we shall surely earn eternal glory and salvation'
  • 'We fight for independence, In the words of Lord Krishna we will, if we are victorious, enjoy the fruits of victory'
  • 'I conjure the Hindus in the name of Gunga, Tollsee and Salikram, and the Mahomedans by the name of God and the Koran and entreat them to join us in destroying the English for their mutual welfare'
  • 'They endeavoured to contaminate the Hindu and Mohamadan religions by the production and circulation of religious books through the medium of missionaries'
  • 'We are preparing our forces, It is very important to fight the English'
  • 'My late husband devoted his attention to the art of Peace, and not to keeping up even the semblance of a warlike state'
     

Times Now Navbharat पर पढ़ें Viral News in Hindi, साथ ही Hindi News के ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर