[VIDEO] "आकाश से बिजली" कैसै गिरती है, क्या है इससे बचने के उपाय, क्या करें क्या नहीं जानें सब

Tips to avoid lightning:बारिश का मौसम है ऐसे में अक्सर आकाश से बिजली (lightning from sky) गिरने की घटनाएं सामने आती हैं जिनसे जान-माल का नुकसान होता है, जानें इससे बचने के तरीके...

Lightning Facts
आकाशीय बिजली बहुत नुकसान पहुंचाती है 

मुख्य बातें

  • मोबाइल पर बात कर रहे हैं तो सावधान, यह जानलेवा साबित हो सकता है
  • घर में चल रहे टीवी, फ्रिज आदि उपकरणों को बंद कर दें।
  • अपनी कार आदि वाहन में है तो उसी में ही रहें लेकिन बाइक से दूर हो जाएं

नई दिल्ली: राजस्थान और यूपी में आकाशीय बिजली गिरने से बड़ा हादसा हो गया है, अक्सर बारिश के मौसम में आकाशीय बिजली गिरने की घटनाएं सामने आती रहती हैं क्या आपने जाना कि आकाश से बिजली (Lightning) क्यों गिरती हैं, क्या है इसके पीछे की वजह और कैसे इससे बचें ये जानने की कोशिश करते हैं।

बारिश के मौसम में अक्सर बादलों में बिजली चमकती है और जमीन पर गिरती भी है जो कि अक्सर नुकसानदेह भी होती है कहा जाता है कि अगर आप इसकी चपेट में आ गए तो जान भी जा सकती है नहीं तो बुरी तरह से घायल हो जायेंगे, इससे बचने के लिए कुछ सलाहें दी जाती हैं जिनका पालन अपनी सुरक्षा के लिए करना चाहिए।

क्यों गिरती है आकाशीय बिजली?

बिजली गिरना असल में स्थैतिक ऊर्जा का निकलना होता है जब धरती और बादलों के बीच विद्युत चार्ज बिगड़ जाता है, आसमान में बहुत बड़ा इलेक्ट्रिक स्पार्क है, मीनार, ऊंचे पेड़, घर या इंसान जब पॉजिटिव चार्ज हो जाते हैं तब उससे पॉजिटिव इलेक्ट्रिसिटी निकलकर ऊपर की ओर जाती है, इसे स्ट्रीमर कहते हैं बादल के निचले हिस्से में मौजूद निगेटिव चार्ज स्ट्रीमर की ओर आकर्षित होता है, जिससे बिजली धरती पर गिरती है। यही कारण है कि ऊंची चीजों पर बिजली गिरने की संभावना अधिक रहती है।

खुले आसमान, हरे पेड़ के नीचे और पानी के करीब वालों को ज्यादा खतरा

आकाशीय बिजली ज्यादातर बरसात के दिनों में गिरती है। इसकी चपेट में वो लोग आते हैं जो खुले आसमान के नीचे, हरे पेड़ के नीचे होते हैं, पानी के करीब होते हैं या फिर बिजली और मोबाइल के टॉवर के नजदीक होते हैं।

आकाश से बिजली मनुष्य के सिर, गले और कंधों को सबसे ज्यादा प्रभावित करती है, दोपहर के वक्त इसके गिरने की संभावना ज्यादा होती है।

आकाशीय बिजली (Lightning) से बचने के लिए क्या करें-
-------------------------------------------------------------

  • ऊंची इमारतों वाले क्षेत्रों में शरण नहीं लें क्योंकि वहां वज्रपात का खतरा ज्यादा होता है।
  • यदि किसी खुले स्थान में हैं तो तत्काल किसी पक्के मकान की शरण ले लें
  • मोबाइल पर बात कर रहे हैं तो सावधान, यह जानलेवा साबित हो सकता है
  • अपनी कार आदि वाहन में है तो उसी में ही रहें लेकिन बाइक से दूर हो जाएं क्योंकि उसमें पैर जमीन पर रहते हैं
  • लोहे के पिलर वाले पुल के आसपास तो बिल्कुल नहीं जाएं
  • घर में चल रहे टीवी, फ्रिज आदि उपकरणों को बंद कर दें
  •  तालाब,जलाशयों और स्विमिंग पूल से दूरी बनाएं
  • ग्रुप में न खड़े हों बल्कि दूर-दूर खड़े हों ध्यान दें कि आसपास बिजली या टेलीफोन के तार नहीं हों

वीडियो साभार-DiscoverFact_You Tube 

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर