9 महीने में 14 बार प्लाज्मा डोनेट कर चुका है ये शख्स, दोस्त बुलाने लगे हैं प्लाज्मा बैंक

ट्रेंडिंग/वायरल
Updated May 14, 2021 | 23:36 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

Ajay Munot: पुणे के अजय मुनोत बार-बार प्लाज्मा दान कर कई लोगों की जान बचाने का काम कर रहे हैं। उन्होंने अभी तक 9 महीने में 14 बार प्लाज्मा डोनेट कर दिया है।

ajay munot
अजय मुनोत 

नई दिल्ली: कोरोना वायरस की दूसरी लहर ने देश में हाहाकार मचा दिया है। जहां हजारों लोग अपनी जान बचाने के लिए संघर्ष कर रहे हैं, वहीं कुछ दूसरों को बचाने के लिए अपनी जान दांव पर लगाने से भी नहीं कतरा रहे हैं। ऐसे ही एक कोरोना योद्धा हैं जो कि पुणे से हैं। पुणे के अजय मुनोत ने प्लाज्मा डोनेट करने का रिकॉर्ड बनाया है। उन्होंने 9 महीने में 14 बार प्लाज्मा डोनेट किया है।

50 साल के मुनोत रणनीतिक सलाहकार के रूप में काम करते हैं। उन्होंने अब तक 14 बार प्लाज्मा दान किया है। अजय मुनोत के इस नेक काम के कारण कई लोगों की जान बचाई जा सकी है। किसी व्यक्ति द्वारा 14 बार प्लाज्मा डोनेट करने का यह पहला मामला है। 'इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड्स' ने भी अजय मुनोत के दावे को सही पाया है और उन्हें सर्टिफिकेट दिया है।

मुनोत जुलाई 2020 में कोरोना वायरस से संक्रमित हो गए थे। इस दौरान उन्हें कोविड-19 केयर सेंटर में भर्ती कराया गया था। कोरोना को हराने के बाद वह लगातार लोगों की मदद के लिए प्लाज्मा दान करते रहे। पिछले 9 महीने में वह करीब 14 बार ब्लड बैंक को प्लाज्मा डोनेट कर चुके हैं। मुनोत का कहना है कि जब तक शरीर में एंटीबॉडीज बनेंगी तब तक वह प्लाज्मा डोनेट करते रहेंगे। अजय के करीबी दोस्त और रिश्तेदार अब उन्हें प्लाज्मा बैंक बुला रहे हैं। 

उनका कहना है कि जब वह कोरोनो वायरस को हराने के बाद घर आए, तो उन्होंने सोशल मीडिया पर लोगों से प्लाज्मा के लिए विनती करते हुए देखा। फिर उन्होंने एक गरीब परिवार के लिए पहला प्लाज्मा दान किया। प्लाज्मा डोनेट कर अजय उस गरीब परिवार की मां की जान बचा सके। अजय का कहना है कि उन्हें प्लाज्मा डोनेशन से कोई दिक्कत नहीं हुई है और जब तक एंटीबॉडीज बनते रहेंगे, वह प्लाज्मा डोनेट करते रहेंगे।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर