PAK मॉडल ने किया करतारपुर साहिब का अपमान, फोटोशूट पर बवाल के बाद मांगी माफी

करतारपुर साहिब से एक पाकिस्‍तानी मॉडल की तस्‍वीर को लेकर सोशल मीडिया पर बवाल पैदा हो गया, जिसके बाद पाकिस्‍तान के मंत्री को भी दखल देना पड़ा। पुलिस ने जहां मामले की जांच की बात कही है, वहीं मॉडल ने इसे लेकर माफी मांगी है।

PAK मॉडल ने किया करतारपुर साहिब का अपमान, फोटोशूट पर बवाल के बाद मांगी माफी
PAK मॉडल ने किया करतारपुर साहिब का अपमान, फोटोशूट पर बवाल के बाद मांगी माफी  |  तस्वीर साभार: Twitter

इस्‍लामाबाद/नई दिल्‍ली : पाकिस्‍तान में एक मॉडल करतार स्थित गुरुद्वारा दरबार साहिब पर 'फोटोशूट' को लेकर सोशल मीडिया पर इसे लेकर बवाल इस कदर पैदा हुआ कि पाकिस्‍तान के सूचना मंत्री फवाद चौधरी को इस मामले में दखल देना पड़ा। उन्‍होंने मॉडल से सिख समुदाय से माफी मांगने को कहा। दरअसल, मॉडल की जो तस्‍वीरें सामने आई हैं, उनमें वह करतारपुर साहिब के बाहर बिना सिर ढके देखी जा रही है, जिसे लेकर सिख समुदाय में भारी नाराजगी है।

बवाल बढ़ता देख पाकिस्‍तानी मॉडल सौलेहा ने माफी मांगी और इंस्‍टाग्राम से अपनी उन तस्‍वीरों को डिलीट कर दिया। हालांकि तब तक यह सोशल मीडिया के कई प्‍लेटफॉर्म्‍स पर शेयर हो चुकी थी।

कपड़े के ब्रांड 'मन्‍नत क्‍लोथिंग' ने सोमवार को सौलेहा की तस्‍वीरें अपने इंस्‍टाग्राम पेज पर शेयर की थीं, जिसके बाद भारत में शिरोमणि अकाली दल के प्रवक्‍ता मनजिंदर सिंह सिरसा तथा अन्‍य इंटरनेट यूसर्ज ने इस पर आपत्ति जताई कि करतारपुर साहिब के सामने मॉडल ने अपना सिर नहीं ढका है। यह करतार साहिब का अपमान और सिखों की धार्मिक भावना को आहत करने वाला है।

इस मसले पर बवाल इतना बढ़ा कि पाकिस्‍तान के सूचना मंत्री फवाद चौधरी ने भी डिजाइन और मॉडल से सिख समुदाय से माफी मांगने को कहा। उन्‍होंने ट्विटर पर लिखा, 'करतारपुर साहिब एक धार्मिक प्रतीक है, न कि फिल्‍म का सेट।'

वहीं, पाकिस्‍तान पुलिस ने भी इस दिशा में जांच शुरू कर दी है। पुलिस का कहना है कि वह सभी पहलुओं से मामले की जांच कर रही है और दोषियों के खिलाफ सख्‍त कार्रवाई की जाएगी।

बढ़ते बवाल के बीच मॉडल और ड‍िजाइनर ने स्‍पष्‍ट किया है कि तस्‍वीरें फोटोशूट का हिस्‍सा नहीं थी। मॉडल ने अपने इंस्‍टाग्राम से जहां इन तस्‍वीरों को डिलीट कर दिया, वहीं 'Sorry' के साथ एक नोट भी अपने इंस्‍टाग्राम पर शेयर किया।

मॉडल ने लिखा, 'हाल ही में मैंने इंस्टाग्राम पर एक तस्वीर पोस्ट की जो किसी शूट या किसी चीज का हिस्सा भी नहीं थी। मैं इतिहास जानने और सिख समुदाय के बारे में जानने के लिए करतारपुर गई थी। यह किसी की भावनाओं आहत करने या ऐसे किसी अन्‍य चीज के लिए नहीं था। हालांकि अगर मैंने किसी को चोट पहुंचाई है या उन्हें लगता है कि मैं वहां की संस्कृति का सम्मान नहीं करती हूं तो मैं माफी चाहती हूं।'

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर