West Bengal: ‘जय श्री राम' और ‘खेला होबे'.. मिठाईयों पर लिखे जा रहे ये नारे, दिलचस्प हुई बंगाल की लड़ाई

West Bengal Sweet Shops: सफेद और हरे रंग की ‘संदेश’ मिठाई पर ‘खेला होबे’ लिखा है जबकि सफेद और नारंगी रंग की संदेश मिठाई पर ‘जय श्री राम’ लिखा है।

sweets west bengal
भाजपा और तृणमूल कांग्रेस के प्रतीक चिह्न से जुड़ी अन्य मिठाइयों की भी बिक्री की जा रही है 

कोलकाता: पश्चिम बंगाल में कड़े चुनावी मुकाबले का असर मिठाई की दुकानों पर भी दिख रहा है। मौसम के मिजाज को देखते हुए राज्य की लोकप्रिय दुकानों में 'खेला होबे', 'जय श्री राम' के नारे लिखी मिठाइयों की बिक्री की जा रही हैं।कोलकाता की चर्चित मिठाई दुकानों में शुमार 'बलराम मलिक राधारमण मलिक' ने खास 'संदेश' तैयार किया है जिस पर दोनों नारे लिखे हुए हैं।

'खेला होबे' तृणमूल कांग्रेस का नारा है जबकि भाजपा अपने प्रचार अभियान के दौरान 'जय श्री राम' का उद्घोष करती है।दुकान के मालिक सुदीप मलिक ने बताया, 'संबंधित दल अपने-अपने नारे के हिसाब से संदेश मिठाई की खरीददारी कर रहे हैं।' उन्होंने कहा कि ‘मोदी संदेश’ और 'दीदी संदेश' मिठाई पर दोनों नेताओं की छवि भी उकेरी गयी है।

नामी शॉप 'फेलू मोदक' भी इस तरह की मिठाइयां बेच रही है

भाजपा और तृणमूल कांग्रेस के प्रतीक चिह्न से जुड़ी अन्य मिठाइयों की भी बिक्री की जा रही है। रिशरा में मिठाई की एक और नामी दुकान 'फेलू मोदक' भी इस तरह की मिठाइयां बेच रही है।

दुकान के मालिकों में एक अमिताभ डे ने कहा, 'खेला होबे थीम पर संदेश बेचने के फैसले के पीछे कोई राजनीतिक मंशा नहीं है। हम चाहते हैं कि लोग इस नारे से जुड़ें।'

सफेद, हरा और नारंगी रंग की संदेश मिठाई पर 'खेला होबे' 

उन्होंने कहा कि सफेद, हरा और नारंगी रंग की संदेश मिठाई पर 'खेला होबे' का नारा लिखा हुआ है। आकार के हिसाब से चॉकलेट, स्ट्रॉबेरी और आम के स्वाद वाले 'संदेश' की कीमत 40 रुपये से 100 रुपये के बीच है। डे ने कहा, 'हमें उम्मीद है कि राजनीतिक दलों के समर्थकों के अलावा आम लोग भी इन मिठाइयों को पसंद करेंगे।'
 

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर